TMC विधायक अमीरुल इस्लाम अपनी ही पार्टी नेता के 2 बच्चों की करवा रहे थे किडनैपिंग! लगा गंभीर आरोप

"विधायक मौका-ए-वारदात पर मौजूद नहीं थे इसलिए उनका नाम नहीं लिया गया है। लेकिन, मै जानता हूं कि इसका मास्टरमाइंड वही हैं।”

पश्चिम बंगाल में ममता बनर्जी की पार्टी तृणमूल कॉन्ग्रेस के मुर्शिदाबाद जिले के पदाधिकारी अनारुल हक ने शुक्रवार को अपनी ही पार्टी के विधायक पर बेटों को किडनैप करने की कोशिश का आरोप लगाया। अनारूल हक ने गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि स्थानीय विधायक ने उस वक्त सुबह उनके 11 वर्षीय और 14 वर्षीय बेटे को किडनैप करने की कोशिश की, जब उन दोनों को मेरा एक कर्मचारी मोटरसाइकिल से स्कूल लेकर जा रहा था। अपहरण की यह कोशिश धुलियां टाउन में हुई जहां पर अनारूल हक का परिवार रहता है।

लाइव हिंदुस्तान में छपी खबर के अनुसार हक ने इस मामले में छह लोगों के खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है। उन्होंने बताया कि किडनैप करने वाले उस वक्त भाग गए, जब बच्चों ने शोर मचाया। हक ने आरोप लगाया कि ये सभी छह लोग शमशेरगंज विधान सभा के तृणमूल विधायक अमीरुल इस्लाम से जुड़े हुए हैं। इस घटना के बाद हक के समर्थकों ने शमशेरगंज पुलिस स्टेशन के पास सड़क को बंद कर विरोध दर्ज कराया।

अमीरुल इस्लाम तृणमूल की यूथ विंग की जिला ईकाई के अध्यक्ष भी हैं। आरोपी विधायक ने कहा – “यह आरोप पूरी तरह से बेबुनियाद है। अनारुल हक हमारी पार्टी को बदनाम करने की कोशिश कर रहे हैं। इसके पीछे उनका कुछ छिपा हुआ एजेंडा है।”

- विज्ञापन - - लेख आगे पढ़ें -

अनारूल हक जो जिला परिषद के स्वास्थ्य एवं पर्यावरण विभाग प्रमुख हैं, ने कहा- “मेरे दोनों बच्चों को मेरा एक कर्मचारी बाइक पर स्कूल लेकर जा रहा था। इस्लाम के छह लोग एक कार से आए और डाक बांग्लो इंटरसेक्शन के पास बाइक का रास्ता रोक दिया। उन्होंने मेरे बेटे का अपहरण की कोशिश की और कर्मचारी से कहा कि उन बच्चों को तब वापस किया जाएगा जब वे इस्लाम को दस लाख रुपए की फिरौती देंगे।”

हक ने कहा- “इस्लाम के लोग रफीकुल, नवाज, लतीफ, सैदुल और दो अन्य उस कार में सवार थे। मैंने पुलिस शिकायत दर्ज कराई है।” हक ने हालाँकि शिकायत में विधायक का नाम नहीं लिया है। जब उनसे इस विषय में सवाल किया गया तो उन्होंने इसके उत्तर में कहा – “विधायक मौका-ए-वारदात पर मौजूद नहीं थे इसलिए उनका नाम नहीं लिया गया है। लेकिन, मै जानता हूं कि इसका मास्टरमाइंड वही हैं।”

शेयर करें, मदद करें:
Support OpIndia by making a monetary contribution

बड़ी ख़बर

मोदी, उद्धव ठाकरे
इस मुलाकात की वजह नहीं बताई गई है। लेकिन, सीएम बनने के बाद दिल्ली की अपनी पहली यात्रा पर उद्धव ऐसे वक्त में आ रहे हैं जब एनसीपी सुप्रीमो शरद पवार के साथ अनबन की खबरें चर्चा में हैं। इससे महाराष्ट्र में राजनीतिक सरगर्मियॉं अचानक से तेज हो गई हैं।

सबसे ज़्यादा पढ़ी गईं ख़बरें

ताज़ा ख़बरें

हमसे जुड़ें

153,901फैंसलाइक करें
42,179फॉलोवर्सफॉलो करें
179,000सब्सक्राइबर्ससब्सक्राइब करें

ज़रूर पढ़ें

Advertisements
शेयर करें, मदद करें: