Monday, August 15, 2022
Homeदेश-समाजरेप का विरोध करने पर 22 साल की लड़की को अधमरा होने तक मारा......

रेप का विरोध करने पर 22 साल की लड़की को अधमरा होने तक मारा… फिर उसी हालत में किया बलात्कार: ऑटो ड्राइवर वाजिद गिरफ्तार

रेप आरोपित वाजिद ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। वाजिद शादीशुदा है और उसकी 2 बेटियाँ भी हैं। आरोपित अपने ऑटो में पीड़िता को बिठा कर सुनसान इलाके ले गया। पीट कर अधमरा करने के बाद उसने...

दिल्ली के दक्षिण पूर्व इलाके में एक ऑटो चालक द्वारा एक युवती के साथ रेप किए जाने की खबर है। आरोपित का नाम वाज़िद है। वो मूल रूप से मेवात का रहने वाला है। पीड़िता के विरोध के बाद वाज़िद ने बेरहमी से पिटाई भी की। पीड़िता का मोबाइल भी छीन लिया। पुलिस ने आरोपित को गिरफ्तार कर लिया है। यह घटना 23 नवम्बर 2021 (मंगलवार) रात की है।

पीड़िता की उम्र लगभग 22 वर्ष है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार पीड़ित लड़की शाहीन बाग़ मेट्रो स्टेशन से घर जाने के लिए ऑटो का इंतज़ार कर रही थी। उसी समय वाज़िद ने अपनी ऑटो से पीड़िता को घर छोड़ने की बात कही। थोड़ी देर में वाज़िद ने ऑटो सुनसान इलाके में घुमा दी। वहाँ उसने पीड़िता के साथ रेप करने का प्रयास किया। जब लड़की शोर मचाने लगी तब उसने पीड़िता को पीट कर अधमरा कर दिया। बाद में मरणासन्न हालत में बलात्कार कर के वो लड़की का मोबाइल ले कर भाग गया।

यह केस सरिता विहार थाने में दर्ज किया गया। यह मुकदमा 24 नवम्बर 2021 (बुधवार) को अपराध संख्या 409/2021 के तहत दर्ज है। पुलिस ने जाँच के दौरान कई CCTV फुटेज निकलवाए। इसी के साथ पीड़िता के बयान के आधार पर ऑटो चालकों के रिकॉर्ड को खंगाला गया। आखिरकार पुलिस वाज़िद तक पहुँच गई।

आरोपित वाज़िद की उम्र लगभग 34 वर्ष है। वाज़िद फिलहाल दिल्ली के जसोला विहार में रहता है। पुलिस ने पीड़िता का मोबाइल भी बरामद कर लिया है। पुलिस ने वारदात में प्रयोग किए गए ऑटो रिक्शे को भी जब्त कर लिया है।

पुलिस के अनुसार वाज़िद ने अपना गुनाह कबूल किया है। वह मेवात से दिल्ली 2010 में आया था। वाज़िद के अब्बा का नाम दीन मोहम्मद है। वह अनपढ़ और शादीशुदा है। उसकी 2 बेटियाँ भी हैं, जिनकी उम्र 5 व 2 वर्ष है। परिवार में 2 बहन व 3 भाई भी हैं। वाज़िद पर आईपीसी (IPC) की धारा 376/365/356/323 के तहत कार्रवाई की गई है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

विकसित भारत के लिए पंच प्रण: लाल किले की प्राचीर से PM मोदी ने दिया मंत्र, बोले – हम वो, जो कंकड़-कंकड़ में देखते...

पीएम मोदी ने बताया कि साल 2014 में वह ऐसे पहले प्रधानमंत्री बने थे जिन्होंने आजाद भारत में जन्म लेकर लाल किले की प्राचीर से झंडे को फहराया।

स्वतंत्रता के हुए 75 साल, फिर भी बाँटी जा रही मुफ्त की रेवड़ी: स्वावलंबन और स्वदेशी से ही आएगी आर्थिक आत्मनिर्भरता

जब हम यह मानते हैं कि सत्य की ही जय होती है तब ईमानदार सत्यवादी देशभक्त नेताओं और उनके समर्थकों को ईडी आदि से भयभीत नहीं होना चाहिए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
213,900FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe