Thursday, August 5, 2021
Homeदेश-समाजकॉन्स्टेबल पर पिस्टल तानने वाला मोहम्मद शाहरुख अब भी फरार, दिल्ली दंगों को लेकर...

कॉन्स्टेबल पर पिस्टल तानने वाला मोहम्मद शाहरुख अब भी फरार, दिल्ली दंगों को लेकर हिरासत में 514

हिंसा की जाँच के लिए दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के तहत दो एसआईटी का गठन किया गया है। एसआईटी की एक टीम को डीसीपी जॉय टिर्की लीड करेंगे, जबकि जबकि दूसरी टीम के हेड डीसीपी राजेश देव होंगे।

उत्तर-पूर्वी दिल्ली के जाफराबाद में हिंसा के दौरान सरेआम पुलिसकर्मी पर पिस्तौल तानने और आठ राउंड गोलियाँ चलाने वाला मोहम्मद शाहरुख अब भी फरार बताया जा रहा है। पहले उसे गिरफ्तार कर लिए जाने की खबर आई थी। लेकिन, न्यूज एजेंसी एएनआई ने सूत्रों के हवाले से बताया है कि उसकी तलाश की जा रही है। कई मीडिया रिपोर्टों में पुलिस अधिकारियों के हवाले से भी उसके फरार होने की बात कही गई है। लोकल पुलिस के अलावा क्राइम ब्रांच और स्पेशल सेल की टीमें उसकी तलाश कर रही हैं। शाहरुख अपने पूरे परिवार के साथ फरार बताया जा रहा है।

एक पुलिस अधिकारी ने समाचार चैनल से बात करते हुए कहा कि दिल्ली पुलिस लगातार इस्लामी शूटर की तलाश कर रही है। शाहरुख के गिरफ्त में आने के बाद ही इस बात का पता चल सकता है कि उसने वह पिस्तौल और कारतूस कहाँ से खरीदे थे, जिसका इस्तेमाल उसने दंगों के दौरान किया था। न्यूज पोर्टल द क्विंट ने भी दिल्ली पुलिस अधिकारी के हवाले से लिखा है कि शाहरुख को अभी तक गिरफ्तार नहीं किया जा सका है।

वहीं गुरुवार शाम को गृह मंत्रालय की ओर से कहा गया है कि पिछले 36 घंटे में नॉर्थ-ईस्ट जिले के हिंसा प्रभावित किसी भी थाना क्षेत्र में कोई बड़ी घटना सामने नहीं आई है। शुक्रवार (फरवरी 28, 2020) को हालात को देखते हुए सेक्शन 144 से लोगों को 10 घंटे के लिए राहत दी जाएगी। आगे कहा गया है कि अभी तक दिल्ली हिंसा में कुल 48 FIR दर्ज की गई हैं, जिसमें दंगे भड़काने, जान से मारने, संपत्ति का नुकसान आदि के मामले शामिल हैं। आने वाले समय में और भी FIRदर्ज की जाएगी। पुलिस ने फिलहाल 514 संदिग्ध लोगों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया है। जाँच के दौरान आगे और भी गिरफ्तारी की जा सकती है।

बता दें कि कि उत्तर-पूर्वी दिल्ली में CAA के मुद्दे के लेकर हुई हिंसा में मरने वालों की संख्या बढ़कर 38 हो गई है। वहीं 200 से अधिक घायल लोगों का अलग-अलग अस्पतालों में इलाज चल रहा है। अलग-अलग अस्पतालों में लगभग 30 लोगों की हालत नाजुक बनी हुई है। वहीं उत्तर-पूर्वी दिल्ली हिंसा मामले में पुलिस ने अब तक 106 लोगों को गिरफ्तार कर चुकी है।

हिंसा की जाँच के लिए दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच के तहत दो एसआईटी का गठन किया गया है। एसआईटी की एक टीम को डीसीपी जॉय टिर्की लीड करेंगे, जबकि जबकि दूसरी टीम के हेड डीसीपी राजेश देव होंगे। दोनों एसआईटी टीमों में चार-चार ACP होंगे यानी कुल आठ एसीपी। इसके अलावा तीन-तीन इंस्पेक्टर, चार-चार सब-इंस्पेक्टर और बाकी पुलिसकर्मी रहेंगे। यह SIT क्राइम ब्रांच के एडिशनल सीपी बीके सिंह की अगुआई में काम करेगी।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

Searched termsमोहम्मद शाहरुख, जाफराबाद शाहरुख, शाहरुख फरार, ताहिर हुसैन आप, ताहिर हुसैन एफआईआर, ताहिर हुसैन अमानतुल्लाह, चांदबाग शिव मंदिर पर हमला, दिल्ली दंगा मंदिरों पर हमला, दिल्ली मंदिरों पर हमले, मंदिरों पर हमले, चांदबाग पुलिया, अरोड़ा फर्नीचर, ताहिर हुसैन के घर का तहखाना, अंकित शर्मा केजरीवाल, अंकित शर्मा ताहिर हुसैन, अंकित शर्मा का परिवार, अंकित शर्मा के पिता, अंकित शर्मा के भाई अंकुर, दिल्ली शाहदरा, शाहदरा दिलबर सिंह, उत्तराखंड दिलवर सिंह, दिल्ली हिंसा में दिलवर सिंह की हत्या, रवीश कुमार मोहम्मद शाहरुख, रवीश कुमार अनुराग मिश्रा, रतनलाल, साइलेंट मार्च, यूथ अगेंस्ट जिहादी हिंसा, दिल्ली हिंसा एनडीटीवी, एनडीटीवी श्रीनिवासन जैन, एनडीटीवी रवीश कुमार, रवीश कुमार प्राइम टाइम, रवीश कुमार दिल्ली हिंसा, दीपक चौरसिया एनडीटीवी, NDTV के पत्रकार पर हमला, दिल्ली हिंसा में कितने मरे, दिल्ली दंगों में मरे, दिल्ली कितने हिंदू मरे, दिल्ली हाईकोर्ट, जस्टिस मुरलीधर, जस्टिस मुरलीधर का तबादला, दिल्ली हाई कोर्ट जस्टिस मुरलीधर, दिल्ली हाई कोर्ट कपिल मिश्रा, दिल्ली दंगों में आप की भूमिका, आप पार्षद ताहिर हुसैन, आप नेता ताहिर हुसैन, ताहिर हुसैन वीडियो, कपिल मिश्रा ताहिर हुसैन, अंकित शर्मा का भाई, आईबी कॉन्स्टेबल की हत्या, अंकित शर्मा की हत्या, चांदबाग अंकित शर्मा की हत्या, दिल्ली हिंसा विवेक, विवेक ड्रिल मशीन से छेद, विवेक जीटीबी अस्पताल, विवेक एक्सरे, दिल्ली हिंदू युवक की हत्या, दिल्ली विनोद की हत्या, दिल्ली ब्रहम्पुरी विनोद की हत्या, दिल्ली हिंसा अमित शाह, दिल्ली हिंसा केजरीवाल, दिल्ली हिंसा उपराज्यपाल, अमित शाह हाई लेवल मीटिंग, दिल्ली पुलिस, दिल्ली पुलिस रतनलाल, हेड कांस्टेबल रतनलाल, रतनलाल का परिवार, ट्रंप का भारत दौरा, ट्रंप मोदी, बिल क्लिंटन का भारत दौरा, छत्तीसिंह पुरा नरसंहार, दिल्ली हिंसा, नॉर्थ ईस्ट दिल्ली, दिल्ली पुलिस, करावल नगर, जाफराबाद, मौजपुर, गोकलपुरी, शाहरुख, कांस्टेबल रतनलाल की मौत, दिल्ली में पथराव, दिल्ली में आगजनी, दिल्ली में फायरिंग, भजनपुरा, दिल्ली सीएए हिंसा
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

अगर बायोलॉजिकल पुरुषों को महिला खेलों में खेलने पर कुछ कहा तो ब्लॉक कर देंगे: BBC ने लोगों को दी खुलेआम धमकी

बीबीसी के आर्टिकल के बाद लोग सवाल उठाने लगे हैं कि जब लॉरेल पैदा आदमी के तौर पर हुए और बाद में महिला बने, तो यह बराबरी का मुकाबला कैसे हुआ।

दिल्ली में कमाल: फ्लाईओवर बनने से पहले ही बन गई थी उसपर मजार? विरोध कर रहे लोगों के साथ बदसलूकी, देखें वीडियो

दिल्ली के इस फ्लाईओवर का संचालन 2009 में शुरू हुआ था। लेकिन मजार की देखरेख करने वाला सिकंदर कहता है कि मजार वहाँ 1982 में बनी थी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
113,042FollowersFollow
395,000SubscribersSubscribe