Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाज'हाथ पकड़ 20 मिनट तक आँखें बंद किए बैठे रहे, किस भी किया': पूर्व...

‘हाथ पकड़ 20 मिनट तक आँखें बंद किए बैठे रहे, किस भी किया’: पूर्व DGP के खिलाफ महिला IPS अधिकारी ने दर्ज कराई FIR

आरोप है कि पूर्व स्पेशल DGP ने पीड़िता का हाथ अपने हाथ में लेकर उसके पीछे किस किया, जिसके बाद पीड़िता ने तुरंत अपना हाथ वापस खींचा और कहा कि वो उनके साथ सहज नहीं है। इसके बाद राजेश दास मुस्कुराने लगे और....

तमिलनाडु के पूर्व स्पेशल DGP राजेश दास के खिलाफ यौन प्रताड़ना के आरोप लगे हैं आरोप लगाने वाली महिला भी IPS अधिकारी ही हैं। आरोप है कि पूर्व स्पेशल DGP ने पीड़िता का हाथ अपने हाथ में लेकर उसके पीछे किस किया, जिसके बाद पीड़िता ने तुरंत अपना हाथ वापस खींचा और कहा कि वो उनके साथ सहज नहीं है। इसके बाद राजेश दास मुस्कुराने लगे और हाथ छोड़ दिया। आरोप है कि इसके कुछ देर बाद वो फिर पीड़िता से अपना हाथ देने को कहने लगे।

महिला IPS अधिकारी के आरोपों के अनुसार, पूर्व स्पेशल DGP ने इसके बाद फिर से उनका हाथ अपने हाथ में ले लिया और अजीब हरकतें करने लगे। राजेश दास के खिलाफ यौन प्रताड़ना का मामला दर्ज कर लिया गया है। मद्रास हाईकोर्ट ने भी इस मामले का स्वतः संज्ञान लिया है। FIR में कहा गया कि पूर्व स्पेशल DGP ने कई बार मना करने के बावजूद पीड़िता का हाथ पकड़ा, किस किया और फोटो क्लिक किया।

ये फरवरी 21, 2021 को करूर इलाके में हुई। लाइटहाउस कॉर्नर में तब मुख्यमंत्री की बैठक थी और उक्त IPS अधिकारी को बंदोबस्त ड्यूटी में लगाया गया था। तभी तत्कालीन स्पेशल DGP ने उन्हें अपनी कार में बैठने को कहा। उनका कहना है कि उसी कार में ये घटना हुई। आरोप है कि सबसे पहले राजेश दास ने उन्हें गाना गाने को कहा, जो उन्होंने किया। इसके बाद वो पीड़िता का हाथ पकड़ कर 20 मिनट तक आँख बंद किए बैठे रहे।

इसके बाद आरोपित ने उन्हें एक तौलिया दिया, ताकि वो अपने हाथ साफ़ कर सके। वो तब चौंक गई, जब आरोपित ने अपने फोन में उनकी कई तस्वीरें दिखाईं, जिन्हें ‘फेवरिट्स’ सेक्शन में डाल कर रखा गया था। दास ने तब बताया कि वो जब चाहें तब इन्हें देख सके, इसीलिए उन्होंने ऐसा किया है। ये तस्वीरें पिछले कुछ मौकों पर उन्होंने खुद क्लिक की थी। आरोप है कि उन्हें शिकायत करने से रोकने के लिए 10-15 पुलिसकर्मियों को लगाया गया।

कुछ दिनों बाद उनके ससुर के पास फोन कॉल कर दास ने कॉम्प्रोमाइज करने को कहा और दावा किया कि वो पीड़िता के पाँव पर गिरने को भी तैयार हैं। इस बारे में पीड़िता के पति ने पीड़िता को बताया। इसीलिए, इस मामले में आधिकारिक शक्तियों के दुरुपयोग का मामला भी दर्ज किया गया है। मानसिक प्रताड़ना के साथ-साथ दिमागी शांति भंग करने और आपराधिक धमकी का मामला भी दर्ज किया गया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी के बेस्ट सीएम उम्मीदवार हैं योगी आदित्यनाथ, प्रियंका गाँधी सबसे फिसड्डी, 62% ने कहा ब्राह्मण भाजपा के साथ: सर्वे

इस सर्वे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री बताया गया है, जबकि कॉन्ग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी सबसे निचले पायदान पर रहीं।

असम को पसंद आया विकास का रास्ता, आंदोलन, आतंकवाद और हथियार को छोड़ आगे बढ़ा राज्य: गृहमंत्री अमित शाह

असम में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनने का मतलब है कि असम ने आंदोलन, आतंकवाद और हथियार तीनों को हमेशा के लिए छोड़कर विकास के रास्ते पर जाना तय किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,226FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe