Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजMale Rape: 11 साल के मासूम के साथ 15 साल के सीनियर की दरिंदगी,...

Male Rape: 11 साल के मासूम के साथ 15 साल के सीनियर की दरिंदगी, देहरादून आवासीय स्कूल की घटना

आरोपित 10वीं कक्षा का छात्र और हरियाणा का निवासी है। उसे स्कूल से निकाल दिया गया है। पुलिस को स्कूल प्रबंधन द्वारा रिपोर्ट क्यों नहीं दर्ज कराई गई, इसकी भी जाँच हो रही है।

देहरादून के एक आवासीय स्कूल (residential school, boarding school) में 11 वर्षीय छात्र के साथ समलैंगिक बलात्कार की घटना प्रकाश में आई है।

मीडिया रिपोर्टों में बताया जा रहा है कि पिछले शनिवार (3 अगस्त) की बताई जा रही इस घटना की जानकारी तब मिली, जब पीड़ित छात्र ने अपने घर वालों को इसके बारे में बताया। इसके बाद घटना की FIR लिखी गई है, और आरोपित छात्र को स्कूल से निष्कासित कर दिया गया है।

कमरे में ले जाकर पहले मारपीट

मीडिया से बात करते हुए SHO सीबी सिंह ने बताया कि पीड़ित के बयान के अनुसार 15-वर्षीय आरोपित लड़का उसे एक कमरे में ले गया। वहाँ पहले उसके साथ मारपीट की, और बाद में बलात्कार। घटना की FIR देहरादून के रायपुर में तब कराई गई जब दिल्ली के रहने वाले छठी कक्षा के पीड़ित छात्र ने अपने माँ-बाप को इस घटना के बारे में बताया।

आरोपित के खिलाफ मामला आईपीसी की धारा 377 के अंतर्गत दर्ज किया गया है, और उसे स्कूल से निकाल दिया गया बताया जा रहा है। टाइम्स नाउ न्यूज़ के मुताबिक घटना की पुलिस को रिपोर्ट स्कूल प्रबंधन द्वारा क्यों नहीं दर्ज कराई गई, इसकी भी जाँच हो रही है। आरोपित दसवीं कक्षा का छात्र और हरियाणा का निवासी बताया जा रहा है

स्थानीय मीडिया के मुताबिक देहरादून के एसएसपी अरुण मोहन जोशी ने घटना पर सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, 11वीं सदी का शिलालेख है साक्ष्य!!

नालंदा विश्वविद्यालय को ब्राह्मणों ने ही जलाया था, बख्तियार खिलजी ने नहीं। ब्राह्मण+बुर्के वाली के संभोग को खोद निकाला है इस इतिहासकार ने।

10 साल जेल, ₹1 करोड़ जुर्माना, संपत्ति भी जब्त… पेपर लीक के खिलाफ आ गया मोदी सरकार का सख्त कानून, NEET-NET परीक्षाओं में गड़बड़ी...

परीक्षा आयोजित करने में जो खर्च आता है, उसकी वसूली भी पेपर लीक गिरोह से ही की जाएगी। केंद्र सरकार किसी केंद्रीय जाँच एजेंसी को भी ऐसी स्थिति में जाँच सौंप सकती है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -