Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाज5 बीवियों वाले दिलशाद खान ने ठगा 50 महिलाओं को: AIIMS में नौकरी लगवाने...

5 बीवियों वाले दिलशाद खान ने ठगा 50 महिलाओं को: AIIMS में नौकरी लगवाने का देता था लालच

जाँच में खुलासा हुआ है कि गैंग लीडर दिलशाद खान की पाँच बीवियाँ हैं और उसने उनके भारी खर्चें उठाने के लिए ही लोगों को छलना शुरू किया।

मध्य प्रदेश में स्पेशल टास्क फोर्स ने एक गैंग का पर्दाफाश किया है। ये गैंग अब तक 50 से अधिक महिलाओं को एम्स में नौकरी दिलवाने के बहाने ठग चुका है। जानकारी के अनुसार कुछ दिन पहले मध्य प्रदेश में पुलिस को एक शिकायत मिली। इस शिकायत में था कि कुछ लोग मिलकर महिलाओं को नर्स की नौकरी का लालच देकर उनसे पैसे हड़प रहे हैं। बाद में ये मामला एसटीएफ को सौंपा गया।

जाँच हुई तो पता चला कि यह एक गैंग है, जिसके लीडर का नाम दिलशाद खान है और वह जबलपुर का निवासी है। जबकि उसका साथी आलोक कुमार भोपाल का रहने वाला है।

मीडिया से बातचीत में स्पेशल टास्क फोर्स के ADG अशोक अवस्थी ने बताया, “ये गैंग अब तक 50 से ज्यादा महिलाओं को AIIMS में बतौर नौकरी दिलाने का झाँसा दे चुका है।” जाँच में खुलासा हुआ है कि गैंग लीडर दिलशाद खान की पाँच बीवियाँ हैं और उसने उनके भारी खर्चें उठाने के लिए ही लोगों को छलना शुरू किया।

खान ने पूछताछ में बताया कि उसकी एक बीवी जबलपुर में एक प्राइवेट क्लिनिक चलाती है, जबकि दूसरे आरोपित आलोक कुमार की पत्नी सरकारी गर्ल्स हॉस्टल में सुप्रीटेंडेंट हैं। हालाँकि इन दोनों महिलाओं का अभी तक इस केस से कोई सीधा संबंध है या नहीं, इसका पता नहीं चला है। लेकिन फिर भी उनसे इस मामले के संबंध में पूछताछ करने की संभावना है।

एसटीएफ के अनुसार, ये गैंग उन पढ़ी लिखी महिलाओं को अपना शिकार बनाते थे, जिन्हें नौकरी की जरूरत होती थी। अब फिलहाल पुलिस गाँव और शहरों में उन महिलाओं को ढूँढने के लिए प्रयासरत हैं, जिन्हें इस गैंग ने बेवकूफ बनाया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

धर्मांतरण कराने आए ईसाई समूह को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, छत्तीसगढ़ की गवर्नर का CM को पत्र- जबरन धर्म परिवर्तन पर हो एक्शन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में ग्रामीणों ने ईसाई समुदाय के 45 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया। यह समूह देर रात धर्मांतरण कराने के इरादे से पहुँचा था।

सूरत में मंदिरों-घर की छत पर लाउडस्पीकर, सुबह-शाम हनुमान चालीसा; शनिवार को सत्संग भी: धर्म के लिए हिंदू हुए लामबंद

सूरत में आठ महीने पहले लाउडस्पीकर पर हनुमान चालीसा की हुई शुरुआत ने कैसे हिंदुओं को जोड़ा, इसका संदेश कितना गहरा हुआ, पढ़िए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,980FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe