Thursday, July 18, 2024
Homeदेश-समाजहिमाचल प्रदेश में बारिश-भूस्खलन से अब तक 60 मौतें, 26 लापता: कई मकान ढहे,...

हिमाचल प्रदेश में बारिश-भूस्खलन से अब तक 60 मौतें, 26 लापता: कई मकान ढहे, बोले CM- दिखे दरार तो खाली कर दें घर

"मैं सभी से आग्रह करूँगा कि अगर किसी को घर में कोई दरार दिखाई देती है तो अपना घर खाली कर दें। प्रशासन उनके लिए भोजन और आवास की व्यवस्था करेगा। हम क्षतिग्रस्त घरों के पुनर्निर्माण के लिए भी आर्थिक सहायता देंगे।"

हिमाचल प्रदेश लगातार भारी बारिश हो रही है। इसके चलते शिमला में मंगलवार (15 अगस्त, 2023) शाम हुए भूस्खलन से कई घर ढह गए। इस घटना में 2 लोगों की मौत हुई है। कई लोगों के फँसे होने की आशंका है। राज्य में बारिश, बादल फटने और भूस्खलन से अब तक 60 मौतें हो चुकी है। 26 लोग लापता हैं।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार भूस्खलन की तजा घटना शिमला जिले के कृष्णा नगर इलाके के विष्णु मंदिर क्षेत्र की है। भूस्खलन में घर बहने के कुछ वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हैं। वायरल वीडियो में एक पेड़ घर की तरफ झुकता दिखाई दे रहा है। पेड़ के गिरने से घर क्षतिग्रस्त हो जाती है। कुछ ही सेकंड बाद भूस्खलन हो जाता है और घर ढह जाता है।

वहीं एक अन्य वीडियो में भी भूस्खलन होने से पहले पेड़ गिरता है। इसके बाद घर ढहते हुए दिखाई दे रहा है। घर के अंदर फँसे लोग खुद को बचाने के लिए चींख-पुकार करते सुने जा सकते हैं।

हिमाचल प्रदेश के मुख्यमंत्री सुखविंदर सिंह सुक्खू ने इस घटना में 2 लोगों की मौत की पुष्टि की है। सुक्खू ने कहा है, “दो लोगों की मौत हो गई है। एक शव बरामद हुआ है। दूसरे शव की तलाश की जा रही है। करीब 35 लोगों को रेस्क्यू कर उनके घरों से बाहर निकाला गया है। मैं सभी से आग्रह करूँगा कि अगर किसी को घर में कोई दरार दिखाई देती है तो अपना घर खाली कर दें। प्रशासन उनके लिए भोजन और आवास की व्यवस्था करेगा। हम क्षतिग्रस्त घरों के पुनर्निर्माण के लिए भी आर्थिक सहायता देंगे।” इसके अलावा उन्होंने भारी बारिश, बादल फटने से हुई घटनाओं से अब तक राज्य में 60 लोगों की मौत की पुष्टि की है।

हिमाचल प्रदेश के अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक अभिषेक त्रिवेदी ने कहा है कि दरारें देखने के बाद कई लोगों ने पहले ही घर खाली कर दिए थे। लेकिन हमें संदेह है कि करीब 5-10 लोग फँसे हो सकते हैं। आईटीबीपी, एसडीआरएफ और जिला पुलिस की टीमें मौके पर मौजूद हैं। राहत और बचाव कार्य युद्ध स्तर पर चल रहा है। फिलहाल सभी स्कूल-कॉलेज बंद कर दिए गए हैं।

Join OpIndia's official WhatsApp channel

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

साथियों ने हाथ-पाँव पकड़ा, काज़िम अंसारी ने ताबतोड़ घोंपा चाकू… धराया VIP अध्यक्ष मुकेश सहनी के पिता का हत्यारा, रात के डेढ़ बजे घर...

घटना की रात काज़िम अंसारी ने 10-11 बजे के बीच रेकी भी की थी जो CCTV में कैद है। रात के करीब डेढ़ बजे ये लोग पीछे के दरवाजे से घर में घुसे।

प्राइवेट नौकरियों में 75% आरक्षण वाले बिल पर कॉन्ग्रेस सरकार का U-टर्न, वापस लिया फैसला: IT कंपनियों ने दी थी कर्नाटक छोड़ने की धमकी

सिद्धारमैया के फैसले का भारी विरोध भी हो रहा था, जिसकी वजह से कॉन्ग्रेसी सरकार बुरी तरह से घिर गई थी। यही नहीं, इस फैसले की जानकारी देने वाले ट्वीट को भी मुख्यमंत्री को डिलीट करना पड़ा था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -