Friday, April 19, 2024
Homeदेश-समाजबल्लभगढ़ के 'अवैध मजार' में मिली सेक्स वर्धक, वशीकरण की दवाएँ, वाशरूम में देवी-देवताओं...

बल्लभगढ़ के ‘अवैध मजार’ में मिली सेक्स वर्धक, वशीकरण की दवाएँ, वाशरूम में देवी-देवताओं की तस्वीरें: मौलवी गफ्फार गिरफ्तार

पंचायत भवन की जमीन पर बने अवैध मजार के अंदर इस्लामी किताबें, बच्चा पैदा करने वाली, स्त्री को वश में करने, वशीकरण, ताबीज सहित कई दवाइयों के साथ कई दर्जन हिन्दू महिलाओं के नंबर और तस्वीरें भी मिली हैं। लोगों ने बताया कि जहाँ वाशरूम है वहाँ हिन्दू देवी-देवताओं की तस्वीरें भी लगी हुई हैं।

फरीदाबाद के बल्लभगढ़ में पंचायत भवन की जमीन पर बने एक अवैध मजार से सेक्स और स्त्रियों को वश में करने सहित कई तरह की दवाएँ बरामद हुई हैं। स्थानीय लोगों के पास शिकायत थी कि मजार के टॉयलेट में हिन्दू-देवी देवताओं की तस्वीरें लगी हैं। जब लोग वहाँ पहुँचे तो उन्हें नशीली सेक्सवर्धक दवाओं के साथ, इस्लामी किताबें और कई आपत्तिजनक वस्तुएँ बरामद हुईं। जिससे लोग उस अवैध मजार को हटाने के लिए धरना-प्रदर्शन करने लगे।

हिन्दू संगठनों द्वारा जारी प्रदर्शन को देखते हुए फरीदाबाद पुलिस ने वहाँ पहुँचकर स्थिति सँभालने की कोशिश की। प्रदर्शन कर रहे लोगों ने फरीदाबाद न्यूज़ से बात करते हुए बताया कि पंचायत भवन की जमीन पर बने अवैध मजार के अंदर इस्लामी किताबें, बच्चा पैदा करने वाली, स्त्री को वश में करने, वशीकरण, ताबीज सहित कई दवाइयों के साथ कई दर्जन हिन्दू महिलाओं के नंबर और तस्वीरें भी मिली हैं। लोगों ने बताया कि जहाँ वाशरूम है वहाँ हिन्दू देवी-देवताओं की तस्वीरें भी लगी हुई हैं।

वहीं विरोध प्रदर्शन के दौरान वहाँ इकट्ठे लोगों ने रिपोर्टर को बताया कि मजार के मौलवी का नाम अब्दुल गफ्फार है लेकिन हिन्दू महिलाओं को बहकाने के लिए वह अपना नाम बबली बताता है। गौरतलब है कि बल्लभगढ़ के इस मजार के बाहर जो बोर्ड लगा है उस पर ‘बाबा भूरेशाह की दरगाह’ लिखा है।

हिन्दू संगठनों के विरोध को देखते हुए फरीदाबाद पुलिस ने मजार के अंदर मौजूद मौलवी को अपने साथ ले गई। वहीं हिन्दू संगठनों ने प्रशासन से माँग की कि जल्द से जल्द इस अवैध मजार को तोड़कर वहाँ एक मंदिर बनाया जाए। फरीदाबाद न्यूज़ ने पूरे मामले को कवर किया है। यहाँ आप देख सकते हैं कि कैसे लोग मजार से बरामद सामग्रियों को दिखाते हुए ऐसे समाज विरोधी अवैध गतिविधियों को रोकने की माँग को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। वहीं स्थानीय लोगों में भी इस घटना के सामने आने से आक्रोश देखा गया है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

1200 निर्दोषों के नरसंहार पर चुप्पी, जवाबी कार्रवाई को ‘अपराध’ बताने वाला फोटोग्राफर TIME का दुलारा: हिन्दुओं की लाशों का ‘कारोबार’ करने वाले को...

मोताज़ अजैज़ा को 'Time' ने सम्मान दे दिया। 7 अक्टूबर को इजरायल में हमास ने जिन 1200 निर्दोषों को मारा था, उनकी तस्वीरें कब दिखाएँगे ये? फिलिस्तीनी जनता की पीड़ा के लिए हमास ही जिम्मेदार है।

10 नए शहर, ₹10000 करोड़ के नए प्रोजेक्ट… जानें PM मोदी तीसरे कार्यकाल में किस ओर देंगे ध्यान, तैयार हो रहा 100 दिन का...

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सरकारी अधिकारियों से चुनाव के बाद का 100 दिन का रोडमैप बनाने को कहा था, जो अब तैयार हो रहा है। इस पर एक रिपोर्ट आई है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe