Wednesday, September 22, 2021
Homeदेश-समाज7 गौ-तस्करों को पकड़ने में राजस्थान पुलिस रही नाकाम, फायरिंग के बीच चकमा देकर...

7 गौ-तस्करों को पकड़ने में राजस्थान पुलिस रही नाकाम, फायरिंग के बीच चकमा देकर भागे तस्कर, 10 गोवंश बरामद

नदबई थाने को अपने मुखबिरों से सूचना मिली कि गोवंश से भरी पिकअप मेवात की ओर से नदबई की तरफ आ रही है। गौ तस्करों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने नाकाबंदी करवाई। इसमें इलाके के ग्रामीणों ने भी पुलिस का साथ दिया।

राजस्थान में गौ तस्करों के हौसले बुलंद हैं और वे पुलिस पर भी गोलियाँ चलाने से नहीं झिझक रहे हैं। हालात ये हो गए हैं कि गौ तस्कर पुलिस टीम को चकमा देकर भागने में भी कामयाब हो जा रहे हैं। राजस्थान के भरतपुर जिले में एक ऐसा मामला सामने आया है, जिसमें मुट्ठी भर गौ तस्करों ने थाने की पूरी पुलिस टीम पर फायरिंग करने के बाद उन्हें चकमा देकर भाग निकले।

शुक्रवार को देर रात हुई इस मुठभेड़ के लिए नदबई थाना का पूरा स्टाफ लगा दिया गया था। कुल 20 पुलिसकर्मियों के होने के बावजूद 7 गौ तस्कर पुलिस टीम पर फायरिंग करते रहे और अंतत: अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे। हालाँकि, आरोपी जिस गाड़ी में गोवंश लेकर आए थे, उसे मौके पर छोड़कर भाग गए। इसके बाद गाड़ी में लादे गए 10 गोवंशों को गोशाला भेजवाया गया।

रिपोर्ट के अनुसार, नदबई थाने को अपने मुखबिरों से सूचना मिली कि गोवंश से भरी पिकअप मेवात की ओर से नदबई की तरफ आ रही है। गौ तस्करों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस ने नाकाबंदी करवाई। इसमें इलाके के ग्रामीणों ने भी पुलिस का साथ दिया। हालाँकि, फायरिंग की आशंका को देखते हुए ग्रामीणों को वहाँ से दूर हटा दिया गया।

जैसे ही गौ तस्करों की गाड़ी नजदीक आते दिखी, पुलिस ने उसे रुकने का इशारा किया। इस पर पिकअप में सवार करीब 7 तस्करों ने पुलिस पर फायरिंग शुरू कर दी। उसके बाद जवाब में पुलिस ने भी फायरिंग की। मुठभेड़ की सूचना मिलते ही थाने का पूरा स्टाफ पहुँच गया और 20 पुलिसकर्मियों के स्टाफ ने कुल 17 राउंड फायर किए। इसके बाद भी गौ तस्कर अंधेरे का फायदा उठाकर पिकअप वाहन को छोड़ मौके से फरार हो गए।

पुलिस ने घटनास्थल से पिकअप को जब्त कर लिया और उसमें लादे गए 10 गोवंश को छुड़ा कर गौशाला भेजवा दिया। पुलिस ने अज्ञात गौ तस्करों के खिलाफ मामला दर्ज किया है और बरामद की गई गाड़ी के नंबर के आधार पर आरोपियों का पता लगा रही है। वहीं, लोग इस पुलिस कार्रवाई पर सवाल उठा रहे हैं कि आखिर 20 पुलिसकर्मियों के चंगुल से 7 गौ तस्कर फरार कैसे हो गए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

मौलाना कलीम सिद्दीकी को यूपी ATS ने मेरठ से किया गिरफ्तार, अवैध धर्मांतरण के लिए की हवाला के जरिए फंडिंग

यूपी पुलिस ने बताया कि मौलाना जामिया इमाम वलीउल्लाह ट्रस्ट चलाता है, जो कई मदरसों को फंड करता है। इसके लिए उसे विदेशों से भारी फंडिंग मिलती है।

60 साल में भारत में 5 गुना हुए मुस्लिम, आज भी बच्चे पैदा करने की रफ्तार सबसे तेज: अमेरिकी थिंक टैंक ने भी किया...

अध्ययन के अनुसार 1951 से 2011 के बीच भारत की आबादी तिगुनी हुई। लेकिन इसी दौरान मुस्लिमों की आबादी 5 गुना हो गई।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
123,707FollowersFollow
410,000SubscribersSubscribe