Monday, July 15, 2024
Homeदेश-समाजदिल्ली एयरपोर्ट पर महिला पायलट ने बचाई 300 जान, एक ही रनवे पर आमने-सामने...

दिल्ली एयरपोर्ट पर महिला पायलट ने बचाई 300 जान, एक ही रनवे पर आमने-सामने थे दो विमान: उड़ने और लैंड करने की एक साथ दे दी थी अनुमति

रनवे पार कर रहे अहमदाबाद से दिल्ली जाने वाली विस्तारा फ्लाइट की एक सतर्क पायलट ने तुरंत इस खतरे को पहचान लिया और ATC की मदद से कैप्टन सोनू गिल ने सैकड़ों लोगों की जान बचाई।

दिल्ली एयरपोर्ट पर बुधवार (23 अगस्त, 2023) को उस समय हड़कंप मच गया जब एक ही एयरलाइंस की दो फ्लाइटों को एक ही समय पर उड़ान और लैंडिंग की अनुमति दे दी गई। हालाँकि, समय रहते ही  कंट्रोल रूम के एक्शन से बड़ा हादसा टल गया।

क्या है पूरा मामला 

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, बुधवार को विस्तारा एयरलाइंस की एक फ्लाइट को लैंड होने की एटीसी (एयर ट्रैफिक कण्ट्रोल) से अनुमति मिली, उसी समय विस्तारा की एक अन्य फ्लाइट को भी उड़ान भरने के लिए अनुमति दे दी गई। दरअसल, दिल्ली से बागडोगरा की फ्लाइट यूके-725 हाल ही में उद्घाटन किए गए नए रनवे से उड़ान भर रही थी। ठीक उसी समय अहमदाबाद से दिल्ली की विस्तारा फ्लाइट बगल वाले रनवे पर उतरने के बाद उसी रनवे के आखिरी छोर की ओर बढ़ रही थी। ऐसे में यदि सही समय पर सही निर्णय नहीं लिया गया होता तो बड़ा हादसा हो सकता था। दोनों उड़ानों में चालक दल के सदस्यों सहित कुल लगभग 300 यात्री सवार थे।

इस हादसे को एक महिला पायलट की सतर्कता ने बचा लिया। नागरिक उड्डयन महानिदेशालय (डीजीसीए) ने कहा कि रनवे पार कर रहे अहमदाबाद से दिल्ली जाने वाली विस्तारा फ्लाइट की एक सतर्क पायलट ने तुरंत इस खतरे को पहचान लिया और ATC की मदद से कैप्टन सोनू गिल ने सैकड़ों लोगों की जान बचाई।

रिपोर्ट के अनुसार, जब एटीसी को स्थिति के बारे में चेतावनी मिली तो दोनों विमान 2 किलोमीटर से भी कम दूरी पर थे। अगर उड़ान भरने वाली फ्लाइट सही समय पर नहीं रुकती तो देश के सबसे व्यस्त एयरपोर्ट पर एक बड़ा हादसा हो जाता। 

एटीसी की सतर्कता से टला हादसा

मामले की जानकारी रखने वाले एक अधिकारी ने एएनआई को बताया, “दोनों फ्लाइट को एक ही समय में अनुमति दी गई थी लेकिन एटीसी ने तुरंत नियंत्रण ले लिया। ड्यूटी पर तैनात एटीसी (एयर ट्रैफिक कंट्रोल) अधिकारी ने विस्तारा की उड़ान को उड़ान रद्द करने के लिए कहा।” वहीं इस मामले में डीजीसीए ने एयर ट्रैफिक कंट्रोलर को ड्यूटी से हटा दिया है और मामले की जाँच शुरू कर दी गई है।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘बैकफुट पर आने की जरूरत नहीं, 2027 भी जीतेंगे’: लोकसभा चुनावों के बाद हुई पार्टी की पहली बैठक में CM योगी ने भरा जोश,...

लोकसभा चुनावों के बाद पहली बार भाजपा प्रदेश कार्यसमिति की लखनऊ में आयोजित बैठक में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कार्यकर्ताओं में जोश भरा।

जिसने चलाई डोनाल्ड ट्रंप पर गोली, उसने दिया था बाइडेन की पार्टी को चंदा: FBI लगा रही उसके मकसद का पता

पेंसिल्वेनिया के मतदाता डेटाबेस के मुताबिक, डोनाल्ड ट्रंप पर हमला करने वाला थॉमस मैथ्यू क्रूक्स रिपब्लिकन के मतदाता के रूप में पंजीकृत था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -