Saturday, May 25, 2024
Homeसोशल ट्रेंडबॉयज लॉकर रूम मामले में दिल्ली पुलिस ने 15 साल के नाबालिग को पकड़ा,...

बॉयज लॉकर रूम मामले में दिल्ली पुलिस ने 15 साल के नाबालिग को पकड़ा, 20 अन्य छात्र भी शामिल

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने इंस्टाग्राम ग्रुप बॉयज लॉकर रूम (Boys Locker Room/Bois Locker Room) पर अश्लील चैट करने के मामले में 15 साल के नाबालिग लड़के को पकड़ा है। नाबालिग के अलावा इस ग्रुप केस में 20 लड़के और शामिल हैं। पुलिस ने सोशल मीडिया पर रजिस्टर फोन नंबर से लड़के के घर का पता लगाया।

दिल्ली पुलिस की साइबर सेल ने इंस्टाग्राम ग्रुप बॉयज लॉकर रूम (Boys Locker Room/Bois Locker Room) पर अश्लील चैट करने के मामले में 15 साल के नाबालिग लड़के को पकड़ा है। नाबालिग के अलावा इस ग्रुप केस में 20 लड़के और शामिल हैं। पुलिस ने सोशल मीडिया पर रजिस्टर फोन नंबर से लड़के के घर का पता लगाया। नाबालिग पर आरोप है कि उसने भी इंस्टाग्राम ग्रुप में तस्वीर शेयर की, जिसे देखते हुए पुलिस ने उसके घर जाकर पकड़ा। इस पूरे मामले में पुलिस को साउथ दिल्ली के चार स्कूल और नोएडा के एक स्कूल के बारे में पता लगा है। अब कहा जा रहा है कि सभी 21 छात्रों से पूछताछ की जाएगी।

मामला उजागर होने के बाद दिल्ली के चार स्कूलों में से एक स्कूल की प्रिंसिपल ने कहा, “यह हमारे लिए हैरानी की बात है क्योंकि हमारे स्कूल में लिंग और सम्मान के अलावा साइबर अपराध जैसे मुद्दों पर खुलकर चर्चा करने वाले वातावरण को बढ़ावा दिया जाता है। मेरा यह भी मानना ​​है कि जब बात ऐसी आती है तो बच्चों की ज़िंदगी में माता-पिता की भागीदारी भी बेहद अहम होती है।”

बता दें कि इस मामले के संबंध में पुलिस ने नाबालिग का फोन बरामद कर लिया है। साथ ही ग्रुप सदस्यों के एक ख़िलाफ़ एफआईआर आईपीसी की धारा 465, 469, 509 के तहत व आईटी एक्ट 2000, की धारा 67 और 67ए के तहत दर्ज हुई है।

जानकारी के अनुसार, सोशल नेटवर्किंग साइट इंस्टाग्राम पर एक चैट ग्रुप में नाबालिग लड़कियों की फोटो का गलत इस्तेमाल करने के मामले ने सोमवार को तूल पकड़ा था। इस संबंध में दिल्ली महिला आयोग ने सोमवार को दिल्ली पुलिस और इंस्टाग्राम को इस संबंध में नोटिस जारी किया था।

वहीं, दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने जानकारी देते हुए कहा था कि वे इस मामले में जाँच शुरू कर चुके हैं और उन्होंने इंस्टाग्रााम में इस चैट ग्रुप से संबंधित जानकारी माँगी है। अब ग्रुप के एक सदस्य के पकड़े जाने के बाद इस पर आगे की पूछताछ जारी है।

बता दें कि इस ग्रुप का खुलासा एक लड़की की मदद से हाल में हुआ था, जिसने सोशल मीडिया पर इस ग्रुप के कुछ स्क्रीनशॉट्स को शेयर करते हुए लिखा, “दक्षिण दिल्ली के 17-18 साल की उम्र के लड़कों का एक ग्रुप है, जिसका नाम ‘ब्वॉयज लॉकर रूम’ (Boys Locker Room/Bois Locker Room) है, जहाँ कम उम्र की लड़कियों की तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ कर आपत्तिजनक बनाया जा रहा था। मेरे स्कूल के दो लड़के इसका हिस्सा हैं।” लड़की ने इस दौरान जिन तस्वीरों को शेयर किया था, उन पर लिखे कमेंट देखकर ये अंदाजा लगाया जा सकता था कि ग्रुप के सदस्य गैंगरेप की योजना बना रहे थे और उस पर चर्चा कर रहे थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ईवीएम पर नहीं लगा था BJP का टैग, तृणमूल कॉन्ग्रेस ने झूठ फैलाया: चुनाव आयोग ने खोली पोल, बताया- क्यों लिए जाते हैं मशीन...

भारतीय निर्वाचन आयोग ने टीएमसी के आरोपों का जवाब देते हुए झूठे दावे की पोल खोली और बताया कि ईवीएम पर कोई भाजपा का टैग नहीं हैं।

CM केजरीवाल के घर कहाँ हुआ क्या-क्या… दिल्ली पुलिस ने सब सीन री-क्रिएट करवाए, विभव कुमार ने बचने को डाली जमानत याचिका

दिल्ली पुलिस विभव कुमार को मुख्यमंत्री आवास भी लेकर पहुँची, जहाँ स्वाति मालीवाल के साथ हुई घटना का पूरा सीन रिक्रिएट किया गया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -