Sunday, July 3, 2022
Homeदेश-समाजदिल्ली दंगों में रिवॉल्वर तानने वाले शाहरुख का जोरदार स्वागत: AIMIM नेताओं ने बताया...

दिल्ली दंगों में रिवॉल्वर तानने वाले शाहरुख का जोरदार स्वागत: AIMIM नेताओं ने बताया ‘बहादुर’ और ‘शेर’, बीमार अब्बा से मिलने के लिए मिला था परोल

कोर्ट ने उसे अपने बीमार अब्बा को देखने के लिए 4 घंटे की कस्टडी परोल दी। कुछ समय पहले उसके अब्बा का GB पंत अस्पताल में सर्जरी हुआ था। इस दौरान शाहरुख़ को मार्च के महीने में एक दिन का पेरोल दिया गया था। पेरोल के दौरान उसे अस्पताल तक ले जाया गया, लेकिन उसके अब्बा के स्वास्थ्य की स्थिति के कारण मुलाकात नहीं हो पाई थी।

फरवरी 2020 के दिल्ली हिन्दू विरोधी दंगों (Anti Hindu Riots 2020) के आरोपित शाहरुख़ पठान का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। वीडियो में वह पुलिसकर्मियों के साथ कहीं जा रहा है और आसपास भीड़ जमा दिखाई दे रही है। जानकारी के मुताबिक, वीडियो 23 मई 2022 (सोमवार) की है। उस दिन उसे 4 घंटे की कस्टडी परोल पर उसके बीमार अब्बा से मिलाने घर लाया गया था। फ़िलहाल शाहरुख़ को वापस जेल भेज दिया गया है।

वायरल वीडियो में दंगे के आरोपित शाहरुख़ का उसके मोहल्ले में जमा भीड़ एक हीरो की तरह स्वागत कर रही है। शाहरुख़ भी मौजूद भीड़ का अभिवादन स्वीकार करता दिखाई दे रहा है। उसे देखने के लिए कुछ लोग छतों पर भी चढ़े हुए हैं। बताया जा रहा है कि उन्हीं में से किसी ने शाहरुख़ का यह वीडियो बनाया था।

सोशल मीडिया पर भी बनाया गया हीरो

दिल्ली दंगों के आरोपित शाहरुख़ का स्वागत न सिर्फ उसके मोहल्ले वालों ने भीड़ जुटाकर किया, बल्कि सोशल मीडिया पर भी उसके समर्थन में अभियान चलाया गया। AIMIM के नेता शेख आदिल आज़मी ने तो शाहरुख़ के साथ दिल्ली दंगों के बाकी दंगाइयों को भी बहादुर का ख़िताब दे दिया।

UP AIMIM के महराजगंज के नेता मुराद सिद्दीकी ने शाहरुख़ पठान को शेर कह कर संबोधित किया।

सना नाम के एक ट्विटर हैंडल ने चाँद जैसी बीवी पाने के लिए शाहरुख़ पठान जैसी जुल्फ और दाढ़ी रखने की सलाह दे डाली।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, पटियाला हाऊस कोर्ट के अतिरिक्त सेशन जज अमिताभ रावत ने 21 मई को शाहरुख़ को उसके बीमार अब्बा से मिलने की इजाजत दी थी। शाहरुख़ पठान के वकीलों ने यह इजाजत मानवता के आधार पर माँगी थी। जफराबाद पुलिस स्टेशन की FIR संख्या 49/2020 में आरोपित शाहरुख़ दिल्ली पुलिस के कांस्टेबल पर हथियार तानते हुए नजर आया था। इस हिंसा के दौरान कॉन्स्टेबल रोहित शुक्ला को गोली भी लगी थी।

शाहरुख़ के परोल के लिए दी गई याचिका में उसके 65 साल के अब्बा को सीनियर सिटीजन बताते हुए कहा गया था कि वे कई बीमारियों से जुझ रहे हैं। कुछ समय पहले GB पंत अस्पताल में उनकी सर्जरी हुई थी। इस दौरान शाहरुख़ को मार्च के महीने में एक दिन का पेरोल दिया गया था। पेरोल के दौरान उसे अस्पताल तक ले जाया गया, लेकिन उसके अब्बा के स्वास्थ्य की स्थिति के कारण मुलाकात नहीं हो पाई थी।

गौरतलब है कि शाहरुख़ पठान पर लगे आरोपों को कोर्ट गंभीर मान कर उसकी जमानत याचिका कई बार ख़ारिज कर चुका है। शाहरुख़ पठान को 24 फरवरी 2020 को दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तार किया था। तब से वह लगातार जेल में है। शाहरुख़ पर IPC की धारा 147, 148, 149, 186, 188, 153A, 283, 353, 332, 323, 307, 505, 120B, 34 के साथ आर्म्स एक्ट में केस दर्ज है। दिसंबर 2021 में कोर्ट ने उस पर से आर्म्स एक्ट हटा दिया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

8 लोग थे निशाने पर, एक डॉक्टर को वीडियो बना माँगनी पड़ी थी माफ़ी: उमेश कोल्हे के गले पर 5 इंच चौड़ा, 7 इंच...

उमेश कोल्हे के गले पर जख्म 5 इंच चौड़ा, 5 इंच लंबा और 5 इंच गहरा था। साँस वाली नली, भोजन निगलने वाली नली और आँखों की नसों पर भी वार किए गए थे।

सिर कलम करने में जिस डॉ युसूफ का हाथ, वो 16 साल से था दोस्त: अमरावती हत्याकांड में कश्मीर नरसंहार वाला पैटर्न, उदयपुर में...

अमरावती में उमेश कोल्हे की हत्या में उनका 16 साल पुराना वेटेनरी डॉक्टर दोस्त यूसुफ खान भी शामिल था। उसी ने कोल्हे की पोस्ट को वायरल किया था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
202,752FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe