Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजलड़का बन 'वो' करती थी चैट, खुद के गैंगरेप की बात से Bois Locker...

लड़का बन ‘वो’ करती थी चैट, खुद के गैंगरेप की बात से Bois Locker Room का किया पर्दाफाश – मीडिया रिपोर्ट

दिल्ली पुलिस साइबर सेल की टीम ने बॉयज लॉकर रूम (Boys Locker Room/Bois Locker Room) मामले में एक बड़ा खुलासा किया है। खुलासा यह कि जो स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे थे, जिनमें एक लड़की के साथ गैंगरेप की योजना बनाने की बात कही गई थी, उसका मास्टरमाइंड कोई लड़का नहीं बल्कि एक नाबालिग लड़की है।

पिछले कई दिनों से चर्चा के साथ विवाद का विषय बने बॉयज लॉकर रूम (Boys Locker Room/Bois Locker Room) मामले में दिल्ली पुलिस की साइबर सेल की टीम ने एक बड़ा खुलासा किया है। पुलिस टीम ने खुलासा किया कि जो स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे थे, जिनमें एक लड़की के साथ गैंगरेप की योजना बनाने की बात कही गई थी, उसका मास्टरमाइंड कोई लड़का नहीं बल्कि एक नाबालिग लड़की है।

दरअसल लड़की ने एक लड़के के नाम से फर्जी एकाउंट बनाकर और उनके साथ गैंगरेप की योजना के बारे में बात इसलिए की थी, जिससे कि वह उन लड़कों की लड़कियों के प्रति मानसिकता के बारे में पता लगा सके।

ज़ी न्यूज़ के पत्रकार जितेन्द्र शर्मा द्वारा दी गई जानकारी के मुताबिक बॉयज लॉकर रूम (Boys Locker Room/Bois Locker Room) मामले की जाँच में पता चला है कि लड़की ने सिद्धार्थ नाम के लड़के के नाम से फर्जी ID बनाई और SexualAssault की बात की। जबकि लड़के ने खुद इस बात की जानकारी बाकी लड़कों और जिसके बारे में बात हुई, उसे दी। लड़की ने शिकायत इसलिए नहीं की क्योंकि फर्जी आईडी से बात वही कर रही थी।

जितेन्द्र शर्मा द्वारा सोशल मीडिया पर दी गई जानकारी में बताया गया है कि लड़की ने सिद्धार्थ नाम के लड़के से एक फर्जी आईडी बनाकर दूसरे लड़कों के साथ चैट की। दरअसल लड़की के चैट करने का उद्देशय अपनी जैसी लड़की के बारे में लड़कों की सोच को जानना था।

पुलिस उपायुक्त (साइबर सेल) एनेश रॉय ने बताया कि इस तरह के संदेश मिलने पर लड़के (संदेश प्राप्त करने वाले) ने बात करने से इनकार कर दिया। फिर उस लड़के ने बातचीत के स्क्रीनशॉट लेकर अपने दूसरे दोस्तों को भेजे, जिसमें वह लड़की भी शामिल थी, जिसने सिद्धार्थ नाम की फर्जी आईडी बनाकर संदेश भेजा था। उन्होंने कहा कि लड़की ने यह जानते हुए भी कि उसे यौन उत्पीड़न की सलाह देने वाला सिद्धार्थ नाम का एकाउंट फर्जी है, उसने किसी को बताना जरूरी नहीं समझा।

हालाँकि इसके बाद लड़की ने फर्जी एकाउंट को डिलीट कर दिया, लेकिन इससे पहले ही बातचीत के स्क्रीनशॉट सोशल मीडिया पर वायरल हो गए। बॉयज लॉकर रूम (Boys Locker Room/Bois Locker Room) ग्रुप की सारी चैट सोशल मीडिया में पब्लिक प्लेटफॉर्म पर आने के बाद दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने आईटी एक्ट के तहत मामला दर्ज कर इसकी जाँच शुरू की दी और नोएडा निवासी ग्रुप के एडमिन को गिरफ्तार कर लिया।

दिल्ली साइबर सेल की जाँच में सामने आया कि सोशल मीडिया के प्लेटफॉर्म इंस्टाग्राम पर बने बॉयज लॉकर रूम में 20 से ज्यादा सदस्य आपस में चैट कर रहे थे। आपको बता दें कि इस मामले से जुड़े 24 लोगों से पुलिस पूछताछ कर चुकी है।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बांग्लादेश का नया नाम जिहादिस्तान, हिन्दुओं के दो गाँव जल गए… बाँसुरी बजा रहीं शेख हसीना’: तस्लीमा नसरीन ने साधा निशाना

तस्लीमा नसरीन ने बांग्लादेश में हिंदुओं पर कट्टरपंथी इस्लामियों द्वारा किए जा रहे हमले पर प्रधानमंत्री शेख हसीना पर निशाना साधा है।

पीरगंज में 66 हिन्दुओं के घरों को क्षतिग्रस्त किया और 20 को आग के हवाले, खेत-खलिहान भी ख़ाक: बांग्लादेश के मंत्री ने झाड़ा पल्ला

एक फेसबुक पोस्ट के माध्यम से अफवाह फैल गई कि गाँव के एक युवा हिंदू व्यक्ति ने इस्लाम मजहब का अपमान किया है, जिसके बाद वहाँ एकतरफा दंगे शुरू हो गए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,824FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe