Wednesday, September 28, 2022
Homeदेश-समाजPM मोदी के नाम से 'लैपटॉप योजना' चलाने वाला निकला IITian, हुआ गिरफ्तार

PM मोदी के नाम से ‘लैपटॉप योजना’ चलाने वाला निकला IITian, हुआ गिरफ्तार

लैपटॉप वाले संदेशों में मेक इन इंडिया का लोगो और प्रधानमंत्री की फोटो भी होती थी ताकि संदेश की प्रमाणिकता पर संदेह न हो।

पुलिस ने राजस्थान से 23 वर्षीय राकेश जांगिड़ नाम के एक आईआईटी ग्रेजुएट युवक को गिरफ्तार किया है। युवक पर आरोप है कि वो नरेंद्र मोदी की तस्वीर लगाकर एक फर्जी वेबसाइट चलाता था। साथ ही व्हॉट्सएप के जरिए लोगों को बताता था कि मोदी सरकार के दोबारा सत्ता में आने के बाद एक नई योजना आई है, जिसमें फ्री लैपटॉप बाँटे जाएँगे।

राकेश इन संदेशों में मेक इन इंडिया का लोगो और प्रधानमंत्री की फोटो भी भेजता था, ताकि संदेश की प्रमाणिकता पर संदेह न हो। आरोपित लोगों से इस वेबसाइट पर रजिस्ट्रेशन करने के लिए कहता था, जिससे साइट पर अधिक से अधिक ट्रैफिक आ सके।

23 साल का राकेश राजस्थान में नागौर जिले के पुंदलोता का निवासी है। 2019 में IIT दिल्ली से पोस्ट ग्रेजुएशन करने के बाद आरोपित अपनी फर्जी वेबसाइट (www.modi-laptop.wishguruji.com) के जरिए लोगों को हैदराबाद में नौकरी का ऑफर देकर ठगता था। जाँच के मुताबिक पिछले 2 दिन में इस फर्जीवाड़े के चलते उसकी वेबसाइट पर 15 लाख से अधिक लोगों ने नौकरी के लिए पंजीकरण किया है।

दैनिक भास्कर की खबर के मुताबिक साइबर क्राइम ब्राँच के वरिष्ठ अधिकारी ने मामले पर जानकारी देते हुए बताया है कि आरोपित को उसके घर से गिरफ्तार किया गया है। अधिकारी का कहना है कि संजय बड़ी होशियारी से गूगल एडसेंस का प्रयोग करता था। फिलहाल इस बात की जाँच चल रही है कि इस आईआईटी की पढ़ाई किए युवक ने और किन-किन योजनाओं के नाम पर फर्जीवाड़ा किया है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘ब्रह्मांड के केंद्र’ में भारत माता की समृद्धि के लिए RSS प्रमुख मोहन भागवत ने की प्रार्थना, मेघालय के इसी जगह पर है ‘स्वर्णिम...

सेंग खासी एक सामाजिक-सांस्कृतिक और धार्मिक संगठन है जिसका गठन 23 नवंबर, 1899 को 16 युवकों ने खासी संस्कृति व परंपरा के संरक्षण हेतु किया था।

अब पलटा लेस्टर हिंसा के लिए हिन्दुओं को जिम्मेदार ठहराने वाला BBC, फिर भी जारी रखी मुस्लिम भीड़ को बचाने की कोशिश: नहीं ला...

बीबीसी ने अपनी पिछली रिपोर्टों के लिए कोई माफी नहीं माँगी है, जिसमें उसने हिंदुओं पर झूठा आरोप लगाया था कि हिंसा के लिए वे जिम्मेदार हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
224,688FollowersFollow
416,000SubscribersSubscribe