Wednesday, August 4, 2021
Homeदेश-समाज'केजरीवाल के खाकी वाले वसूली भाइयों' ने कार ड्राइवर की बेल्ट से की पिटाई,...

‘केजरीवाल के खाकी वाले वसूली भाइयों’ ने कार ड्राइवर की बेल्ट से की पिटाई, बदले में जनता ने भी धुना

"ये सिविल डिफेंस केजरीवाल के 'वसूली भाई' हैं। दिल्ली में जगह-जगह लोगों को सड़कों पर लूटा-मारा जा रहा। नकली खाकी पहन कर हजारों-लाखों रुपयों के चालान हो रहे हैं।"

दिल्ली में आम आदमी पार्टी (AAP) सरकार के सिविल डिफेंस कर्मियों ने जनता के साथ हाथपाई की। इस घटना का वीडियो भी वायरल हो गया, जिसमें सिविल डिफेंस के लोग ज्यादती करते और एक ड्राइवर को बेल्ट से पीटते हुए दिख रहे हैं। हौज खास में ग्रीन लाइट पर चालान के लिए कार के सामने कूदने पर हुई कहासुनी के बाद सिविल डिफेंस (DCD) वालों ने एक कार के ड्राइवर को बेल्ट से पीटा। इसके बाद जनता ने भी मिल कर उसकी धुनाई की।

असल में, मामला कुछ यूँ है कि DCD कर्मी के अचानक सामने आने के कारण कार के ड्राइवर ने ब्रेक लगाया था, जिसके बाद पीछे से आ रही एक गाड़ी उसकी कार से टकरा गई। कार को नुकसान पहुँचा तो ड्राइवर बौखला गया और उसने सिविल डिफेंस वाले को मारा। इसके बाद दोनों के बीच बहस शुरू हो गई। इसके बाद सिविल डिफेंस के कई कर्मी वहाँ जमा हो गए और उन्होंने बेल्ट निकाल कर चालक की पिटाई शुरू कर दी।

इसके बाद वहाँ लोगों की भीड़ जुट गई। जनता ने पूरा मामला जानने के बाद इस प्रकरण में DCD वालों की ही गलती मानी। फिर पिटाई का तीसरा दौर शुरू हुआ और पब्लिक ने सिविल डिफेंस वालों को पीटा। DCP साऊथ अतुल ठाकुर ने जानकारी दी है कि दोनों पक्षों की तरफ से शिकायत मिली थी, जिसके बाद FIR दर्ज हुई है। दोनों ही FIR में गैर इरादतन हत्या की कोशिश की धाराएँ लगाई गई हैं।

पुलिस के अनुसार, IIT गेट वाली रेड लाइट पर सिविल डिफेंस वाले बिना मास्क वालों का चालान काट रहे थे। इसी दौरान रेड लाइट ग्रीन हो गई और गाड़ियाँ जाने लगीं। इसी बीच वो एक गाड़ी के सामने कूद गए, जिससे ड्राइवर गीतेश डागर को ब्रेक मारनी पड़ी। गीतेश को बेल्ट से पीटने और पब्लिक द्वारा एक डिफेंस कर्मी के सिर को जख्मी करने का आरोप लगा है। पुलिस मामले की जाँच कर ही है।

भाजपा नेता व पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा ने इस घटना पर टिप्पणी करते हुए कहा, “ये सिविल डिफेंस केजरीवाल के ‘वसूली भाई’ हैं। दिल्ली में जगह-जगह लोगों को सड़कों पर लूटा मारा जा रहा है। नकली खाकी पहन कर हजारों-लाखों रुपयों के चालान हो रहे हैं। दिल्ली वाले ज्यादा दिन तक ये नहीं सहेंगे। दिल्ली पुलिस को इस आतंक पर रोक लगानी ही होगी।” कई अन्य लोगों ने भी AAP सरकार पर निशाना साधा।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अफगानिस्तान के सबसे सुरक्षित इलाके में तालिबानी हमला, रक्षा मंत्री निशाना: ब्लास्ट व गोलीबारी, सड़कों पर गूँजा ‘अल्लाहु अकबर’

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल के विभिन्न हिस्सों में गोलीबारी और बम ब्लास्ट की आवाज़ें आईं। शहर के उस 'ग्रीन जोन' में भी ये सब हुआ, जो कड़ी सुरक्षा वाला इलाका है।

एक मंदिर जिसे कहते हैं तांत्रिकों की यूनिवर्सिटी, इसके जैसा ही है लुटियंस का बनाया संसद भवन: मुरैना का चौसठ योगिनी मंदिर

माना जाता है कि मुरैना के चौसठ योगिनी मंदिर से ही प्रेरित होकर भारत की संसद भवन का डिजाइन लुटियंस ने तैयार किया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
112,864FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe