Wednesday, July 24, 2024
Homeदेश-समाजउत्तर प्रदेश वैक्सीनेशन में अन्य राज्यों से आगे: 17 मई से 18-44 आयु वर्ग...

उत्तर प्रदेश वैक्सीनेशन में अन्य राज्यों से आगे: 17 मई से 18-44 आयु वर्ग के लिए 23 जिलों में टीकाकरण अभियान

“टीकाकरण की प्रक्रिया बहुत तेजी से चल रही है। अब तक प्रदेश में 1,47,00,000 वैक्सीन की डोज़ दी जा चुकी है। इनमें से 1,16,00,000 लोगों को पहली डोज़ और 31,00,000 लोगों को दूसरी डोज़ दी जा चुकी है। 31,00,000 लोगों को दोनों डोज़ मिल चुकी है।”

उत्तर प्रदेश में अब कोरोना के मामलों में कमी देखी जा रही है। सरकार की तरफ से लगाए गए लॉकडाउन का असर अब साफ तौर पर देखा जा सकता है। लखनऊ में भी संक्रमित मामले पहले के मुकाबले कम हो रहे हैं। कोरोना वायरस संक्रमण में रिकॉर्ड वृद्धि के बीच कई राज्यों ने खुराक की कमी का दावा करते हुए टीकाकरण में कटौती की, मगर यूपी सरकार ने यह सुनिश्चित करने के लिए युद्ध स्तर पर काम किया है कि टीकाकरण अभियान अधिकांश आबादी तक पहुँचे।

उत्तर प्रदेश के अपर मुख्य सचिव नवनीत सहगल ने शनिवार (मई 15, 2021) को बताया, “टीकाकरण की प्रक्रिया बहुत तेजी से चल रही है। अब तक प्रदेश में 1,47,00,000 वैक्सीन की डोज़ दी जा चुकी है। इनमें से 1,16,00,000 लोगों को पहली डोज़ और 31,00,000 लोगों को दूसरी डोज़ दी जा चुकी है। 31,00,000 लोगों को दोनों डोज़ मिल चुकी है।”

योगी आदित्यनाथ सरकार ने कोरोना वायरस संक्रमण के खिलाफ बचाव का बड़ा हथियार माने जा रहे टीकाकरण अभियान का दायरा बढ़ा दिया है। अब 17 मई से 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों के लिए टीकाकरण 23 जिलों में होगा। कोविड संक्रमण पर काबू पाने के लिए राज्य सरकार सोमवार (मई 17, 2021) से प्रदेश के पाँच और जिलों में 18 से 44 वर्ष आयु वर्ग के कोरोना टीकाकरण की शुरुआत करेगी। इनमें मीरजापुर, बांदा, गोंडा, आजमगढ़ और बस्ती जिले शामिल हैं। यह वे मंडलीय मुख्यालय हैं जिनमें 18 वर्ष से अधिक उम्र के लोगों का टीकाकरण अभी शुरू नहीं हो पाया था।

उत्तर प्रदेश में सर्वाधिक संक्रमित नौ जिलों में एक मई से शुरू किया गया 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग के लोगों के लिए टीकाकरण प्रदेश में चरणबद्ध तरीके से आगे बढ़ाया जा रहा है। प्रदेश में सोमवार से कुल 23 जिलों में 18 पार वालों का कोरोना टीकाकरण होने लगेगा। अभी प्रदेश के 18 जिलों में इस आयु वर्ग के लोगों को टीके लगाए जा रहे हैं।

महाराष्ट्र, दिल्ली समेत देश के अन्य राज्यों में जहाँ वैक्सीनेशन अभियान लगभग ठप होता जा रहा है वहीं, उत्तर प्रदेश में बीमारी के खिलाफ शुरू की गई वैक्सीनेशन की प्रक्रिया हर दिन तेजी पकड़ रही है। सीएम योगी के बड़े फैसलों और लगातार किए जा रहे प्रयासों से उत्तर प्रदेश वैक्सीनेशन के मामले में देश का नम्बर वन राज्य बन गया है।

बता दें कि पिछले चौबीस घंटों में यूपी में कोरोना के 15,747 नए मामले सामने आए हैं। वहीं संक्रमण की वजह से 312 लोगों की जान चली गई। लेकिन राहत की बात ये है कि चौबीस घंटों में 26,179 मरीज कोरोना से जंग जीतकर अस्पतालों से डिस्चार्ज हो चुके हैं। इसका मतलब ये है कि नए मामलों की तुलना में सही होने वाले मरीजों का आँकड़ा सबसे ज्यादा है जो एक राहत भरी खबर है।

लखनऊ में पहले से कम हुए कोरोना के नए मामले

यूपी में फिलहाल कोरोना के 1,93,815 एक्टिव मामले हैं। वहीं अब तक 16,957 लोगों की जान जा चुकी है। 13,85,855 मरीज कोरोना से ठीक हो चुके हैं। लखनऊ में पहले के मुकाबले मामले कम देखे जा रहे हैं। स्वास्थ्य विभाग के आँकड़ों के मुताबिक शुक्रवार (मई 14, 2021) को लखनऊ में संक्रमण के 900 नए मामले सामने आए वहीं 21 लोगों की मौत हो गई।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मेरे बेटे को मार डाला’: आधुनिक पश्चिमी सभ्यता ने दुनिया के सबसे अमीर शख्स को भी दे दिया ऐसा दर्द, कहा – Woke वाले...

लिंग-परिवर्तन कराने वाले को उसके पुराने नाम से पुकारना 'Deadnaming' कहलाता है। उन्होंने कहा कि इसका अर्थ है कि उनका बेटा मर चुका है।

‘बंद ही रहेगा शंभू बॉर्डर, JCB लेकर नहीं कर सकते प्रदर्शन’: सुप्रीम कोर्ट ने ‘आंदोलनजीवी’ किसानों को दिया झटका, 15 अगस्त को दिल्ली कूच...

सुप्रीम कोर्ट ने पंजाब और हरियाणा के बीच शंभू बॉर्डर को अभी बंद ही रखने का आदेश दिया है। कोर्ट ने कहा किसान JCB लेकर प्रदर्शन नहीं कर सकते।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -