Thursday, February 25, 2021

विषय

Naxalites

नक्सल इलाकों में 5422 में से 4946 किमी सड़क का काम पूरा: सुरक्षा बलों की मदद से अब और तेज होगा निर्माण कार्य

योजना के मुताबिक 5422 किलोमीटर लंबाई की सड़कें बनाई जानी थीं। इनमें से 4946 किलोमीटर का काम अब तक पूरा हुआ है।

अरुंधति रॉय ने ‘किसान आन्दोलन’ को बताया बस्तर के नक्सलियों के ‘संघर्ष’ जैसा

अनुभवी प्रदर्शनकारी और भारत विरोधी वामपंथी लेखिका अरुंधति रॉय किसान विरोध वाली जगह पर उपस्थिति लगाने पहुँच चुकी हैं।

नक्सलियों का रोस्ट: पलामू में पकड़ाया डिल्डो! अजीत भारती का वीडियो | Naxals caught with dildo in Palamu

"डिल्डो मिलने का मतलब वामपंथी न तो क्रांति कर पा रहे न वामपंथनों को संतुष्ट। कामपंथियों के बजाय रबर-यंत्र चुनने पर वामपंथनों को सलाम!"

महाराष्ट्र: पुलिस ने 5 नक्सली आतंकी किए ढेर, इसी जगह हुए हमले में 15 जवानों ने गँवाई थी जान

नक्सल विरोधी अभियान के तहत निकली पुलिस टीम पर नक्सली आतंकियों ने हमला बोला। इसके बाद पुलिस ने भी जवाबी कार्रवाई में 5 को ढेर किया।

हाथरस ‘भाभी’ पर चला सरकारी डंडा, जहाँ करती है नौकरी… वहाँ से मिला नोटिस, एक हफ्ते में देना होगा जवाब

मेडिकल कॉलेज के डीन पीके कसर ने बताया कि फॉरेंसिक विभाग की सहायक प्राध्यापिका डॉक्टर राजकुमारी बंसल ने बिना कॉलेज प्रशासन को सूचित किए...

व्यंग्य: नक्सली भाभीजी घर पर नहीं हैं तो गई कहाँ? पप्पू-पिंकी के लिए चमत्कार करने आई थी या…

“जब पप्पू-पिंकी जैसे नामी ठगों के इलाके की तरफ बढ़ने की इनपुट दिल्ली से आ गई थी, तो तुमने ढिलाई क्यों बरती?”

नक्सली आतंकियों ने किया 25 आदिवासियों का सामूहिक कत्ल, ‘पुलिस के एजेंट’ होने के शक में ठहराया था धोखेबाज

'विकल्प' नाम के प्रतिबंधित आतंकवादी संगठन ने उन्हें 'धोखेबाज' और 'पुलिस के मुखबिर' घोषित करते हुए कहा कि मारे गए लोगों में 12 गोपनीय सैनिक, 5 भीतरघाति और 8 मुखबिर शामिल थे।

हाथरस: कथित नक्सली महिला से CPIM नेता सीताराम येचुरी ने की थी मुलाकात, तस्वीरों से खुलासा

ऐसी तस्वीरें सामने आ रही हैं जिनसे पता चला है कि कम्युनिस्ट नेता सीताराम येचुरी जब पीड़ित परिवार से मिलने हाथरस पहुँचे थे, तो उनकी मुलाकात इस कथित नक्सल महिला से भी हुई थी।

‘फेक भाभी’ का कॉन्ग्रेस कनेक्शन सामने आते ही बदलने लगे बयान, पहले बताया था खुद को बहन, अब बनी अनजान

पीड़िता के घर में 'फेक भाभी' बनकर रहने की आरोपित डॉ राजकुमारी बंसल अब लगातार अपने बयान भी बदल रही हैं और पीड़िता की भाभी या बहन होने से भी इंकार कर रही हैं।

फर्जी नक्सली भाभी के बचाव में पीड़िता की असली भाभी ने ‘नक्सली भाभी’ को बताया दूर की रिश्तेदार

असली भाभी ने जोर देते हुए कहा कि वह (संदिग्ध नक्सली) उनकी भी भाभी की रिश्तेदार है, जो घटना के बारे में जानने के बाद उनके घर में आकर रह रही थी।

ताज़ा ख़बरें

प्रचलित ख़बरें

हमसे जुड़ें

291,994FansLike
81,863FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe