Sunday, June 23, 2024
Homeदेश-समाजतौलिए में क्लास लेने वाला PSBB स्कूल का टीचर अरेस्ट, लगा POCSO एक्ट: लड़कियों...

तौलिए में क्लास लेने वाला PSBB स्कूल का टीचर अरेस्ट, लगा POCSO एक्ट: लड़कियों को डेट पर चलने को कहता था

सोशल मीडिया में मामला उठने के बाद पीएसबीबी स्कूल ने सोमवार दोपहर जी राजगोपालन को सस्पेंड कर दिया। रिपोर्ट्स के मुताबिक, वह कॉमर्स स्टूडेंट को अकाउंट्स पढ़ाता था

चेन्नई की सिटी पुलिस ने छात्रों के यौन शोषण मामले में जी राजगोपालन नाम के PSBB स्कूल टीचर को सोमवार (मई 24, 2021) रात गिरफ्तार कर लिया। अशोक नगर ऑल वीमेन पुलिस ने छात्रों के यौन उत्पीड़न मामले में टीचर को गिरफ्तार कर मजिस्ट्रेट के सामने पेश किया और बाद में उसे न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया।

द न्यू इंडियन एक्सप्रेस की रिपोर्ट के मुताबिक, राजगोपालन के खिलाफ पॉक्सो (POCSO) एक्ट की धारा 11, 12, आईपीसी एक्ट की धारा 354, 509 और आईटी एक्ट की धारा 67 और 67 (ए) के तहत मुकदमा दर्ज करके उसे गिरफ्तार किया गया है।

पूरा मामला कृपाली नाम की एक पूर्व छात्रा द्वारा साझा किए गए स्क्रीनशॉट्स के बाद उजागर हुआ। इसके बाद कई बच्चों ने शिक्षक के खिलाफ बोलते हुए आपबीती साझा की। एक स्क्रीनशॉट में उसे बिना शर्ट के केवल तौलिए में देखा जा सकता है।

सोशल मीडिया में मामला उठने के बाद पीएसबीबी स्कूल ने सोमवार दोपहर जी राजगोपालन को सस्पेंड कर दिया। रिपोर्ट्स के अनुसार वह पीएसबीबी स्कूल की केके नगर शाखा में कॉमर्स के बच्चों को अकॉउंट्स पढ़ाता था। स्कूल प्रशासन ने राजगोपालन को सस्पेंड करते हुए लिखा, “आपके खिलाफ कदाचार के कुछ गंभीर आरोप लगाए गए हैं और यह सोशल मीडिया (एसआईसी) के माध्यम से प्रबंधन के संज्ञान में आया है।”

सोशल मीडिया से शुरू हुआ अभियान

गौरतलब है कि चेन्नई में स्कूलों के एक समूह, पद्म शेषाद्री बाला भवन (PSBB) के पूर्व और वर्तमान छात्रों ने इस शिक्षक पर छात्राओं के साथ अनुचित व्यवहार और यौन उत्पीड़न का आरोप लगाते हुए सोशल मीडिया में अपनी आपबीती शेयर की थी। इस दौरान कई छात्रों ने अपने साथ टीचर के खराब व्यवहार को सोशल मीडिया पर लिखकर बताया।

इन पोस्ट के मुताबिक, टीचर ने तौलिए में क्लास लेने के अलावा लड़कियों को देर रात वीडियो कॉल कर करके उनसे डेट पर चलने तक को कहा। इसके अलावा उस पर क्लास ग्रुप में अश्लील लिंक साझा करने के भी आरोप हैं।

सोशल मीडिया पर टीचर के विरुद्ध अभियान में छात्राओं ने अपने संदेशों के स्क्रीनशॉट शेयर किए। एक अन्य छात्रा ने बताया कि वह पाँच साल पहले उसके साथ स्कूल प्रतियोगिता में हांग कांग गई थी तब उसने उसके साथ सेक्शुअल जोक शेयर किए थे। इसके अलावा राजगोपालन पर लड़कों ने भी प्राइवेट पार्ट्स छूने के आरोप लगाए।

इसी बीच कई बच्चों ने अन्य शिक्षकों पर भी अनुचित व्यवहार के आरोप लगाए। छात्रों में से एक ने संस्कृत के एक पूर्व शिक्षक के बारे में बात की जो छात्रों को गाली देता था, बिना किसी स्पष्ट कारण के उन्हें थप्पड़ मारता था और यहाँ तक कि छात्राओं के साथ खुले तौर पर फ्लर्ट भी करता था। वह ‘गलती से’ लड़कियों के चेंजिंग रूम में चला जाता था और लड़कों और लड़कियों दोनों को अनुचित तरीके से छूता था।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मोदी के दिए घरों में रहते हैं, 100% वोट कॉन्ग्रेस को देते हैं’: बोले असम CM सरमा – राज्य पर कब्ज़ा करना चाहते हैं...

सीएम हिमंता ने कहा कि बांग्लादेशी मूल के अल्पसंख्यकों ने कॉन्ग्रेस को इसलिए वोट दिया, क्योंकि अगले 10 सालों में वे राज्य को कब्जा चाहते हैं।

NEET पीपर लीक की जाँच अब CBI के हवाले, केंद्रीय जाँच एजेंसी ने दर्ज की FIR: PG की परीक्षा के लिए नई तारीखों का...

केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय की ओर से बताया गया कि विवाद की समीक्षा के बाद मंत्रालय ने मामले की व्यापक जाँच के लिए इसे सीबीआई को सौंपने का फैसला किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -