Saturday, September 26, 2020
Home देश-समाज गैंगरेप पीड़िता की अर्ध-नग्न लाश: टूटी उंगलियाँ, आँखें बाहर निकली हुईं - शाबोद्दीन, शेख...

गैंगरेप पीड़िता की अर्ध-नग्न लाश: टूटी उंगलियाँ, आँखें बाहर निकली हुईं – शाबोद्दीन, शेख बाबू, मकदूम ने कबूला जुर्म

"आरोपित उस गाँव से ताल्लुक रखते हैं, जो मुस्लिम बहुल है और गोंड भाषा को उर्दू के साथ मिला कर बोलते हैं। हम उनके लिए सार्वजनिक फाँसी से कम कुछ नहीं चाहते।"

हैदराबाद में 26 वर्षीय पशु चिकित्सक प्रीति रेड्डी (बदला हुआ नाम) के साथ गैंगरेप और फिर उनके शव को जला देने की ख़ौफ़नाक वारदात को अंजाम देने के तीन दिन पहले, उसी तेलंगाना में एक दलित महिला का बलात्कार किया गया था और बड़ी बेरहमी से पीड़िता की हत्या भी कर दी गई थी।

इस मामले में तीन आरोपितों को गिरफ़्तार किया गया है और उन्होंने अपने अपराध को क़बूल कर भी लिया है। वहीं, पीड़ित परिवार का कहना है कि पुलिस उन्हें पीड़िता की पोस्टमार्टम रिपोर्ट देने से मना कर रही है क्योंकि रिपोर्ट में कुछ ऐसा है, जिसे शायद छिपाने का प्रयास किया जा रहा है। जहाँ एक तरफ हैदराबाद गैंगरेप की घटना पूरे देश को पता है वहीं, यह इस घटना के बारे में शायद बहुत कम लोग ही जानते होंगे। ऐसा इसलिए क्योंकि इस घटना को मीडिया में बहुत कम कवरेज मिली है।

30 वर्षीय गीता (बदला हुआ नाम) का परिवार, निर्मल ज़िले के खानपुर मंडल के गोसम्पल्ली गाँव का रहने वाला है। लेकिन यह अपने पति-बच्चों के साथ यहाँ नहीं रहती थीं। ये खुद, इनके पति और दो बच्चे अपने गाँव से 100 किलोमीटर दूर एक किराए के मकान में रहते थे। आजीविका के लिए इनका परिवार जहाँ रहता था, वो आसिफाबाद ज़िले (पहले इस जिले का नाम आदिलाबाद था) के लिंगापुर मंडल में स्थित है।

पीड़िता अपने पति (38 साल के) की तरह सड़क पर घूम-घूम कर गुब्बारे और महिलाओं के लिए कम दाम वाले साज-सज्जा का सामान बेचती थी। 25 नवंबर की सुबह, उनके पति टेकू गोपी को वो एकांत स्थान पर अर्ध-नग्न अवस्था में मृत मिलीं। शरीर पर कई चोट के निशान भी थे। इससे पहले रात में ही गोपी ने लिंगापुर पुलिस स्टेशन में अपनी पत्नी के लापता होने की शिक़ायत दर्ज कराई थी।

- विज्ञापन -

शव मिलने के बाद FIR किया गया। इसमें दर्ज गोपी के बयान के अनुसार वह और पीड़िता (उनकी पत्नी) अपने-अपने काम काम के लिए 24 नवंबर को सुबह 6 बजे घर से निकले थे।

गोपी ने बताया कि उन्होंने अपनी पत्नी को एलापेटार में ड्रॉप किया और खुद मोदीगुडा चले गए। हमेशा की तरह जब वो अपनी पत्नी को दोपहर 2 बजे लेने के लिए एलापेटार लौटे, तो वो वहाँ नहीं मिलीं। इस दौरान उनका मोबाइल भी स्विच ऑफ़ था। उन्होंने अपनी पत्नी की खोजबीन की, लेकिन कहीं कुछ पता नहीं चला। इसके बाद गोपी ने उसी रात, पुलिस में अपनी पत्नी के लापता होने की शिक़ायत दर्ज कराई।

अगली सुबह, वह और कुछ ग्रामीण फिर से तलाश में निकले। आख़िरकार उन्हें सुबह क़रीब 9 बजे लिंगनापुर मंडल के रामनायकटांडा और इलापार गाँवों के बीच उनका शव मिला। उनकी साड़ी घुटनों से ऊपर खींची हुई थी, ऊपरी शरीर पर कोई कपड़ा नहीं था, उनके सिर, गले और हाथों पर गंभीर चोट के निशान थे।

बयान में आगे कहा गया है कि गीता और गोपी बडगा जंगम (अनुसूचित जाति) से संबंध रखते हैं। गोपी को इस जघन्य अपराध के पीछे शाबोद्दीन, बाबू और मकदूम नाम के तीन लोगों पर शक था, क्योंकि ये तीनों भी उस दौरान अपने घरों से ग़ायब थे।

गोपी अपनी पत्नी के साथ हुए इस जघन्य अपराध के बाद से गोसांपल्ली में रह रहे हैं। उन्होंने स्वराज्य को बताया कि इस ख़ौफ़नाक वारदात को अंजाम देते वक़्त पीड़िता के चेहरे और उनके शरीर पर बुरी तरह से कई वार किए गए। उनकी आँखें उभरी हुई थीं, पत्थर से बार-बार वार के कारण शायद उनकी उंगलियाँ टूट गईं थी। गोपी ने यह भी बताया कि उनकी पत्नी के पैर भी अजीब तरीके से मुड़े हुए थे।

गोपी को घटना-स्थल पर प्लास्टिक के दस्ताने भी मिले। उन्होंने बताया,

“आरोपितों ने उनकी (पीड़िता) गला दबाकर हत्या कर दी, शायद उन्होंने प्लास्टिक के दस्तानों का इस्तेमाल इसलिए किया, जिससे उन्हें पकड़ा नहीं जा सकेगा।”

गोपी ने कहा, “केवल पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट से ही उनकी मौत का कारण पता चल सकता है।” लेकिन, लिंगायत पुलिस स्टेशन में उन्होंने जब-जब पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बारे में पूछा तो उन्हें बार-बार वहाँ से भगा दिया गया।

इस मामले में गोसांपल्ली के सरपंच टेकू गंगाराम ने भी कहा कि पीड़िता की गर्दन में चोट के निशान थे, जिससे यह पता चलता है कि शायद उनकी गला घोंटकर हत्या कर दी गई है। लेकिन, वो इस बात की पुष्टि के लिए पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट का इंतज़ार कर रहे हैं।

समाचार पोर्टल द न्यूज मिनट की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि पुलिस के अनुसार, आरोपित- शेख बाबू (35), शेख शाबोद्दीन (30) और शेख मकदूम (40) ने बलात्कार और हत्या की बात क़बूल कर ली है। पुलिस ने उन पर हत्या और बलात्कार के साथ-साथ अनुसूचित जाति/जनजाति अत्याचार निवारण अधिनियम के तहत मामला दर्ज किया है। तीनों को न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है।

लिंगापुर के सब-इंस्पेक्टर ने बताया कि आरोपितों ने पीड़िता पर तब हमला किया, जब वो एक गाँव में अकेले घूम रही थीं। इसके बाद उन्होंने मिलकर बलात्कार और हत्या की वारदात को अंजाम दिया।

स्थानीय बडगा जंगम जाति के संगठन के महासचिव टेकु मधु ने स्वराज्य को बताया कि आरोपित एलापेटार गाँव से ताल्लुक रखते हैं, जो मुस्लिम बहुल है और गोंड भाषा को उर्दू के साथ मिला कर बोलते हैं। उन्होंने बताया, “हम उनके लिए सार्वजनिक फाँसी से कम कुछ नहीं चाहते।”

गोपी ने घटना के बारे में ज्यादा कुछ नहीं बताया। गंगाराम और अन्य ग्रामीणों ने कहा कि अपराध के एक दिन बाद, उन्होंने खुद पर मिट्टी का तेल डाला और ख़ुद को आग लगाने की कोशिश की, लेकिन पड़ोसियों ने समय रहते उन्हें बचा लिया।

एक महिला पड़ोसी ने गोपी के बारे में बताया, “उनकी स्थिति अभी भी स्थिर नहीं है। आत्महत्या करने की सोचने से पहले उन्होंने बच्चों के बारे में भी नहीं सोचा।” महिला ने कहा, “ऐसी त्रासदी भला कौन सहन कर सकता है? अब बच्चों का क्या होगा।” उन्होंने बताया कि उनका एक बच्चा आठ साल का है और दूसरा 10 साल का है।

पीड़िता के भाई ने कहा कि ग़रीब परिवार को एक बड़ा झटका लगा है और मीडिया के माध्यम से उन्होंने सरकार से वित्तीय सहायता की अपील की है। वहीं, एक अन्य पड़ोसी ने कहा, “सरकार की ओर से अब तक किसी ने भी हमसे मुलाक़ात नहीं की है।”

ग्रामीणों ने कहा कि उन्होंने लिंगापुर में दंपति के पड़ोसियों से सुना है कि आरोपित शराबी और नशेड़ी थे। एक आरोपित ने कहा कि उसकी शादी पिछले साल हुई थी और उसकी पत्नी सात महीने की गर्भवती थी।

गोसांपल्ली में महिलाओं ने कहा कि उन्हें घर से बाहर निकलने से बहुत डर लगता है। इनमें से कई महिलाएँ पीड़िता की ही तरह सड़क पर घूम-घूम कर काम करती हैं। एक महिला ने बताया कि पीड़िता बहुत सुंदर महिला थीं इसलिए आरोपितों की नज़र उनके ऊपर कई दिनों से थी। इस वारदात को योजनाबद्ध तरीके से अंजाम दिया गया है।

मारे गए सभी आरोपित: पुलिस ने वहीं किया एनकाउंटर, जहाँ ‘प्रीति रेड्डी’ के साथ किया था जघन्य अपराध

‘पूरी तरह जली या नहीं’ – स्कूटर से बॉडी को वापस देखने आए थे आरोपित: ‘प्रीति’ रेड्डी केस में नया खुलासा

‘प्रीति’ रेड्डी केस: खेत में घसीट कर बारी-बारी से किया रेप, ट्रक में लाश डाल खरीदा था पेट्रोल-डीजल

प्रीति रेड्डी मर गई फिर भी रेप करते रहे दरिंदे: आरिफ के प्लानिंग की पूरी डिटेल

…वो पेट्रोल पम्प वर्कर, जिसकी मदद से ‘प्रीति रेड्डी’ के बलात्कारी-हत्यारे तक पहुँच पाई पुलिस

आरिफ ने ‘प्रीति रेड्डी’ का मुँह-नाक दबाया, उसी ने डेड बॉडी पर पेट्रोल डाला: पुलिस की रिपोर्ट में भयावह खुलासे

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘हमें आईएसआई का आदेश है, सीएए विरोधी प्रदर्शन को उग्र बनाना है’: दिल्ली दंगों में अतहर खान ने लिए 3 नाम

दिल्ली दंगों के मामले में गिरफ्तार अतहर खान ने तीन ऐसे लोगों के नाम लिए हैं जो खालिस्तान समर्थक हैं और आईएसआई के लगातार संपर्क में थे।

ड्रग्स स्कैंडल: रकुल प्रीत ने उगले 4 बड़े बॉलीवुड सितारों के नाम, करण जौह​र ने क्षितिज रवि से पल्ला झाड़ा

NCB आज दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और श्रद्धा कपूर से पूछताछ करने वाली है। उससे पहले रकुल प्रीत ने क्षितिज का नाम लिया है, जो करण जौहर के करीबी बताए जाते हैं।

‘यही लोग संस्थानों की प्रतिष्ठा को ठेस पहुँचाने का मौका नहीं छोड़ते’: उमर खालिद के समर्थकों को पूर्व जजों ने लताड़ा

दिल्ली दंगों में उमर खालिद की गिरफ्तारी के बाद पुलिस और सरकारी की मंशा पर सवाल उठाने वाले लॉबी को पूर्व जजों ने लताड़ लगाई है।

‘मारो, काटो’: हिंदू परिवार पर हमला, 3 घंटे इस्लामी भीड़ ने चौथी के बच्चे के पोस्ट पर काटा बवाल

कानपुर के मकनपुर गाँव में मुस्लिम भीड़ ने एक हिंदू घर को निशाना बनाया। बुजुर्गों और महिलाओं को भी नहीं छोड़ा।

चीन ने शिनजियांग में 3 साल में 16000 मस्जिद ध्वस्त किए, 8500 का तो मलबा भी नहीं बचा

कई मस्जिदों को सार्वजनिक शौचालयों में बदल दिया गया। मौजूदा मस्जिदों में से 75% में ताला जड़ा है या आज उनमें कोई आता-जाता नहीं है।

‘मुझे सोफे पर धकेला, पैंट खोली और… ‘: पुलिस को बताई अनुराग कश्यप की सारी करतूत

अनुराग कश्यप ने कब, क्या और कैसे किया, यह सब कुछ पायल घोष ने पुलिस को दी शिकायत में विस्तार से बताया है।

प्रचलित ख़बरें

‘मुझे सोफे पर धकेला, पैंट खोली और… ‘: पुलिस को बताई अनुराग कश्यप की सारी करतूत

अनुराग कश्यप ने कब, क्या और कैसे किया, यह सब कुछ पायल घोष ने पुलिस को दी शिकायत में विस्तार से बताया है।

पूना पैक्ट: समझौते के बावजूद अंबेडकर ने गाँधी जी के लिए कहा था- मैं उन्हें महात्मा कहने से इंकार करता हूँ

अंबेडकर ने गाँधी जी से कहा, “मैं अपने समुदाय के लिए राजनीतिक शक्ति चाहता हूँ। हमारे जीवित रहने के लिए यह बेहद आवश्यक है।"

‘काफिरों का खून बहाना होगा, 2-4 पुलिस वालों को भी मारना होगा’ – दिल्ली दंगों के लिए होती थी मीटिंग, वहीं से खुलासा

"हम दिल्ली के मुख्यमंत्री पर दबाव डालें कि वह पूरी हिंसा का आरोप दिल्ली पुलिस पर लगा दें। हमें अपने अधिकारों के लिए सड़कों पर उतरना होगा।”

नूर हसन ने कत्ल के बाद बीवी, साली और सास के शव से किया रेप, चेहरा जला अलग-अलग जगह फेंका

पानीपत के ट्रिपल मर्डर का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने नूर हसन को गिरफ्तार कर लिया है। उसने बीवी, साली और सास की हत्या का जुर्म कबूल कर लिया है।

‘मारो, काटो’: हिंदू परिवार पर हमला, 3 घंटे इस्लामी भीड़ ने चौथी के बच्चे के पोस्ट पर काटा बवाल

कानपुर के मकनपुर गाँव में मुस्लिम भीड़ ने एक हिंदू घर को निशाना बनाया। बुजुर्गों और महिलाओं को भी नहीं छोड़ा।

एजाज़ ने प्रिया सोनी से कोर्ट मैरिज के बाद इस्लाम कबूल करने का बनाया दबाव, मना करने पर दोस्त शोएब के साथ रेत दिया...

"एजाज़ ने प्रिया को एक लॉज में बंद करके रखा था, वह प्रिया पर लगातार धर्म परिवर्तन का दबाव बनाता था। जब वह अपने इरादों में कामयाब नहीं हुआ तो उसने चोपन में दोस्त शोएब को बुलाया और उसके साथ मिल कर प्रिया का गला रेत दिया।"

‘हमें आईएसआई का आदेश है, सीएए विरोधी प्रदर्शन को उग्र बनाना है’: दिल्ली दंगों में अतहर खान ने लिए 3 नाम

दिल्ली दंगों के मामले में गिरफ्तार अतहर खान ने तीन ऐसे लोगों के नाम लिए हैं जो खालिस्तान समर्थक हैं और आईएसआई के लगातार संपर्क में थे।

बेंगलुरु ब्लास्ट: केरल से धराए गुलनवाज की जड़ें यूपी में, अब्बू ने कहा- मेरा बेटा आतंकी नहीं हो सकता

आतंकी मुहम्मद गुलनवाज ने हवाला नेटवर्क का इस्तेमाल कर लश्कर के लिए फंडिंग जुटाई थी ताकि भारत में आतंकी गतिविधियों को अंजाम दिया जा सके।

झारखंड: पहाड़िया जनजाति की नाबालिग से गैंगरेप, अंसारी गिरफ्तार; पुलिस पर मामले को दबाने का आरोप

झारखंड के गोड्डा जिले में पहाड़िया जनजाति की नाबालिग से चार लोगों ने रेप किया। आरोपितों में से एक महताब अंसारी गिरफ्तार कर लिया गया है।

ड्रग्स स्कैंडल: रकुल प्रीत ने उगले 4 बड़े बॉलीवुड सितारों के नाम, करण जौह​र ने क्षितिज रवि से पल्ला झाड़ा

NCB आज दीपिका पादुकोण, सारा अली खान और श्रद्धा कपूर से पूछताछ करने वाली है। उससे पहले रकुल प्रीत ने क्षितिज का नाम लिया है, जो करण जौहर के करीबी बताए जाते हैं।

‘यही लोग संस्थानों की प्रतिष्ठा को ठेस पहुँचाने का मौका नहीं छोड़ते’: उमर खालिद के समर्थकों को पूर्व जजों ने लताड़ा

दिल्ली दंगों में उमर खालिद की गिरफ्तारी के बाद पुलिस और सरकारी की मंशा पर सवाल उठाने वाले लॉबी को पूर्व जजों ने लताड़ लगाई है।

नूर हसन ने कत्ल के बाद बीवी, साली और सास के शव से किया रेप, चेहरा जला अलग-अलग जगह फेंका

पानीपत के ट्रिपल मर्डर का पर्दाफाश करते हुए पुलिस ने नूर हसन को गिरफ्तार कर लिया है। उसने बीवी, साली और सास की हत्या का जुर्म कबूल कर लिया है।

‘मारो, काटो’: हिंदू परिवार पर हमला, 3 घंटे इस्लामी भीड़ ने चौथी के बच्चे के पोस्ट पर काटा बवाल

कानपुर के मकनपुर गाँव में मुस्लिम भीड़ ने एक हिंदू घर को निशाना बनाया। बुजुर्गों और महिलाओं को भी नहीं छोड़ा।

चीन ने शिनजियांग में 3 साल में 16000 मस्जिद ध्वस्त किए, 8500 का तो मलबा भी नहीं बचा

कई मस्जिदों को सार्वजनिक शौचालयों में बदल दिया गया। मौजूदा मस्जिदों में से 75% में ताला जड़ा है या आज उनमें कोई आता-जाता नहीं है।

‘मुझे सोफे पर धकेला, पैंट खोली और… ‘: पुलिस को बताई अनुराग कश्यप की सारी करतूत

अनुराग कश्यप ने कब, क्या और कैसे किया, यह सब कुछ पायल घोष ने पुलिस को दी शिकायत में विस्तार से बताया है।

‘नशे में कौन नहीं है, मुझे बताओ जरा?’: सितारों का बचाव कर संजय राउत ने ‘शराबी’ वाले अमिताभ की याद दिलाई

ड्रग्स मामले में दीपिका पादुकोण से पूछताछ से पहले संजय राउत ने बॉलीवुड सितारों का बचाव करते हुए NCB पर साधा निशाना है।

हमसे जुड़ें

264,935FansLike
78,030FollowersFollow
324,000SubscribersSubscribe
Advertisements