Monday, April 22, 2024
Homeदेश-समाज'पुलिस की गोली से मेरे बेटे की हत्या हुई': अनुराग पोद्दार के पिता के...

‘पुलिस की गोली से मेरे बेटे की हत्या हुई’: अनुराग पोद्दार के पिता के बयान के बाद मुंगेर के पुलिसकर्मियों पर FIR दर्ज

अनुराग पोद्दार के पिता ने कहा है कि पुलिस की चलाई गोली से उनके बेटे की हत्या हुई। साथ ही SHO के बयान के आधार पर उन 20-25 पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी केस दर्ज हुआ है, जिन्होंने दुर्गा पूजा विसर्जन के दौरान श्रद्धालुओं पर लाठीचार्ज किया था।

मुंगेर में पुलिस की बर्बरता के दौरान मारे गए अनुराग पोद्दार के पीड़ित पिता के बयान को आधार बनाते हुए पुलिसकर्मियों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। पुलिसकर्मियों के खिलाफ कोतवाली थाने में FIR दर्ज की गई। अनुराग पोद्दार के पिता ने कहा है कि पुलिस की चलाई गोली से उनके बेटे की हत्या हुई। साथ ही SHO के बयान के आधार पर उन 20-25 पुलिसकर्मियों के खिलाफ भी केस दर्ज हुआ है, जिन्होंने दुर्गा पूजा विसर्जन के दौरान श्रद्धालुओं पर लाठीचार्ज किया था।

बता दें कि मुंगेर में पूरब सराय सहित 3 थानों में आक्रोशित लोगों द्वारा आगजनी के बाद चुनाव आयोग ने डीएम राजेश मीणा और एसपी लिपि सिंह को हटा दिया था। डीआईजी मनु महाराज के अनुसार, गुरुवार (अक्टूबर 29, 2020) को हुई आगजनी के मामले में अब तक 6 FIR दर्ज की जा चुकी है। उन्होंने कहा कि कुछ लोगों की पहचान भी कर ली गई है और सीसीटीवी फुटेज के आधार पर जाँच की जा रही है।

‘आज तक’ की खबर के अनुसार, पुलिस ने कुछ लोगों की पहचान भी कर ली है। साथ ही प्रशासन ने अफवाहों पर ध्यान न देकर शांति-व्यवस्था बनाए रखने की अपील की है। अब मानवजीत सिंह ढिल्लों को मुंगेर का नया एसपी बना कर भेजा गया है। 2009 कैडर के आईपीएस अधिकारी ढिल्लों इससे पहले पटना एसटीएफ में तैनात रहे हैं। वैशाली का एसपी रहते इन्होने 3 लापरवाह अधिकारियों समेत 66 पुलिसकर्मियों पर FIR करवाई थी।

बता दें कि मुंगेर मामले पर राजनीति भी हो रही है और तमाम विपक्षी दल नीतीश कुमार की सरकार पर हमलावर हैं। लोजपा अध्यक्ष चिराग पासवान ने राज्य सरकार को महिषासुर बता दिया। कॉन्ग्रेस ने राज्यपाल को ज्ञापन सौंप कर नीतीश सरकार को बरख़ास्त करने की माँग की। वहीं राजद ने एसपी लिपि सिंह को ‘जनरल डायर’ बताया। आगजनी के मामले में 68 नामजद और 1000 अज्ञात को आरोपित बनाया गया है।

इस मामले को लेकर पटना उच्च न्यायालय में पीआईएल भी दाखिल की जा चुकी है। इसके अलावा राज्य मानवाधिकार आयोग में भी आवेदन किया गया है। राजद नेता और पूर्व सांसद शिवानंद तिवारी का कहना है कि इसका असर अगले दोनों चरणों के चुनावों पर पड़ेगा। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार अब तक इस पर चुप्पी साधे हुए हैं। भाजपा के केंद्रीय मंत्रियों रविशंकर प्रसाद और गिरिराज सिंह ने भी इस घटना की निंदा की है।

ऑपइंडिया से बात करते हुए मुंगेर की ‘बड़ी दुर्गा पूजा समिति’ के पदाधिकारियों ने बताया था कि उनके कम से कम 150 लोगों को पुलिस ने हिरासत में लिया था और उनके साथ क्रूरता की गई। उनका कहना था कि इनमें से कई अभी भी अलग-अलग थानों में पुलिस कस्टडी में हैं। एक और आरोप ये लगा था कि उनमें से जिन्हें छोड़ा भी गया है, उनके मोबाइल फोन्स पुलिस ने अपने पास रख लिए। आरोप है कि कई लड़कों को एसपी लिपि सिंह के सामने लाकर और उन्हें जम कर पीटा गया।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिमों के लिए आरक्षण माँग रही हैं माधवी लता’: News24 ने चलाई खबर, BJP प्रत्याशी ने खोली पोल तो डिलीट कर माँगी माफ़ी

"अरब, सैयद और शिया मुस्लिमों को आरक्षण का लाभ नहीं मिलता है। हम तो सभी मुस्लिमों के लिए रिजर्वेशन माँग रहे हैं।" - माधवी लता का बयान फर्जी, News24 ने डिलीट की फेक खबर।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe