Tuesday, June 25, 2024
Homeदेश-समाज'हिसाब तुमको देना पड़ेगा... तुमको खत्म कर देंगेः आर्यन खान को पकड़ने वाले अफसर...

‘हिसाब तुमको देना पड़ेगा… तुमको खत्म कर देंगेः आर्यन खान को पकड़ने वाले अफसर को धमकी, नवाब मलिक ने भी घेरा था

बताया जा रहा है कि जिस ट्विटर अकाउंट से वानखेड़े को धमकी दी गई है, वह 14 अगस्त को ही बनाया गया है। इस अकाउंट के जीरो फ़ॉलोअर्स हैं। माना जा रहा है कि यह ट्विटर अकाउंट धमकी देने के ही मकसद से बनाया गया था।

नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) के पूर्व जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) को सोशल मीडिया के जरिए जान से मारने की धमकी दी गई है। उन्हें यह धमकी एनसीपी नेता और महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री नवाब मलिक के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाने के बाद मिली है।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार वानखेड़े की शिकायत पर मुंबई की गोरेगांव पुलिस ने नवाब मलिक (Nawab Malik) के खिलाफ आईपीसी की धारा 500, 501 और एससी/एसटी एक्ट के अंतर्गत मामला दर्ज किया था। हालाँकि यह स्पष्ट नहीं है कि दोनों मामलों के बीच कोई संबंध है या नहीं।

वानखेड़े को धमकी दिए जाने के मामले में एफआईआर दर्ज कर गोरेगांव पुलिस जाँच कर रही है। बताया जा रहा है कि जिस ट्विटर अकाउंट से वानखेड़े को धमकी दी गई है, वह 14 अगस्त को ही बनाया गया है। इस अकाउंट के जीरो फ़ॉलोअर्स हैं। ऐसे में माना जा रहा है कि यह ट्विटर अकाउंट धमकी देने के ही मकसद से बनाया गया था। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अमन नाम के इस ट्विटर अकाउंट से वानखेड़े को मैसेज कर कहा गया, “तुमको पता नहीं तुमने क्या किया है। इसका हिसाब तुमको देना पड़ेगा। हम तुमको खत्म कर देंगे।”

पिछले दिनों ही वानखेड़े को जन्म प्रमाण-पत्र मामले में राहत मिली है। जाँच पैनल ने कहा था कि वे जन्म से मुस्लिम नहीं हैं और उनका जाति प्रमाण-पत्र असली है। मलिक ने ही उन पर फर्जी प्रमाण-पत्र पर नौकरी हासिल करने का आरोप लगाया था। वानखेड़े ने कहा था कि नवाब मलिक ने एक कैबिनेट मंत्री के रूप में जाति प्रमाण-पत्र का मुद्दा इसलिए उठाया, क्योंकि उनकी टीम ने मलिक के दामाद समीर खान को ड्रग मामले में गिरफ्तार किया था। समीर खान 2021 में जनवरी में गिरफ्तार हुए थे।

समीर वानखेड़े की जाति का मामला नवाब मलिक ने तब उठाया था, जब वे आर्यन खान ड्रग केस की जाँच में लगे हुए थे। मलिक ने कई तरह के आरोप लगाते हुए यह भी कहा था कि उन्हें समीर वानखेड़े को टारगेट नहीं करने के लिए लगातार धमकी मिल रही है। वानखेड़े ने भी उस समय यह आरोप लगाते हुए शिकायत दर्ज कराई थी कि उनकी गतिविधियों पर नजर रखी जा रही है। उन्होंने यह भी कहा था कि सिविल ड्रेस में कुछ लोग उनका लगातार पीछा कर रहे हैं।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

शिखर बन जाने पर नहीं आएँगी पानी की बूँदे, मंदिर में कोई डिजाइन समस्या नहीं: राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेन्द्र मिश्रा ने...

श्रीराम मंदिर निर्माण समिति के मुखिया नृपेन्द्र मिश्रा ने बताया है कि पानी रिसने की समस्या शिखर बनने के बाद खत्म हो जाएगी।

दर-दर भटकता रहा एक बाप पर बेटे की लाश तक न मिली, यातना दे-दे कर इंजीनियरिंग छात्र की हत्या: आपातकाल की वो कहानी, जिसमें...

आज कॉन्ग्रेस पार्टी संविधान दिखा रही है। जब राजन के पिता CM, गृह मंत्री, गृह सचिव, पुलिस अधिकारी और सांसदों से गुहार लगा रहे थे तब ये कॉन्ग्रेस पार्टी सोई हुई थी। कहानी उस छात्र की, जिसकी आज तक लाश भी नहीं मिली।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -