Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाजकरंट से छटपटा रही थी गाय, दुकानदार ने आगे बढ़ उसके पैर में लपेटा...

करंट से छटपटा रही थी गाय, दुकानदार ने आगे बढ़ उसके पैर में लपेटा कपड़ा और खींचकर बचाया: Video वायरल, खूब हो रही है तारीफ

इस वीडियो में आप देख सकते हैं एक गाय पानी में आगे बढ़ रही है। जैसे-जैसे वह आगे बढ़ती है उसे झटके महसूस होते हैं। इसके बाद वह वहीं गिरकर छटपटाने लगती है। जिस जगह वह गिरती वहाँ, बिजली का खंभा और किसी वजह से खंभे के पास पानी में करंट आ गया था।

शास्त्रों में कहा गया है कि हिंदू मानव जीवन का सही अर्थ प्राणी मात्र यानी सभी जीवों के दर्द को समझने और उनकी मदद में निहित है। बेजुबान जीवों की मदद करना मानव धर्म है और संवेदनशील प्रकृति के लोग इस धर्म को बखूबी निभाते भी हैं।

एक वीडियो सामने आया है, जिसमें टखने भर पानी में जा रही गाय बिजली के खंभे पास आकर करंट के कारण छटपटाने लगती है। इसी दौरान एक दुकानदार और उसके साथ कुछ युवक उस पानी में कुछ दूर जाता है और उस गाय की टाँगों में कपड़े लपेटकर उसे खींचकर बचा लेता है।

सोशल मीडिया पर उस दुकानदार और उसके साथियों की लोग खूब प्रशंसा कर रहे हैं और उसे साधुवाद दे रहे हैं। इस तरह की मानवीय प्रवृत्ति आज के व्यवसायिक एवं भागमभाग की जिंदगी में बहुत ही कम देखने को मिलती है। घटना पंजाब की बताई जा रही है।

इस वीडियो में आप देख सकते हैं एक गाय पानी में आगे बढ़ रही है। जैसे-जैसे वह आगे बढ़ती है उसे झटके महसूस होते हैं। इसके बाद वह वहीं गिरकर छटपटाने लगती है। जिस जगह वह गिरती वहाँ, बिजली का खंभा और किसी वजह से खंभे के पास पानी में करंट आ गया था।

उसके बगल में एक दुकानदार ये सब देखता है। उसके बाद वह अंदर जाकर एक कपड़ा लाता है और आगे बढ़कर पानी में उतर जाता है। वह गाँव के पिछले एक पैर में कपड़ा लपेटकर खींचता है। इसी दौरान दो और शख्स दुकानदार की मदद करने के आगे आ जाते हैं वे लोग मिलकर गाय को खींच लेते हैं।

इसके बाद गाय सही-सलामत खड़ी हो जाती है और आगे की बढ़ जाती है। इस दौरान उस दौरान बाइक से कई लोग उस रास्ते से गुजरे, लेकिन कुछ लोग मामला समझ नहीं सके या पानी होने की वजह मदद करने में हिचकिचाते हुए दिखे। यह पूरा घटनाक्रम दुकान के सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

कनाडा का आतंकी प्रेम देख भारत ने याद दिलाया कनिष्क ब्लास्ट, 23 जून को पीड़ितों को दी जाएगी श्रद्धांजलि: जानिए कैसे गई थी 329...

भारत ने एयर इंडिया के विमान कनिष्क को बम से उड़ाने की बरसी याद दिलाते हुए कनाडा में वर्षों से पल रहे आतंकवाद को निशाने पर लिया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -