Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजउन्नाव रेप केस के आरोपित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर बीजेपी से निलंबित

उन्नाव रेप केस के आरोपित विधायक कुलदीप सिंह सेंगर बीजेपी से निलंबित

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने बताया कि सेंगर पहले से पार्टी से निलंबित हैं और आगे भी निलंबित रहेंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी कभी भी सेंगर को बचाने के पक्ष में नहीं रही है। इसलिए उन्नाव रेप केस की जाँच सीबीआई को सौंपी गई थी।

चर्चित उन्नाव रेप मामले और अब रोड एक्सीडेंट के बाद हत्या और हत्या के प्रयास में भी आरोपित बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को पार्टी ने निलंबित कर दिया है। रेप केस में आरोपों में घिरे कुलदीप सिंह सेंगर को लेकर पार्टी की काफी फजीहत हो रही थी और विपक्षी राजनीतिक दलों की तरफ से भी दबाव बनाया जा रहा था।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, भाजपा प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्र देव सिंह ने बताया कि सेंगर पहले से ही पार्टी से निलंबित चल रहे हैं और आगे भी निलंबित रहेंगे। उन्होंने कहा कि पार्टी कभी भी सेंगर को बचाने के पक्ष में नहीं रही है। इसलिए उन्नाव रेप केस की जाँच सीबीआई को सौंपी गई थी।

बीजेपी की इस कार्रवाई से पहले कल ही उन्नाव रेप केस की पीड़िता के रायबरेली के गुरबख्शगंज में एक ट्रक के पीड़िता की कार को टक्कर मारने के मामले में उनके खिलाफ हत्या, हत्या के प्रयास और आपराधिक साजिश जैसी कई धाराओं में केस दर्ज किया गया था। रोड एक्सीडेंट के मामले में भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर, उनके भाई मनोज सिंह सेंगर और 8 अन्य के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई थी।

फिलहाल, सेंगर और उनका भाई मनोज पहले से ही जेल में हैं। रेप पीड़िता के चाचा की तहरीर पर कुलदीप सिंह सेंगर समेत 10 नामजद और 15-20 अज्ञात लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 302, 307, 506, 120B के तहत यह मुकदमा दर्ज किया गया है। FIR में कुलदीप सिंह सेंगर, मनोज सिंह सेंगर, विनोद मिश्र, हरिपाल मिश्र, नवीन सिंह, कोमल सिंह, अरुण सिंह, ज्ञानेन्द्र सिंह, रिंकू सिंह और एडवोकेट अवधेश सिंह समेत 15-20 अन्य अज्ञात लोगों के खिलाफ हत्या और हत्या के प्रयास का मुकदमा दर्ज हो चुका है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

धर्मांतरण कराने आए ईसाई समूह को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, छत्तीसगढ़ की गवर्नर का CM को पत्र- जबरन धर्म परिवर्तन पर हो एक्शन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में ग्रामीणों ने ईसाई समुदाय के 45 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया। यह समूह देर रात धर्मांतरण कराने के इरादे से पहुँचा था।

प्रतिकार का आरंभ: 8 महीने से सूरत में लाउडस्पीकर पर सुबह-शाम बजती है हनुमान चालीसा, सत्संग भी हर शनिवार

स्थानीयों का कहना कि अन्य मजहब के लोग प्रार्थना समय में लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करते हैं और किसी भी उठने वाली आपत्ति का मजाक बनाकर उसे नीचा दिखाते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,980FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe