Tuesday, May 21, 2024
Homeदेश-समाजजौनपुर के पत्रकार आशुतोष की हत्या में गो तस्कर जमीरुद्दीन मुंबई से गिरफ्तार, पहले...

जौनपुर के पत्रकार आशुतोष की हत्या में गो तस्कर जमीरुद्दीन मुंबई से गिरफ्तार, पहले से दर्ज हैं 16 मामले: FIR में सपा नेता अबू आजमी के रिश्तेदार नासिर का भी नाम

घटना के दिन भी आशुतोष सुबह 9 बजे नाश्ता कर के निकले थे और बताया था कि वापस लौटकर वे खाना खाएँगे। उनकी हत्या में नामजद किए गए मुख्य आरोपित का नाम नासिर जमाल है। नासिर जमाल समाजवादी पार्टी के नेता अबू आज़मी का रिश्तेदार है। स्थानीय लोगों का कहना है कि आशुतोष गोतस्करी के खिलाफ लगातार खबरें लिख रहे थे। इससे गोतस्कर नाराज थे।

उत्तर प्रदेश के जौनपुर में सोमवार (13 मई 2024) को पत्रकार आशुतोष श्रीवास्तव की हत्या कर दी गई। इमरानगंज बाजार में बाइकसवार अज्ञात हमलावरों ने सुबह 9:30 बजे उन पर गोलियाँ बरसाईं थीं। मृतक के भाई ने मंगलवार (14 मई) को नासिर जमाल सहित 4 को नामजद व 5 अन्य अज्ञात आरोपितों के खिलाफ तहरीर दी। नासिर जमाल समाजवादी पार्टी के नेता अबू आज़मी का रिश्तेदार है।

पुलिस ने इस तहरीर पर FIR दर्ज करके नामजद आरोपित जमीरुद्दीन कुरैशी को मुंबई से गिरफ्तार कर लिया है। जमीरुद्दीन को जौनपुर लाने की कानूनी कार्रवाई की जा रही है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, गिरफ्तार हिस्ट्रीशीटर जमीरुद्दीन कुरैशी एक कुख्यात गोतस्कर है। उस पर कुल 16 मामले दर्ज हैं। जमीरुद्दीन शाहगंज थाना क्षेत्र के गाँव सबरहद का निवासी है। पुलिस के अनुसार वह हत्याकांड का मुख्य साजिशकर्ता है।

शाहगंज के डिप्टी एसपी ने बताया कि जमीरुद्दीन कुरैशी को महाराष्ट्र पुलिस के सहयोग से गिरफ्तार किया गया है। उसकी गिरफ्तारी मुंबई के भिवंडी इलाके से हुई है। फ़िलहाल उसे भिवंडी थाने में रखा गया है। जौनपुर से पुलिस टीम जमीरुद्दीन को ट्रांजिट रिमांड पर लेने मुंबई निकल चुकी है। जमीरुद्दीन से पूछताछ के बाद मामले में और खुलासे होने की उम्मीद जताई जा रही है।

जौनपुर पुलिस आशुतोष के अन्य हत्यारों को पकड़ने के लिए दिन-रात एक किए हुए है। पुलिस की कई टीमें देश के अलग-अलग हिस्सों में दबिश दे रही है। वहीं, मृतक पत्रकार की भाभी का बयान सामने आया है। उन्होंने बताया कि लगभग एक हफ्ते पहले आशुतोष को पुलिस ने थाने पर बुलवाया था। तब उन्हें जान का खतरा बताते हुए उनसे अपने घर में रहने के लिए कहा गया था।

दावा किया जा रहा है कि तब पत्रकार आशुतोष श्रीवास्तव की जान लेने के लिए दो शूटरों को सक्रिय बताया गया था। हालाँकि, आशुतोष श्रीवास्तव ने घर में बैठने से मना कर दिया था और वे हर दिन अपने काम पर निकलते रहे। अपनी जान का खतरा जानने के बाद आशुतोष श्रीवास्तव ने पुलिस से सुरक्षा की माँग भी की थी।

घटना के दिन भी आशुतोष सुबह 9 बजे नाश्ता कर के निकले थे और बताया था कि वापस लौटकर वे खाना खाएँगे। उनकी हत्या में नामजद किए गए मुख्य आरोपित का नाम नासिर जमाल है। नासिर जमाल समाजवादी पार्टी के नेता अबू आज़मी का रिश्तेदार है। स्थानीय लोगों का कहना है कि आशुतोष गोतस्करी के खिलाफ लगातार खबरें लिख रहे थे। इससे गोतस्कर नाराज थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ध्वस्त कर दिया जाएगा आश्रम, सुरक्षा दीजिए’: ममता बनर्जी के बयान के बाद महंत ने हाईकोर्ट से लगाई गुहार, TMC के खिलाफ सड़क पर...

आचार्य प्रणवानंद महाराज द्वारा सन् 1917 में स्थापित BSS पिछले 107 वर्षों से जनसेवा में संलग्न है। वो बाबा गंभीरनाथ के शिष्य थे, स्वतंत्रता के आंदोलन में भी सक्रिय रहे।

‘ये दुर्घटना नहीं हत्या है’: अनीस और अश्विनी का शव घर पहुँचते ही मची चीख-पुकार, कोर्ट ने पब संचालकों को पुलिस कस्टडी में भेजा

3 लोगों को 24 मई तक के लिए हिरासत में भेज दिया गया है। इनमें Cosie रेस्टॉरेंट के मालिक प्रह्लाद भुतडा, मैनेजर सचिन काटकर और होटल Blak के मैनेजर संदीप सांगले शामिल।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -