Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाज'इंदिरा से लिया था बदला': जिस CISF कॉन्स्टेबल ने कंगना रनौत को मारा थप्पड़...

‘इंदिरा से लिया था बदला’: जिस CISF कॉन्स्टेबल ने कंगना रनौत को मारा थप्पड़ उसे सम्मानित करेंगे किसान नेता, पहलवान भी समर्थन में, विशाल डडलानी देंगे नौकरी

बॉलीवुड संगीतकार विशाल डडलानी ने लिखा, "मैं कभी भी हिंसा का समर्थन नहीं करता, लेकिन मैं इस CISF कर्मी के गुस्से की ज़रूरत को पूरी तरह समझता हूँ। अगर CISF द्वारा उसके खिलाफ़ कोई कार्रवाई की जाती है तो मैं यह सुनिश्चित करूँगा कि अगर वह इसे स्वीकार करना चाहे तो उसके लिए नौकरी की व्यवस्था हो। जय हिंद। जय जवान। जय किसान।"

हिमाचल प्रदेश के मंडी से लोकसभा सासंद चुनी गईं बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनौत को थप्पड़ मारने वाली CISF कॉन्स्टेबल कुलविंदर कौर हिरासत में है। उसने अपनी करस्तानी से लिए माफी माँगी है। वहीं, आरोपित कुलविंदर कौर के समर्थन में किसान नेता से लेकर विपक्षी दलों के राजनेता, पहलवान और फिल्म निर्माता भी आ गए हैं। पहलवान बजरंग पुनिया ने कुलविंदर ने भी कुलविंदर का समर्थन किया है।

INDI गठबंधन के सांसद ने कुलविंदर का किया समर्थन

राजस्थान के सीकर से INDI गठबंधन के नवनिर्वाचित सांसद अमराराम ने कुलविंदर कौर का समर्थन किया है। अमराराम ने कहा, “किसान आंदोलन के खिलाफ बोलने पर जाबांज सिपाही ने जो जवाब दिया, इसके लिए मैं उन्हें धन्यवाद देता हूँ। हो सकता है कि उन्हें सस्पेंड किया जाए या फिर वह बर्खास्त हो, लेकिन शहीद-ए-आजम भगत सिंह तो फाँसी पर झूल गए थे।”

अमराराम ने कहा, “देश में जो भी काले कानून बने हैं, चाहे वह अग्निवीर हो या अन्य। देश के लिए मेडल लाने वाले खिलाड़ियों को बेइज्जत किया गया। किसानों का जो ऐतिहासिक आंदोलन हुआ, उसके खिलाफ बोलने पर एक जांबाज सिपाही ने जिस तरह से उत्तर दिया है, उसे मैं धन्यवाद करता हूँ। देश के लोगों के खिलाफ जो नीतियाँ हैं, उन्हें रद्द करने के लिए आंदोलन लगातार आगे बढ़ेगा।”

आरोपित को सम्मानित करेंगे किसान नेता

वहीं, संयुक्त किसान मोर्चा (गैर-राजनीतिक) और किसान मजदूर मोर्चा ने कंगना को थप्पड़ मारने वाली कुलविंदर कौर का समर्थन क‍िया है। किसान नेताओं ने एलान क‍िया क‍ि यदि कुलविंदर कौर के साथ कोई नाइंसाफी या अन्याय किया गया तो इसे बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। उन्होंने कुलविंदर कौर का पक्ष सुनने की भी माँग की।

किसान नेताओं ने यह भी कहा कि इस मामले की ईमानदारी व पारदर्शी तरीके से जाँच की माँग को लेकर 9 जून को पंजाब-हरियाणा के किसान मोहाली के गुरुद्वारा श्रीअम्ब साहिब में इकट्ठे होंगे। वहाँ से वे सब मोहाली के एसएसपी के दफ्तर तक पैदल “इंसाफ मार्च” करेंगे और माँग पत्र सौंपेंगे। इसके साथ ही उन्होंने कुलविंदर कौर से मुलाकात का भी ऐलान किया है। 

किसान नेता सरवन सिंह पंढेर ने आरोपित महिला जवान का पक्ष लिया है। पंढेर ने कहा, “कंगना के साथ जो घटना हुई है, उसके पीछे किसान आंदोलन के दौरान अभिनेत्री द्वारा की एक अभद्र टिप्पणी जिम्मेदार है। इसलिए सीआईएसएफ की महिला सिपाही के खिलाफ हुई कार्रवाई को वापस नहीं लिया गया तो किसान मोर्चा अगली रणनीति पर विचार करेगा।”

पंजाब के किसान नेता हरेंद्र लक्खोवाल ने कहा, “कंगना रनौत को एक सिख लड़की ने थप्पड़ मारकर बदला लिया है। जालियावाला बाग कांड के आरोपित जनरल डायर और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी की हत्या का उदाहरण देते हुए उन्होंने कहा, “सरदार उधम सिंह ने इंग्लैंड में जाकर डायर से बदला लिया था। सतवंत सिंह और बेअंत सिंह ने प्रधानमंत्री इंदिरा गाँधी से दिल्ली में बदला लिया था।”

इतना ही नहीं, हरियाणा के जींद में शुक्रवार (7 जून 2024) को उचाना उपमंडल कार्यालय में चल रहे धरने पर किसानों की बैठक हुई। इस दौरान किसानों ने कहा कि कुलविंदर कौर को रिहाई के बाद उचाना धरने पर बुलाकर सम्मानित किया जाएगा। धरना संयोजक आजाद पालवां ने कहा कि कुलविंद्र कौर के थप्पड़ की गूंज पूरी दुनिया में पहुँची है।

पहलवान बजरंग पुनिया भी आए समर्थन समर्थन में

पहलवान बजरंग पूनिया ने सोशल मीडिया साइट X पर अपने पोस्ट में आरोपित महिला कुलविंदर कौर का समर्थन किया है। पुनिया ने लिखा, “जब महिला किसानों के लिए अनाप शनाप बोला जा रहा था, तब कहाँ थे नैतिकता पढ़ाने वाले लोग! अब उस किसान माँ की बेटी ने गाल लाल कर दिया तो शांति का पाठ पढ़ाने आ गए। सरकारी जुल्म से किसान मारे गए, उस समय यह शांति पाठ पढ़ाना था हुकूमत को! घटाएँ उठती हैं, बरसात होने लगती हैं। जब आँख भर के फ़लक को किसान देखता है।”

गायक विशाल डडलानी ने कुलविंदर कौर को ऑफर की नौकरी

गायक-संगीतकार विशाल ददलानी ने CISF कॉन्स्टेबल कुलविंदर कौर का समर्थन करते हुए उसकी मदद करने की पेशकश की। विशाल डडलानी ने अपनी इंस्टाग्राम स्टोरी पर एक नोट शेयर किया कहा कि अगर महिला कॉन्स्टेबल के खिलाफ कोई कार्रवाई की जाती है तो CISF कॉन्स्टेबल को ‘नौकरी सुनिश्चित’ करनी चाहिए।

डडलानी ने लिखा, “मैं कभी भी हिंसा का समर्थन नहीं करता, लेकिन मैं इस CISF कर्मी के गुस्से की ज़रूरत को पूरी तरह समझता हूँ। अगर CISF द्वारा उसके खिलाफ़ कोई कार्रवाई की जाती है तो मैं यह सुनिश्चित करूँगा कि अगर वह इसे स्वीकार करना चाहे तो उसके लिए नौकरी की व्यवस्था हो। जय हिंद। जय जवान। जय किसान।”

कौन है कुलविंदर कौर?

CISF महिला जवान कुलविंदर कौर कपूरथला के सब-डिवीजन सुल्तानपुर लोधी स्थित गाँव मंड माहीवाल के एक किसान की बेटी है। वहीं, कुलविंदर कौर का भाई शेर शिंह माहीवाल किसान नेता हैं और किसान आंदोलन में उन्होंने बढ़-चढ़कर भाग लिया था। कुलविंदर कुल 6 भाई-बहन है। उसकी शादी छह साल पहले जम्मू के सिमरन सिंह के साथ हुई है।

कुलविंदर का पति भी CISF में जवान है। उनके दो बच्चे- एक बेटा और एक बेटी हैं। 35 वर्षीय कुलविंदर कौर साल 2009 में CISF में तैनात हुई थी। वह साल 2021 से चंडीगढ़ एयरपोर्ट पर तैनात है। कुलविंदर कौर का कहना है कि कंगना ने कहा था कि किसान आंदोलन में 100-100 रुपए लेकर महिलाएँ आ रही हैं। इससे वह नाराज थी, क्योंकि उसमें उसकी माँ भी शामिल थी।

उधर, एयरपोर्ट पर सिक्योरिटी देने वाले केंद्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (CISF) ने घटना की कोर्ट ऑफ इंक्वायरी के आदेश दिए हैं। अधिकारियों ने कहा कि महिला जवान के खिलाफ अभी तक सतर्कता जाँच या सजा नहीं हुई है। महिला का पति भी उसी हवाई अड्डे पर तैनात है। कुलविंदर के खिलाफ गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज कर हिरासत में ले लिया गया है। इसके साथ ही उसे सस्पेंड भी कर दिया गया है। 

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -