Thursday, September 23, 2021
Homeदेश-समाजबॉयज लॉकर रूम: 17 साल के छात्र ने 11वीं मंजिल से कूद की आत्महत्या,...

बॉयज लॉकर रूम: 17 साल के छात्र ने 11वीं मंजिल से कूद की आत्महत्या, पुलिस पता लगा रही ‘कनेक्शन’

दिल्ली की साइबर सेल इस मामले की पड़ताल में लड़के का फोन जब्त कर लिया है और उसे फॉरेंसिक जाँच के लिए लैब भी भेज दिया है। साइबर सेल लड़के के सभी सोशल मीडिया अकॉउंट की भी छानबीन कर रही है। लड़के ने आत्महत्या करने से पहले कोई सुसाइड नोट...

गुरुग्राम की DLF फेज 5 के कार्ल्ट्न एस्टेट (DLF Carlton Estate) सोसायटी में 17 साल के एक नाबालिग ने 11वीं मंजिल से कूदकर कल आत्महत्या कर ली। ये मामला सेक्टर 53 थाना क्षेत्र का है। मृतक शहर के नामी स्कूल में 12वीं कक्षा का छात्र था। पुलिस संदिग्ध परिस्थितियों को देखते हुए इस मामले में जाँच कर रही है। पुलिस इस बात का भी पता लगा रही है कि कहीं बच्चे का कनेक्शन बॉयज लॉकर रूम (Boys Locker Room/Bois Locker Room) नाम के इंस्टाग्राम ग्रुप से तो नहीं था, जिसका अभी हाल में खुलासा हुआ।

जानकारी के मुताबिक दिल्ली की साइबर सेल इस मामले की पड़ताल में लड़के का फोन जब्त कर लिया है और उसे फॉरेंसिक जाँच के लिए लैब भी भेज दिया है। साइबर सेल लड़के के सभी सोशल मीडिया अकॉउंट की भी छानबीन कर रही है।

बताया जा रहा है कि लड़के ने आत्महत्या करने से पहले कोई सुसाइड नोट भी नहीं छोड़ा और लड़के के माता-पिता ने भी कहा कि इसमें किसी का कोई दोष नहीं है। मगर, फिर भी मामले की सच्चाई जानने के लिए पुलिस हर एंगल से जाँच कर रही है। फिलहाल पुलिस ने प्राथमिक कार्रवाई के बाद लड़के के शव को परिजनों को भी सौंप दिया है।

गौरतलब है कि कल दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने इंस्टाग्राम ग्रुप बॉयज लॉकर रूम (Boys Locker Room/Bois Locker Room) पर अश्लील चैट करने के मामले में 15 साल के नाबालिग लड़के को पकड़ा था। नाबालिग के अलावा इस ग्रुप केस में 20 लड़कों के और शामिल होने का मालूम चला था। पुलिस ने पहले सोशल मीडिया पर रजिस्टर फोन नंबर से लड़के के घर का पता लगाया था। फिर उसे उसके घर जाकर पकड़ा था। इस पूरे मामले में पुलिस को साउथ दिल्ली के चार स्कूल और नोएडा के एक स्कूल के बारे में पता लगा था।

बता दें अभी हाल ही में इस ग्रुप का खुलासा एक लड़की की मदद से हाल में हुआ था, जिसने सोशल मीडिया पर इस ग्रुप के कुछ स्क्रीनशॉट्स को शेयर करते हुए लिखा, “दक्षिण दिल्ली के 17-18 साल की उम्र के लड़कों का एक ग्रुप है, जिसका नाम ‘ब्वॉयज लॉकर रूम’ (Boys Locker Room/Bois Locker Room) है, जहाँ कम उम्र की लड़कियों की तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ कर आपत्तिजनक बनाया जा रहा था। मेरे स्कूल के दो लड़के इसका हिस्सा हैं।” लड़की ने इस दौरान जिन तस्वीरों को शेयर किया था, उन पर लिखे कमेंट देखकर ये अंदाजा लगाया जा सकता था कि ग्रुप के सदस्य गैंगरेप की योजना बना रहे थे और उस पर चर्चा कर रहे थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘नंगी तस्वीरें माँगता, ओरल सेक्स के लिए जबरदस्ती’: हिंदूफोबिक कॉमेडियन संजय राजौरा की करतूत महिला ने दुनिया को बताई

पीड़िता ने बताया कि वो इन सब चीजों को नजरअंदाज कर रही थी क्योंकि वह कॉमेडियन को उसके काम के लिए सराहती थी।

गुजरात में ‘लैंड जिहाद’ ऐसे: हिंदू को पाटर्नर बनाओ, अशांत क्षेत्र में डील करो, फिर पाटर्नर को बाहर करो

गुजरात में अशांत क्षेत्र अधिनियम के दायरे में आने वाले इलाकों में संपत्ति की खरीद और निर्माण की अनुमति लेने के लिए कई मामलों में गड़बड़ी सामने आई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,920FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe