Saturday, May 25, 2024
Homeदेश-समाजजहाँगीरपुरी में बुलडोजर पर रोक के बावजूद हिंदुओं ने मंदिर के गेट को हटाया,...

जहाँगीरपुरी में बुलडोजर पर रोक के बावजूद हिंदुओं ने मंदिर के गेट को हटाया, मस्जिद के अवैध निर्माण को कर दिया गया था ध्वस्त

जहाँगीरपुरी के मुस्लिम बहुल इस इलाके में हनुमान जयंती के मौके पर शोभा यात्रा निकाली गई थी। इस दौरान मुस्लिम भीड़ ने शोभा यात्रा पर पत्थरों, बोतलों से हमला किया था। अब तक इस मामले में दो दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

दिल्ली के जहाँगीरपुरी (Jahangirpuri, Delhi) में नई दिल्ली नगर निगम (NDMC) द्वारा अतिक्रमण हटाने के लिए चलाए जा रहे अभियान के बीच इलाके के हिंदुओं ने वहाँ स्थित एक मंदिर के गेट को स्वेच्छा से हटा दिया है। दरअसल, गेट कानूनी रूप से मान्य सीमा के बाहर था। इसके बाद हिंदुओं ने खुद ही गेट को काटकर हटा दिया।

एनडीएमसी के अधिकारियों द्वारा जहाँगीरपुरी के सी ब्लॉक में अवैध अतिक्रमणों को हटाने के लिए बुलडोजर की कार्रवाई के एक दिन बाद हिंदू भक्तों ने ये कार्रवाई की। हिंदुओं ने मंदिर के फाटक को मुस्लिम बहुल इलाके में सुरक्षा को ध्यान रखते हुए लगाया था।

बुधवार (20 अप्रैल 2022) को एनडीएमसी ने भारी संख्या में पुलिस फोर्स की मौजूदगी में जहाँगीरपुरी इलाके में अतिक्रमण विरोधी अभियान शुरू किया था। बुलडोजर से अवैध ढाँचों, दुकानों और अन्य अतिक्रमणों को ढहा दिया गया। हालाँकि, जल्द ही कुछ घंटों की कार्रवाई के दौरान ही सुप्रीम कोर्ट ने यथास्थिति बनाए रखने का आदेश देते हुए इस अभियान को रोक दिया।

मस्जिद के अवैध निर्माण को ढहाया

जहाँगीरपुरी में हनुमान जयंती पर हिंसा के दौरान वहाँ की जिस मस्जिद से शोभा यात्रा पर पत्थर फेंके गए थे, उस मस्जिद के अवैध हिस्से को अतिक्रमण हटाने के दौरान ढहा दिया गया। मस्जिद के गेट को करीब 10 फीट तक निर्माण करा लिया गया था। मस्जिद के गेट के साथ-साथ अवैध तरीके से सड़क पर बनाई गई एक मजार को भी ध्वस्त कर दिया गया।

इलाके के कुछ हिस्सों में सड़क पर अतिक्रमण कर घरों का निर्माण कराया गया था। इससे 30 फीट की चौड़ी सड़क 10 फीट की संकरी गली बनकर रह गई थी, लेकिन जब बुलडोजर चला तो सभी को ध्वस्त कर दिया गया। इसके साथ ही सरकारी जमीन पर अतिक्रमण किए कई दुकानों को भी तोड़ दिया गया।

जहाँगीरपुरी के मुस्लिम बहुल इस इलाके में 16 अप्रैल 2022 को हनुमान जयंती के मौके पर शोभा यात्रा निकाली गई थी। इस दौरान मुस्लिम भीड़ ने शोभा यात्रा पर पत्थरों, बोतलों से हमला किया था। अब तक इस मामले में दो दर्जन से अधिक लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

OBC आरक्षण में मुस्लिम घुसपैठ पर कलकत्ता हाई कोर्ट का फैसला देश की आँख खोलने वाला: PM मोदी ने कहा – मेहनती विपक्षी संसद...

पीएम मोदी ने कहा कि मेरे लिए मेरे देश की 140 करोड़ जनता साकार ईश्वर का रूप है। सरकार और राजनीति दलों को जनता प्रति उत्तरदायी होना चाहिए।

SFI के गुंडों के बीच अवैध संबंध, ड्रग्स बिजनेस… जिस महिला प्रिंसिपल ने उठाई आवाज, केरल सरकार ने उनका पैसा-पोस्ट सब छीना, हाई कोर्ट...

कागरगोड कॉलेज की प्रिंसिपल डॉ रेमा एम ने कहा था कि उन्होंने छात्र-छात्राओं को शारीरिक संबंध बनाते देखा है और वो कैंपस में ड्रग्स भी इस्तेमाल करते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -