Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजमजहबी भीड़ ने फूँक दी दुकान, 'श्याम चाय वाले' की मदद के लिए आएँ...

मजहबी भीड़ ने फूँक दी दुकान, ‘श्याम चाय वाले’ की मदद के लिए आएँ आगे, ये रहे बैंक डिटेल्स

ऑपइंडिया ने श्याम को हरसंभव मदद का भरोसा दिया है। इसके लिए श्याम के बैंक अकाउंट की पुष्टि के बाद सारी डिटेल्स नीचे दे रहे हैं। इस मुश्किल वक़्त में दंगा पीड़ित श्याम साहनी के परिवार की मदद के लिए आगे आएँ।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हिंदू विरोधी दंगों के दौरान मजहबी भीड़ ने करावल नगर इलाके में मौजूद ‘श्याम टी स्टॉल’ को निशाना बनाया। लूटपाट के बाद दुकान को आग के हवाले कर दिया। इस दुकान के मालिक श्याम साहनी सब कुछ देख रहे थे, लेकिन चाहकर भी कुछ कर न सके। इस घटना के बाद से श्याम का परिवार, जो हर रोज सुबह से शाम तक इलाके के न जाने कितने लोगों के दिन की शुरुआत एक कप मीठी चाय के साथ कराता था, आज उसी परिवार को एक कप चाय नसीब नहीं हो रही है। श्याम अपने बीबी-बच्चों की जान को बचाने के लिए एक घर से दूसरे घरों में छिपते हुए बिता रहे हैं।

श्याम साहनी दशकों पहले रोजी-रोटी की तलाश में बिहार से दिल्ली आए थे। करावल नगर में ‘श्याम टी स्टॉल’ के नाम से दुकान खोली। लेकिन, श्याम ने कभी सोचा भी नहीं होगा कि जिन लोगों को वह अपने हाथों से मिठास भरी चाय बनाकर पिलाते हैं एक दिन उन्हीं में से कुछ लोग दुकान को आग लगा देंगे।

सोमवार (24 फरवरी 2020) को हिंसा भड़कने के बाद श्याम अपनी दुकान बंद ही कर रहे थे कि दंगाइयों की भीड़ अचानक से पत्थरबाजी करती हुई आई। दंगाइयों ने पहले तो जमकर लूटपाट और तोड़फोड़ की। इसके बाद उन्हीं की आँखों के सामने दंगाई मजहबी भीड़ ने चाय की दुकान को आग के हवाले कर दिया। श्याम किसी तरह अपनी जान बचाकर भागे। इसके बाद डर से श्याम ने किराए का मकान खाली कर दिया। बीबी-बच्चों के साथ एक परिचित के घर में पनाह ले राखी है। जब ऑपइंडिया की टीम मौके पर पहुँची तो आस-पास के लोगों ने बताया था, “चार दिन तक श्याम ने कपड़े बदलना तो दूर कुछ खाया तक नहीं। उसकी आँखों के सामने उसका सब कुछ बर्बाद हो गया।”

ताहिर हुसैन की छत से चले पेट्रोल बम में बर्बाद हुई ‘श्याम टी स्टॉल’

दरअसल बिहार वैशाली के चंदपुरा पातेपुर गांव के रहने वाले श्याम साहनी, पुत्र रामचन्द्र साहनी करीब 33 साल पहले (1987) दिल्ली में नौकरी करने के लिए आए थे। इसके बाद वह बच्चों को भी दिल्ली ले गए। श्याम के चार छोटे-छोटे बच्चे नीरज कुमार, धीरज कुमार, सन्नी और रोशन हैं, जो कि दंगों के बाद से बेहद डरे हुए हैं। इस घटना के बाद श्याम के परिवार पर दुखों का पहाड़ टूट पड़ा है। श्याम का परिवार इन दिनों दूसरे के घरों में माँगकर खाना खाने को मजबूर है। अब ऐसे में बड़ा सवाल ये खड़ा होता कि इस हालात में श्याम अपने परिवार का पालन-पोषण कैसे कर पाएगा?

श्याम का परिवार रुंधे गले से बस एक ही बात कहता है कि “अब मेरा गुजारा कैसे होगा बाबू जी”। श्याम के मुताबिक उसकी दुकान में करीब पाँच लाख रुपए का नुकसान हुआ है। ऑपइंडिया ने श्याम को हरसंभव मदद का भरोसा दिया है। श्याम के बैंक अकाउंट की पुष्टि के बाद सारी डिटेल्स नीचे दे रहे हैं। इस मुश्किल वक़्त में दंगा पीड़ित श्याम साहनी के परिवार की मदद के लिए आगे आएँ।

Shyam Sahni
Bank of Baroda, Yamuna Vihar, Delhi
Ac no- 44630100001671
IFSC- BARB0YAMDEL (कृपया ध्यान रखें 5वॉं अक्षर शून्य यानी जीरो है)



Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termsश्याम चाय वाला, श्याम सहनी, श्याम सहनी बैंक डिटेल, सुब्रमण्यम स्वामी ट्वीट, सुब्रमण्यम स्वामी ताहिर हुसैन, सुब्रमण्यम स्वामी अंकित शर्मा आईबी, दिल्ली हिंसा, शिव विहार, शिव विहार चौक, Shiv Vihar, दंगाई भीड़, दिल्ली शिव विहार, दिल्ली दंगे चश्मदीद, दिल्ली हिंसा चश्मदीद, दिल्ली हिंसा महिला, दिल्ली दंगों में कितने मरे, दिल्ली में कितने हिंदू मरे, मोहम्मद शाहरुख, जाफराबाद शाहरुख, शाहरुख फरार, ताहिर हुसैन आप, ताहिर हुसैन एफआईआर, ताहिर हुसैन अमानतुल्लाह, चांदबाग शिव मंदिर पर हमला, दिल्ली दंगा मंदिरों पर हमला, दिल्ली मंदिरों पर हमले, मंदिरों पर हमले, चांदबाग पुलिया, अरोड़ा फर्नीचर, ताहिर हुसैन के घर का तहखाना, अंकित शर्मा केजरीवाल, अंकित शर्मा ताहिर हुसैन, अंकित शर्मा का परिवार, अंकित शर्मा के पिता, अंकित शर्मा के भाई अंकुर, दिल्ली शाहदरा, शाहदरा दिलबर सिंह, उत्तराखंड दिलवर सिंह, दिल्ली हिंसा में दिलवर सिंह की हत्या, रवीश कुमार मोहम्मद शाहरुख, रवीश कुमार अनुराग मिश्रा, रतनलाल, साइलेंट मार्च, यूथ अगेंस्ट जिहादी हिंसा, दिल्ली हिंसा एनडीटीवी, एनडीटीवी श्रीनिवासन जैन, एनडीटीवी रवीश कुमार, रवीश कुमार प्राइम टाइम, रवीश कुमार दिल्ली हिंसा, दीपक चौरसिया एनडीटीवी, NDTV के पत्रकार पर हमला, दिल्ली हिंसा में कितने मरे, दिल्ली दंगों में मरे, दिल्ली कितने हिंदू मरे, दिल्ली हाईकोर्ट, जस्टिस मुरलीधर, जस्टिस मुरलीधर का तबादला, दिल्ली हाई कोर्ट जस्टिस मुरलीधर, दिल्ली हाई कोर्ट कपिल मिश्रा, दिल्ली दंगों में आप की भूमिका, आप पार्षद ताहिर हुसैन, आप नेता ताहिर हुसैन, ताहिर हुसैन वीडियो, कपिल मिश्रा ताहिर हुसैन, अंकित शर्मा का भाई, आईबी कॉन्स्टेबल की हत्या, अंकित शर्मा की हत्या, चांदबाग अंकित शर्मा की हत्या, दिल्ली हिंसा विवेक, विवेक ड्रिल मशीन से छेद, विवेक जीटीबी अस्पताल, विवेक एक्सरे, दिल्ली हिंदू युवक की हत्या, दिल्ली विनोद की हत्या, दिल्ली ब्रहम्पुरी विनोद की हत्या, दिल्ली हिंसा अमित शाह, दिल्ली हिंसा केजरीवाल, दिल्ली हिंसा उपराज्यपाल, अमित शाह हाई लेवल मीटिंग, दिल्ली पुलिस, दिल्ली पुलिस रतनलाल, हेड कांस्टेबल रतनलाल, रतनलाल का परिवार, ट्रंप का भारत दौरा, ट्रंप मोदी, बिल क्लिंटन का भारत दौरा, छत्तीसिंह पुरा नरसंहार, दिल्ली हिंसा, नॉर्थ ईस्ट दिल्ली, दिल्ली पुलिस, करावल नगर, जाफराबाद, मौजपुर, गोकलपुरी, शाहरुख, कांस्टेबल रतनलाल की मौत, दिल्ली में पथराव, दिल्ली में आगजनी, दिल्ली में फायरिंग, भजनपुरा, दिल्ली सीएए हिंसा
ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘चोर औरंगजेब’ की मौत को लेकर खौफ में हिंदू परिवार, व्यापार समेटकर कहीं और बसने की तैयारी: ऑपइंडिया को बताया अलीगढ़ में अब क्यों...

अलीगढ़ के कथित चोर औरंगज़ेब की मौत मामले में नामजद हिन्दू व्यापारियों के परिजन अब व्यापार समेट कर कहीं और बसने का मन बना रहे हैं।

NEET पेपरलीक का मास्टरमाइंड निकाल बिहार का लूटन मुखिया, डॉक्टर बेटा भी जेल में: पत्नी लड़ चुकी है विधानसभा चुनाव, नौकरी छोड़ खुद बना...

नीट पेपर लीक के मास्टरमाइंड में से एक संजीव उर्फ लूटन मुखिया। वह BPSC शिक्षक बहाली पेपर लीक कांड में जेल जा चुका है। बेटा भी जेल में है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -