Tuesday, July 27, 2021
Homeदेश-समाजमांगलिक कार्यक्रम में थूक लगा कर रोटियाँ बना रहा था मोहसिन, वीडियो वायरल होने...

मांगलिक कार्यक्रम में थूक लगा कर रोटियाँ बना रहा था मोहसिन, वीडियो वायरल होने पर गिरफ्तार: मेरठ के बाद दूसरा मामला

इससे पहले मेरठ में ऐसा मामला सामने आया था, जहाँ शादी समारोहों में थूक लगा कर रोटियाँ बनाने वाले नौशाद के ऊपर ‘राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम’ के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई की गई थी।

मेरठ के बाद अब उत्तर प्रदेश के ही गाजियाबाद से रोटी बनाते समय तंदूर में थूक लगाने का वीडियो सामने आया है। जिले के भोजपुर गाँव का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ, जिसमें एक व्यक्ति को रोटियाँ सेंकते समय उसमें थूकते हुए देखा जा सकता है। पुलिस ने जाँच के बाद जब आरोपित मोहसिन की पहचान की और उसकी तलाश में दबिश देनी शुरू की तो वह मुरादनगर स्थित अपने घर से फरार हो गया।

हालाँकि, उत्तर प्रदेश पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया है। गाजियाबाद पुलिस ने कहा, “वीडियो का तत्काल संज्ञान लेते हुए FIR दर्ज कर आरोपित अभियुक्त मोहसिन को गिरफ्तार कर लिया गया है। वैधानिक कार्यवाही शुरू कर दी गई है।” उक्त वीडियो गाँव के एक मांगलिक कार्यक्रम का है, जो कुछ दिनों पहले आयोजित किया गया था। कार्यक्रम में भोजन का जिम्मा हलवाइयों को दिया गया था। नान की रोटी बनाने के लिए इसी युवक को बुलाया गया था।

वीडियो में देखा जा सकता है कि मोहसिन रोटी बनाकर उसमें थूकता है और फिर उसे नान में सेंकने के लिए डाल देता है। थाना प्रभारी प्रदीप कुमार ने बताया कि शुक्रवार (मार्च 12, 2021) को भोजपुर पुलिस गाँव में पहुँची। वहाँ स्थानीय लोगों ने बताया कि उक्त वीडियो शादी समारोह का है, जिसमें मुरादनगर का मोहसिन रोटियाँ सेंक रहा था। इसके बाद उसे पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया। उसके खिलाफ FIR भी दर्ज कर ली गई है।

इससे पहले मेरठ में ऐसा मामला सामने आया था, जहाँ शादी समारोहों में थूक लगा कर रोटियाँ बनाने वाले नौशाद के ऊपर ‘राष्ट्रीय सुरक्षा अधिनियम (NSA)’ के तहत मामला दर्ज कर कार्रवाई की गई थी। नौशाद ने बताया था कि वो 10-15 सालों से रोटी बना रहा है और उतने ही समय से रोटियों पर थूक भी लगा रहा है। हिन्दू जागरण मंच के महानगर अध्यक्ष सचिन सिरोही ने माँग की थी कि नौशाद पर रासुका की कार्रवाई की जाए।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘कारगिल कमेटी’ पर कॉन्ग्रेस की कुण्डली: लोकतंत्र की सुरक्षा के लिए राष्ट्रीय सुरक्षा राजनीतिक दृष्टिकोण का न हो मोहताज

हमें ध्यान में रखना होगा कि जिस लोकतंत्र पर हम गर्व करते हैं उसकी सुरक्षा तभी तक संभव है जबतक राष्ट्रीय सुरक्षा का विषय किसी राजनीतिक दृष्टिकोण का मोहताज नहीं है।

असम-मिजोरम बॉर्डर पर भड़की हिंसा, असम के 6 पुलिसकर्मियों की मौत: हस्तक्षेप के दोनों राज्‍यों के CM ने गृहमंत्री से लगाई गुहार

असम के मुख्यमंत्री हिमंत बिस्वा सरमा ने ट्वीट कर बताया कि असम-मिज़ोरम सीमा पर तनाव में असम पुलिस के 6 जवानों की जान चली गई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,341FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe