Tuesday, August 9, 2022
Homeदेश-समाजअवैध खनन रोकने गए DSP सुरेंद्र सिंह पर माफियाओं ने चढ़ाया डम्पर, मौके पर...

अवैध खनन रोकने गए DSP सुरेंद्र सिंह पर माफियाओं ने चढ़ाया डम्पर, मौके पर मौत: रोहिंग्या बस्तियों के लिए कुख्यात नूँह की घटना

इसे जिले की खनन माफियाओं की हिस्ट्री में अब तक कि सबसे बड़ी घटना माना जा रहा है। वहीं डिप्टी एसपी की हत्या की खबर से पूरे पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है।

हरियाणा स्थित मेवात के नूँह में DSP सुरेंदर सिंह बिश्नोई पर अवैध खनन माफियाओं ने पत्थर से लदे डम्पर चढ़ा दिया, जिससे उनकी मौत हो गई है। ये घटना उस वक्त हुई, जब पुलिस नूँह के पचगाँव की पहाड़ियों में अवैध खनन माफियाओं को पकड़ने गई थी। घटना के दौरान कुचले जाने से डीएसपी बिश्नोई की मौके पर ही मौत हो गई। वह इसी साल रिटायर होने वाले थे। यह वारदात आज मंगलवार (19 जुलाई, 2022) दोपहर सवा 12 बजे की बताई जा रही है।

मीडिया रिपोर्ट के अनुसार, डिप्टी एसपी को आज सुबह करीब 11 बजे इस बात की सूचना मिली थी कि इस जगह पर खनन किया जा रहा है। इसके बाद वह साढ़े 11 बजे अपने स्टाफ के साथ मौके पर पहुँचे। ऐसा बताया जा रहा है कि पुलिस को देखकर अवैध खनन माफिया भागने की कोशिश करने लगे और इसी दौरान वे डीएसपी को रौंदते हुए आगे बढ़ गए और डीएसपी की मौके पर ही मौत हो गई।

इसे जिले की खनन माफियाओं की हिस्ट्री में अब तक कि सबसे बड़ी घटना माना जा रहा है। वहीं डिप्टी एसपी की हत्या की खबर से पूरे पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया है। हालाँकि, वारदात के बाद पूरे क्षेत्र में भारी पुलिस बल तैनात कर दिया गया है।

वहीं मौके पर पहुँचे नूह एसपी और आईजी ने आरोपित खनन माफियाओं को पकड़ने के लिए सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया है। जगह-जगह दबिश दी जा रही है।

बता दें कि इस मामले में हरियाणा की नूँह पुलिस का बयान भी सामने आया है। पुलिस ने भी अपने बयान में घटना की पुष्टि करते हुए कहा, “तावडू (मेवात) के DSP सुरेंदर सिंह बिश्नोई नूँह में अवैध खनन की घटना की जाँच के लिए गए थे। यहाँ पर डम्पर चालक ने कुचलकर उनकी हत्या कर दी। आरोपित की गिरफ्तारी के लिए तलाशी अभियान जारी है।”

हरियाणा पुलिस ने उनके परिवार के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त की है। साथ ही कहा है कि अपराधियों को न्याय के कटघरे में लाने में कोई कसर नहीं छोड़ेंगे।

गौरतलब है कि हरियाणा में पहले भी इस तरह के मामले सामने आए हैं। इससे पहले सोनीपत में अवैध खनन करने वाले माफिया गिरोह ने स्पेशल इन्फोर्समेन्ट टीम पर हमला किया था। इस घटना में एक ASI की वर्दी फाड़ दी गई थी और सिपाही को पीटा गया था।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘पहली कैबिनेट बैठक में ही देंगे 10 लाख नौकरियाँ’: तेजस्वी यादव को याद दिलाया वादा तो किया टाल-मटोल, बेरोजगारी पर नीतीश कुमार को घेरते...

तेजस्वी यादव ने सत्ता में आने पर 10 लाख नौकरियों का वादा किया था, लेकिन अब इस सम्बन्ध में पूछे गए सवाल पर उन्होंने स्पष्ट जवाब नहीं दिया।

सपा नेता स्वामी प्रसाद मौर्य ने श्रीकांत त्यागी को दिया था विधायक वाला VVIP स्टीकर, कार पर लगा कर बनाता था भय का माहौल:...

यूपी के पूर्व मंत्री स्‍वामी प्रसाद मौर्य का खास रहा श्रीकांत त्‍यागी पुराना हिस्‍ट्रीशीटर है। नोएडा के दो थानों में उस पर 9 मुक़दमे दर्ज हैं। महिला से की थी बदसलूकी।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
212,564FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe