Sunday, May 19, 2024
Homeदेश-समाज4 महीने की बच्ची का अपहरण... 4 लोगों के हाथों बिकते हुए मुंबई से...

4 महीने की बच्ची का अपहरण… 4 लोगों के हाथों बिकते हुए मुंबई से बेंगलुरु: शारमीन, सिद्दीकी, फरजाना गिरफ्तार

शारमीन और उसके शौहर सिद्दीकी ने मुंबई में 4 महीने की बच्ची का अपहरण किया, फरजाना को बेच दिया। फरजाना ने आशा को दिया, आशा से जूलिया ने खरीदा। जूलिया ने बेंगलुरु में...

मुंबई के देवनार क्षेत्र में रविवार (अप्रैल 4, 2021) को एक शिशु के अपहरण के मामले में 4 आरोपितों को गिरफ्तार किया गया, जिनमें 3 महिलाएँ हैं। गुरुवार को ही 4 महीने की बच्ची गायब हो गई थी, जिसके बाद परिजनों ने पुलिस से संपर्क किया था। शारमीन और उसके शौहर सिद्दीकी खान पर अपहरण के आरोप लगे थे। पुलिस ने इस सूचना के आधार पर शारमीन और सिद्दीकी से पूछताछ की, जिसके बाद एक और महिला का नाम सामने आया।

पता चला कि बच्ची को एंटोप हिल क्षेत्र में रहने वाली महिला फरजाना सैय्यद शेख को दे दिया गया है। फिर फरजाना ने उस छोटी सी बच्ची को चेम्बूर की रहने वाली आशा पवार को दे दिया था। पवार ने उस बच्ची को फिर से बेच दिया। अबकी माटुंगा की रहने वाली जूलिया फर्नांडिस ने उसे खरीदा। पुलिस ने अंततः बेंगलुरु से बच्ची को बरामद करने में कामयाबी पाई। बच्ची को उसके परिजनों को सौंप दिया गया है।

शारमीन, सिद्दीकी, फरजाना और आशा को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले में अभी और गिरफ्तारियाँ होनी हैं। ये सभी मिल कर शिशुओं की तस्करी का रैकेट चला रहे थे। शारमीन और सिद्दीकी पीड़ित परिजनों के पड़ोसी ही थे। जूलिया फर्नांडिस की 10 दिनों पहले ही डिलीवरी हुई थी। बेंगलुरु में उसकी मुलाकात एक ऐसे जोड़े से हुई थी, जिसका कोई बच्चा नहीं था। वो लोग किसी बच्चे को गोद लेना चाहते थे।

जूलिया ने उनसे कहा कि ये बच्ची उसकी है और ख़रीदे गए शिशु को बेच डाला। पुलिस अब तक उसे गिरफ्तार नहीं कर पाई है लेकिन आश्वासन दिया है कि उसे जल्द ही धर-दबोचा जाएगा।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसे वामपंथन रोमिला थापर ने ‘इस्लामी कला’ से जोड़ा, उस मंदिर को तोड़ इब्राहिम शर्की ने बनवाई थी मस्जिद: जानिए अटाला माता मंदिर लेने...

अटाला मस्जिद का निर्माण अटाला माता के मंदिर पर ही हुआ है। इसकी पुष्टि तमाम विद्वानों की पुस्तकें, मौजूदा सबूत भी करते हैं।

रोफिकुल इस्लाम जैसे दलाल कराते हैं भारत में घुसपैठ, फिर भारतीय रेल में सवार हो फैल जाते हैं बांग्लादेशी-रोहिंग्या: 16 महीने में अकेले त्रिपुरा...

त्रिपुरा के अगरतला रेलवे स्टेशन से फिर बांग्लादेशी घुसपैठिए पकड़े गए। ये ट्रेन में सवार होकर चेन्नई जाने की फिराक में थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -