Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाजबिहार में 60 संक्रमित: कोरोना का हॉटस्पॉट बना सीवान, एक ही परिवार के 23...

बिहार में 60 संक्रमित: कोरोना का हॉटस्पॉट बना सीवान, एक ही परिवार के 23 पॉजिटिव

सीवान के इस परिवार का एक व्यक्ति 16 मार्च को ओमान से लौटा था। 4 अप्रैल को उसे कोरोना पॉजिटिव पाया गया। ओमान से आने के बाद वह होम क्वारंटाइन में रहने की जगह गाँव में घूमता और लोगों से मिलता रहा, जिसके चलते बीमारी फैली।

बिहार के स्वास्थ्य विभाग ने दो और लोगों में कोरोना वायरस की पुष्टि कर दी है। दोनों ही सीवान के रहने वाले हैं। इनमें एक 28 साल का नौजवान है, जबकि दूसरी 10 साल की बच्ची है। ये दोनों भी ओमान से लौटे कोरोना पॉजिटिव युवक के परिवार से हैं। अभी के आँकड़े मिलाकर सिर्फ इस परिवार के 23 सदस्य कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं। इसी के साथ बिहार में कोरोना के कुल मरीजों की तादाद बढ़कर 60 हो गई है।

बिहार में पिछले 24 घंटे के भीतर कोरोना के 17 नए पॉजिटिव केस पाए गए हैं, जिसके बाद राज्य में हड़कंप मच गया है। बिहार का सीवान जिला अब कोरोना का हॉटस्पॉट बन गया है। शुक्रवार की सुबह आई जाँच रिपोर्ट में इसी जिले के दो केस पॉजिटिव मिले हैं जो रघुनाथपुर प्रखंड के उसी गाँव से जुड़े हैं जहाँ के एक मरीज की ट्रैवल हिस्ट्री ओमान की है। 

इसके साथ ही सिर्फ सीवान जिले में ही कोरोना के कुल 29 मामले पॉजिटिव पाए गए हैं जिसमें से 23 एक ही परिवार के हैं। हालाँकि इनमें से चार लोग ठीक हो चुके हैं, लेकिन फिलहाल उन्हें होम क्वारंटाइन में रखा गया है। परिवार के अन्य 10 सदस्यों के कोरोना टेस्ट का रिजल्ट आना अभी बाकी है। नए संक्रमितों में 10 साल की एक बच्ची और 28 साल का एक पुरुष है। 

बता दें कि यह व्यक्ति 16 मार्च को ओमान से लौटा था और 4 अप्रैल को उसे कोरोना पॉजिटिव पाया गया। ओमान से आने के बाद वह होम क्वारंटाइन में रहने की जगह गाँव में घूमता और लोगों से मिलता रहा, जिसके चलते बीमारी फैली। गाँव के एक ही परिवार के इतने लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आने के बाद बिहार के तीन जिलों सीवान, बेगूसराय और नवादा की सीमाएंँ सील कर दी गई हैं। तेजी से सामने आ रहे मामलों के बाद मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने लोगों से अपील की है कि वो अगर कहीं बाहर से आए हैं तो अपनी ट्रैवल हिस्ट्री न छिपाएँ।

इससे पहले मंगलवार की शाम इसी गाँव के चार कोरोना संक्रमित मरीज पाए गए थे। इसमें तीन महिलाएँ और एक पुरुष शामिल हैं। पटना से सूचना मिलने के बाद सभी चार संक्रमितों को देर रात जिला प्रशासन ने बस से मुख्यालय बुलवाया और जाँच के लिए पटना भेज दिया। सीवान में अचानक इतने मामले सामने आने से लोगों के बीच दहशत फैल गई है। आशंका जताई जा रही है कि अगले कुछ दिनों में संक्रमितों का आँकड़ा तेजी से बढ़ सकता है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हम आपको नहीं सुनेंगे…’: बॉम्बे हाईकोर्ट से जावेद अख्तर को झटका, कंगना रनौत से जुड़े मामले में आवेदन पर हस्तक्षेप से इनकार

जस्टिस शिंदे ने कहा, "अगर हम इस तरह के आवेदनों को अनुमति देते हैं तो अदालतों में ऐसे मामलों की बाढ़ आ जाएगी।"

सुप्रीम कोर्ट के जस्टिस रहे मदन लोकुर से पेगासस ‘इंक्वायरी’ करवाएँगी ममता बनर्जी, जिस NGO से हैं जुड़े उसे विदेशी फंडिंग

पेगासस मामले की जाँच के लिए गठित आयोग का नेतृत्व सुप्रीम कोर्ट के पूर्व न्यायाधीश मदन लोकुर करेंगे। उनकी नियुक्ति सीएम ममता बनर्जी ने की है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,324FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe