Sunday, November 27, 2022
Homeदेश-समाजहापुड़: जमातियों की सूचना देने पर 300 मुस्लिमों की भीड़ ने लाठी-डंडे, पत्थरों और...

हापुड़: जमातियों की सूचना देने पर 300 मुस्लिमों की भीड़ ने लाठी-डंडे, पत्थरों और चाकू से किया हिंदुओं पर हमला, 6 गिरफ्तार

मामले में इमरान, साजिद, हासम, मेहताब, नौशाद, इरफान, मोहसिन, अमन, परवेज आलम, यामीन. सफी उल्ला, गुल मोहम्मद, रिजवान और फुरकान को आरोपित बताया गया है। इसके अलावा कई अन्य अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

उत्तरप्रदेश के हापुड़ जनपद में शहर कोतवाली क्षेत्र के सरावा गाँव में दो समुदायों के बीच शुरू हुई मामूली कहासुनी खूनी झड़प में बदल गई। जिसके बाद जमकर पथराव और चाकू से हमला हुआ जिसमें करीब 5 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए सूचना के बाद पहुँची पुलिस ने मामला शांत कराया तहरीर के आधार पर पुलिस ने रिपोर्ट दर्ज कर ली है।

मामले में इमरान, साजिद, हासम, मेहताब, नौशाद, इरफान, मोहसिन, अमन, परवेज आलम, यामीन. सफी उल्ला, गुल मोहम्मद, रिजवान और फुरकान को आरोपित बताया गया है। इसके अलावा कई अन्य अज्ञात के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है।

हापुड़ में इमरान ने भीड़ इकट्ठी कर हिंदुओं पर किया हमला

दरअसल, सरावा गाँव में राकेश त्यागी का पुत्र प्रशांत का इस्लाम के पुत्र इमरान के साथ कुछ हल्की फुल्की कहासुनी हो गई थी, लेकिन मामला शांत हो गया। दोपहर बाद जब प्रशांत गुलफाम की दुकान पर दाल लेने के लिए गया था तो फिर से मामला बढ़ गया और कहासुनी शुरू हो गई मामला बढ़ा तो प्रशांत पक्ष के लोगों ने इमरान पक्ष के लोगों से शांत रहने के लिए कहा और अपने पक्ष के प्रशांत और अन्य को डाँट डपट कर घर भेज दिया। 

250-300 की भीड़ के साथ साजिद ने किया चाकू से हमला

इमरान पक्ष के लोग शांत नहीं हुए और पीछे से लाठी-डंडों और हथियारों से लैस होकर प्रशांत पक्ष लोगों पर धावा बोल दिया। जिसके बाद जमकर पथराव हुआ। इमरान पक्ष के लोगों ने चाकू से भी हमला किया। जिसमें आशाराम त्यागी, प्रयास त्यागी, प्रशांत त्यागी, जॉनी त्यागी और मुकेश त्यागी घायल हो गए। घायल लोगों ने बताया कि उन्हें चाकू साजिद ने मारा था। उन्होंने बताया कि लगभग 250-300 मुस्लिमों की भीड़ ने उन पर हमला बोला।

लोगों की छतों पर एकत्र हो गए थे पत्थर

पथराव का एक वीडियों भी वायरल हुआ है, जिसमें साफ दिख रहा है कि कैसे सैकड़ों की मुस्लिम भीड़ हिंदू समुदाय के लोगों पर पथराव कर रही है और वो बचाव की कोशिश कर रहे हैं। यह पथराव लगभग एक घंटे तक होता रहा। पथराव के दौरान आसपास के लोगों के घरों में भी पत्थर फेंके गए। इस दौरान घरों की छतों पर काफी संख्या में पत्थर एकत्र हो गए। पथराव को देखकर जान बचाने के लिए लोग कमरों में कैद हो गए। घटना में घायल पाँचों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है और पुलिस ने मामले में 6 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है।

सूचना के बाद मौके पर पहुँची पुलिस ने मामला शांत कराया। पुलिस मामले की जाँच में जुट गई हैं। पुलिस क्षेत्राधिकारी भी गाँव में पहुँचे। क्षेत्राधिकारी राजेश सिंह का कहना है कि तहरीर के आधार पर मुकदमा दर्ज किया जा रहा है दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्यवाही की जाएगी।

जमातियों की सूचना देने पर भुगतने की दी थी धमकी

उल्लेखनीय है कि सरावा गाँव में कुछ दिन पहले दिल्ली के तबलीगी जमात में शामिल होकर आए एक ग्रामीण की कुछ लोगों ने पुलिस और स्वास्थ्य विभाग को सूचना दी थी। जिसके बाद पुलिस ने उक्त व्यक्ति के अलावा कुछ लोगों को क्वारंटाइन किया था। हालाँकि सभी लोग क्वारंटाइन की अवधि पूरा करके अपने घर भी पहुँच चुके हैं। लेकिन बताया जाता है कि मुस्लिम समुदाय के युवकों में इसी बात को लेकर गुस्सा था। विवाद और मारपीट के दौरान मुस्लिम समुदाय के लोगों ने जमकर इसी बात को लेकर भुगत लेने की धमकियाँ भी दी थीं।

पहले भी बनाया जा चुका है हिंदुओं को निशाना

गौरतलब है कि दिल्ली में फरवरी में हुए दंगों के दौरान भी मुस्लिमों द्वारा हिंदुओं को निशाना बनाया गया था। मुस्लिम दंगाइयों ने हिंदुओं के घरों, उनकी गाड़ियों और उनके शैक्षणिक संस्थानों पर हमला करने के लिए पहले से ही तैयारी कर रखी थी। इसी तरह उत्तराखंड में दिवाली के दौरान पटाखा फोड़ने पर मेहरुद्दीन, शाहनवाज, सोहैल सहित 60 मुस्लिमों की भीड़ ने हिंदुओं पर हमला बोला था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘जो बच्चे कागज के जहाज बनाते थे, वो आज रॉकेट बना रहे हैं’ : PM मोदी ने की 95 वीं बार ‘मन की बात’,...

प्रधानमंत्री ने 'मन की बात' के दौरान G-20 शिखर सम्मेलन की चर्चा की। उन्होंने कहा G-20 की अध्यक्षता करना देश के लिए गौरव की बात है।

‘भारत के सभी मुस्लिम पहले हिन्दू थे’: बोले नीतीश की पार्टी के MLC गुलाम गौस – दलितों-मुस्लिमों-गरीबों की बात करने वाले इकलौते PM हैं...

नीतीश कुमार की JDU के नेता और बिहार के विधान पार्षद गुलाम गौस ने पीएम नरेंद्र मोदी की तारीफ की। उन्होंने कहा कि सभी मुस्लिम पहले हिन्दू थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
235,696FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe