Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजछत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सिलयों के हमले में जवान के पैर के चीथड़े उड़े,...

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सिलयों के हमले में जवान के पैर के चीथड़े उड़े, दूसरे को लगे छर्रे: बस्तर सुरक्षाबलों ने 10 किलो का IED किया निष्क्रिय

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने IED ब्लास्ट किया है, जिसमें बस्तर फाइटर्स के दो जवान घायल हो गए हैं। इनमें से एक हालत गंभीर है और उसे इलाज के लिए हेलिकॉप्टर से राजधानी रायपुर भेजा गया है। वहीं, दूसरे जवान का इलाज दंतेवाड़ा के जिला अस्पताल में हो रहा है। इससे पहले सुरक्षाबलों ने 10 किलोग्राम IED बरामद किया था।

छत्तीसगढ़ के दंतेवाड़ा में नक्सलियों ने IED ब्लास्ट किया है, जिसमें बस्तर फाइटर्स के दो जवान घायल हो गए हैं। इनमें से एक हालत गंभीर है और उसे इलाज के लिए हेलिकॉप्टर से राजधानी रायपुर भेजा गया है। वहीं, दूसरे जवान का इलाज दंतेवाड़ा के जिला अस्पताल में हो रहा है। इससे पहले बस्तर में सुरक्षाबलों ने 10 किलोग्राम IED बरामद किया था।

दरअसल, बस्तर फाइटर्स के जवान अरनपुर से जगरगुंडा के बीच बन रही सड़क की सुरक्षा में निकले थे। इसके बाद घात लगाए नक्सलियों ने जवानों को देखकर हमला कर दिया। IED प्रेशर बम की चपेट में आने से एक जवान के पैर के चीथड़े उड़ गए हैं। घायल जवान का नाम रौशन बताया जा रहा है। वहीं, दूसरा जवान घायल है।

ये जवान मंगलवार (21 नवंबर 2023) को इलाके में निकले थे और बुधवार (22 नवंबर 2023) को वापसी के दौरान यह घटना हुई। अभी कामरगुड़ा से जगरगुंडा के बीच बची हुई पाँच किलोमीटर सड़क का निर्माण कार्य चल रहा है। नक्सली सड़क के काम को प्रभावित करने के लिए IED विस्फोट करके जवानों को निशाना बना रहे हैं।

इस सड़क पर नक्सली पहले भी कई बार हमला करके जवानों को नुकसान पहुँचा चुके हैं। नक्सल प्रभावित छत्तीसगढ़ में नक्सली जवानों को निशाना बनाने के लिए रास्तों पर जगह-जगह IED प्लांट कर नुकसान पहुचाने की कोशिश करते रहते हैं। कामरगुडा के अलावा, नक्सलियों ने यह हमला दंतेवाड़ा और सुकमा जिले की सीमा पर किया है।

दरअसल, मंगलवार को ही सुरक्षाबलों ने बस्तर में नक्सलियों के मंसूबों पर पानी फेरते हुए 10 किलोग्राम के कमांड IED के निष्क्रिय कर दिया था। किरंदुल थाना क्षेत्र के लोहा गाँव पहाडी, धोबी घाट और 11c माइनिंग के पास IED की सूचना बस्तर फाइटर्स जवान को मिली थी। इसे दंतेवाड़ा BDS और सीआईएसएफ किरंदुल की टीम ने मौके पर पहुंचकर निष्क्रिय कर दिया।

घटनास्थल पर नक्सलियों ने 5 किलोग्राम का एक नग, 2 किलोग्राम के 2 नग और 1 किलोग्राम का 1 नग यानी कुल 10 किलोग्राम का कमांड IED लगा रखा था। बताया जा रहा है की CISF की एक पार्टी इलाके में गश्त के लिए निकली थी। धोबी घाट और 11c mining जाने वाले तिराहा के आगे लोहा गाँव जाने वाले रास्ते में पहाड़ी पर सुरक्षाबलों को जमीन से ऊपर उठे हुए कुछ तार दिखे।

इसके बाद सुरक्षाबलों की सतर्क हो गई। उसने इस संबंध में दंतेवाड़ा के पुलिस अधीक्षक को इसकी जानकारी दी। इस पर CISF पार्टी एवं BDS दंतेवाड़ा की टीम मौके पर पहुँच गई इलाके का निरीक्षण कर IED को निष्क्रिय कर दिया। हालाँकि, बुधवार की शाम होते-होते एक अन्य जगह पर दो सुरक्षाबल नक्सलियों की व्यूह में फँसकर घायल हो गए।

मंगलवार (21 नवंबर 2023) को नक्सलियों ने छत्तीसगढ़ के बीजापुर में भी एक IED ब्लास्ट किया था। इस ब्लास्ट में एक ग्रामीण बुरी तरह झुलस गया था। उसे बेहतर इलाज के लिए तेलंगाना के भद्राचलम में रेफर किया गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

पावागढ़ की पहाड़ी पर ध्वस्त हुईं तीर्थंकरों की जो प्रतिमाएँ, उन्हें फिर से करेंगे स्थापित: गुजरात के गृह मंत्री का आश्वासन, महाकाली मंदिर ने...

गुजरात के गृह मंत्री हर्ष संघवी ने कहा कि किसी भी ट्रस्ट, संस्था या व्यक्ति को अधिकार नहीं है कि इस पवित्र स्थल पर जैन तीर्थंकरों की ऐतिहासिक प्रतिमाओं को ध्वस्त करे।

रेड सिग्नल पार करने वाली ट्रेनों को भी रोक देता है कवच, फिर क्यों कंचनजंगा एक्सप्रेस से भिड़ गई मालगाड़ी: जानिए सब कुछ

न्यू जलपाई गुड़ी में हुए रेल हादसे के बाद कवच पर चर्चा चालू हो गई है। जिस रूट पर हादसा हुआ है, वहाँ अभी कवच सिस्टम नहीं लगा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -