Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाज34000 रुपए कटा ट्रैफिक पुलिस का चालान, सरकारी कर्मी होने पर लगा दोगुना जुर्माना

34000 रुपए कटा ट्रैफिक पुलिस का चालान, सरकारी कर्मी होने पर लगा दोगुना जुर्माना

ऐसी पहली रिपोर्ट सामने आई है जब एक ट्रैफिक पुलिस को नए नियम लागू होने के बाद का जुर्माना किया गया है। SP ने बताया, "दोनों को उस वक्त पकड़ा गया, जब वे दोनों रात बाइक पर वापस अपने घर लौट रहे थे।"

झारखंड की राजधानी राँची में शुक्रवार को नए ट्रैफिक नियम का खामियाजा खुद ट्रैफिक पुलिस को भुगतना पड़ा। एक ट्रैफिक कॉन्स्टेबल को नए मोटर व्हीकल एक्ट के तहत 34000 रुपए का चालान कटने की घटना सामने आई है। एक सीनियर पुलिस अधिकारी ने गश्त के दौरान देखा कि एक शख्स बिना हेलमेट के जा रहा है, जिसके बाद उन्हें पकड़ा गया।

रिपोर्ट्स के अनुसार, कॉन्स्टेबल राकेश कुमार अपने दोपहिया वाहन पर बिना हेलमेट असिस्टेंट सब-इंस्पेक्टर (ट्रैफिक) रामेश्वर राय के साथ बाइक पर जा रहे थे। दोनों को प्लाजा चौक पर रोका गया। नियमों का उलंघन करते हुए पकड़े जाने पर उन पर सामान्य जुर्माने के मुकाबले में दोगुना जुर्माना लगाया गया क्योंकि नए कानून के मुताबिक अगर खुद पुलिसकर्मी इस तरह की गलतियाँ करते हुए पाए जाते हैं, तो उन पर डबल जुर्माने का प्रावधान किया गया है।

कॉन्स्टेबल राकेश कुमार के साथ पीछे बैठे ASI रामेश्वर राय ने हेलमेट नहीं लगाया था। ट्रैफिक एसपी ने दाेनाें काे शुक्रवार काे ऑफिस बुलाया। राकेश से बाइक के कागजात माँगे। लेकिन राकेश कुमार के पास न ताे ड्राइविंग लाइसेंस था, न पाॅल्यूशन और न ही इंश्याेरेंस। इसके लिए उन पर कुल 17 हजार रूपए का चालान बनता था क्योंकि राकेश ट्रैफिक पुलिस में कार्यरत हैं, इसलिए दोगुनी राशि का चालान कटा।

ऐसी पहली रिपोर्ट सामने आई है जब एक ट्रैफिक पुलिस को नए नियम लागू होने के बाद का जुर्माना किया गया है। राँची के ट्रैफिक सुपरिटेंडेट ऑफ पुलिस (एसपी) अजीत पीटर डुंगडुंग ने कहा- “दोनों को उस वक्त पकड़ा गया, जब वे दोनों रात बाइक पर वापस अपने घर लौट रहे थे।”

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -