Tuesday, August 9, 2022
Homeदेश-समाजहिंदूवादी संगठनों ने बल्लभगढ़ में तोड़ दी वह मजार, जहाँ टॉयलेट में लगी थी...

हिंदूवादी संगठनों ने बल्लभगढ़ में तोड़ दी वह मजार, जहाँ टॉयलेट में लगी थी देवी-देवताओं की तस्वीर: सेक्स और वशीकरण की दवाई भी मिली थी

स्थानीय लोगों को मंगलवार दोपहर को शिकायत मिली थी कि मजार के टॉयलेट में हिन्दू-देवी देवताओं की तस्वीरें लगी हैं। जब लोग वहाँ पहुँचे तो उन्हें वहाँ से नशीली सेक्सवर्धक दवाओं के साथ, इस्लामी किताबें और कई आपत्तिजनक वस्तुएँ बरामद हुईं थी।

फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में जिस अवैध मजार से सेक्स और स्त्रियों को वश में करने सहित कई तरह की दवाएँ मिली थीं, उसे मंगलवार (23 नवंबर 2021) की रात को तोड़ दिया गया है। दैनिक जागरण की रिपोर्ट के मुताबिक, बल्लभगढ़ पंचायत भवन की जमीन पर बनाई गई मजार को हिंदूवादी संगठनों के कार्यकर्ताओं ने रात को तहस-नहस कर दिया था। इसके साथ ही पुलिस प्रशासन ने थाना शहर प्रभारी सतीश कुमार को तत्काल प्रभाव से बदल कर उनके स्थान पर सत्यभान को नया थाना प्रभारी बना दिया है। बताया जा रहा है कि मजार टूटने के बाद शहर में काफी तनाव की स्थिति हैl पुलिस पूरे मामले पर नजर बनाए हुए है।

स्थानीय लोगों को मंगलवार दोपहर को शिकायत मिली थी कि मजार के टॉयलेट में हिन्दू-देवी देवताओं की तस्वीरें लगी हैं। जब लोग वहाँ पहुँचे तो उन्हें वहाँ से नशीली सेक्सवर्धक दवाओं के साथ, इस्लामी किताबें और कई आपत्तिजनक वस्तुएँ बरामद हुईं। जिससे लोग उस अवैध मजार को हटाने के लिए धरना-प्रदर्शन करने लगे। इसका वीडियो भी सोशल मीडिया पर सामने आया था।

विरोध प्रदर्शन के दौरान वहाँ इकट्ठे हुए लोगों ने रिपोर्टर को बताया था कि मजार के मौलवी का नाम अब्दुल गफ्फार है, जो हिन्दू महिलाओं को बहकाने के लिए अपना नाम बबली बताता है। बल्लभगढ़ के इस मजार के बाहर जो बोर्ड लगा था, उस पर ‘बाबा भूरेशाह की दरगाह’ लिखा था।

बता दें कि हिन्दू संगठनों के विरोध को देखते हुए फरीदाबाद पुलिस मजार के अंदर मौजूद मौलवी को अपने साथ ले गई थी। हिन्दू संगठनों ने प्रशासन से माँग की थी कि जल्द से जल्द इस अवैध मजार को तोड़कर वहाँ एक मंदिर बनाया जाए। वहीं, फरीदाबाद पुलिस उपायुक्त जयबीर राठी ने जाँच की रिपोर्ट आने के बाद मौलाना के खिलाफ कार्रवाई करने का आश्वासन दिया था और इस मामले में राजस्व रिकार्ड खंगालने का भरोसा दिलाया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

डोनाल्ड ट्रंप के ‘खूबसूरत घर’ पर FBI की रेड: पूर्व राष्ट्रपति बोले- मेरी तिजोरी में भी सेंध मारी, दावा- व्हाइट हाउस से लेकर चले...

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ट्रंप को लेकर कहा जा रहा है कि उन्होंने राष्ट्रपति भवन छोड़ते समय कुछ दस्तावेज अपने पास रख लिए थे। एफबीआई रेड में उन्हें ही ढूँढ रही थी।

मंदिर से लौट रहे हिन्दू परिवार पर हमला, महिलाओं से छेड़छाड़: Pak में जहाँ हुई थी हिन्दू कारोबारी की हत्या, वहाँ अब भी नहीं...

पाकिस्तान के सिंध के संघर में एक हिंदू परिवार पर रविवार शाम को मीरपुर मथेलो पुलिस थाने के भीतर लगभग एक दर्जन लोगों ने हमला बोल दिया।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
212,463FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe