Saturday, July 24, 2021
Homeदेश-समाजमुनव्वर फारूकी के 2 और साथियों को मिली कोर्ट से जमानत: 2 हो चुके...

मुनव्वर फारूकी के 2 और साथियों को मिली कोर्ट से जमानत: 2 हो चुके हैं पहले ही रिहा

फारूकी और पाँच अन्य को इंदौर में शो का आयोजन करने के लिए 1 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था। ये कार्रवाई स्थानीय भाजपा नेत्री मालिनी लक्ष्मण सिंह गौड़ के बेटे एकलव्य सिंह की शिकायत पर हुई थी।

हिन्दू देवी-देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में मुनव्वर फारूकी के साथ गिरफ्तार दो और आरोपितों को मध्य प्रदेश उच्च न्यायालय की इंदौर पीठ ने शुक्रवार को अंतरिम जमानत दे दी

न्यायमूर्ति रोहित आर्य ने दोनों पक्षों की दलीलें सुनने के बाद निचली अदालत को आदेश दिया कि वह सदाकत खान (23) और नलिन यादव (25) को अंतरिम जमानत पर रिहा करे। इसी पीठ ने इससे पहले प्रखर व्यास और एडविन एंथनी को 12 फरवरी को जमानत पर रिहा किया था। उससे पहले फारूकी की रिहाई हुई थी

बता दें कि फारूकी और पाँच अन्य को  इंदौर में शो का आयोजन करने के लिए 1 जनवरी को गिरफ्तार किया गया था। ये कार्रवाई स्थानीय भाजपा नेत्री मालिनी लक्ष्मण सिंह गौड़ के बेटे एकलव्य सिंह की शिकायत पर हुई थी।

बीजेपी विधायक के बेटे ने इल्जाम लगाया था कि शो में हिंदू देवी देवताओं के विरुद्ध और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह के लिए अपमानजक शब्द प्रयोग किए गए।

मालूम हो कि 5 फरवरी को हिंदू देवी-देवताओं पर अपमानजनक टिप्पणी करने के आरोप में जेल में बंद स्टैंड-अप कॉमेडियन मुनव्वर फारूकी को सुप्रीम कोर्ट ने राहत प्रदान करते हुए अंतरिम जमानत दी थी। सुप्रीम कोर्ट में मुनव्वर फारूकी ने मध्य प्रदेश हाईकोर्ट के उस फैसले को चुनौती दी थी, जिसमें उसे अंतरिम जमानत पर रिहा करने से मना कर दिया गया था।

उसके बाद प्रखर व्यास और एडविन एंथोनी को भी 12 फरवरी को अंतरिम जमानत दे दी गई। जिसे देखते हुए खान और यादव के वकीलों ने शीर्ष अदालत के इस आदेश का हवाला दिया और अपने मुवक्किलों के लिए जमानत माँगी। इसी पर गौर करते हुए कोर्ट ने बाकी दो की भी जमानत की अर्जी मंजूर की।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

योगी सरकार के एक्शन के डर से 3 कुख्यात गैंगस्टर मोमीन, इन्तजार और मंगता हाथ उठाकर पहुँचे थाने, किया आत्मसमर्पण

मामला यूपी के शामली जिले का है। सभी गैंगस्टर्स ने कहा कि वो अपराध से तौबा कर भविष्य में अपराध न करने की कसम खाते हैं।

जहाँ से इस्लाम शुरू, नारीवाद वहीं पर खत्म… डर और मौत भला ‘चॉइस’ कैसे: नितिन गुप्ता (रिवाल्डो)

हिंदुस्तान में नारीवाद वहीं पर खत्म हो जाता है, जहाँ से इस्लाम शुरू होता है। तीन तलाक, निकाह, हलाला पर चुप रहने वाले...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,018FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe