Saturday, October 16, 2021
Homeदेश-समाज'तबलीग के जमाती देश के गद्दार, वे कोरोना महामारी को फैलाने की रच रहे...

‘तबलीग के जमाती देश के गद्दार, वे कोरोना महामारी को फैलाने की रच रहे साजिश’ – बाबरी वाले इकबाल अंसारी

"हम देश के प्रति वफादार हैं। जमाती घुमंतू होते हैं। जगह-जगह घूमते रहते हैं। जहाँ जगह मिली, वहीं सो जाते हैं। जहाँ खाना मिला, वहाँ खा लेते हैं। लेकिन, मौजूदा समय में यही जमाती कोरोना फैलने की वजह बन रहे हैं। यह बीमारी खासतौर पर जमातियों में पाई जा रही है।"

कोरोना वायरस के संक्रमण का सबसे बड़ा स्रोत बन चुके तबलीगी जमात पर बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी का कहना है कि तबलीगी जमात पर देशद्रोह का मुकदमा दर्ज होना चाहिए।

इकबाल अंसारी का आरोप है कि तबलीगी जमात के लोगों ने देश में कोरोना वायरस के संक्रमण को फैलाया है। उन्होंने कहा कि सरकार ने तबलीगी जमात के लोगों को पहले ही चेतावनी दी थी कि वह भीड़ न इकट्ठा करें, फिर भी जमात के लोगों ने एज्तेमा आयोजित किया और इसके बाद पूरे देश में कोरोना संक्रमण को फैलाया।

घुमंतू होते हैं तबलीगी, जहाँ जगह मिले वहीं सोते हैं

इकबाल अंसारी रविवार (अप्रैल 19, 2020) को लखनऊ में संवाददाताओं से बातचीत करते हुए कहा- “हम देश के प्रति वफादार हैं। जमाती घुमंतू होते हैं। जगह-जगह घूमते रहते हैं। जहाँ जगह मिली, वहीं सो जाते हैं। जहाँ खाना मिला, वहाँ खा लेते हैं। लेकिन, मौजूदा समय में यही जमाती कोरोना फैलने की वजह बन रहे हैं। यह बीमारी खासतौर पर जमातियों में पाई जा रही है।”

अयोध्या विवाद में बाबरी मस्जिद के पक्षकार रहे इकबाल अंसारी ने कहा है कि तबलीगी के जमाती देश के गद्दार हैं, वे देश में कोरोना जैसी महामारी को फैलाने की साजिश रच रहे हैं। उनका कहना है कि कोरोना संक्रमण किसी जाति धर्म को देख कर नही संक्रमित कर रहा है। ऐसे में जमात के लोगों को देश के बारे में सोचना चाहिए था। लेकिन जमात के लोगों ने जो किया वह देशद्रोह है।

इकबाल अंसारी का कहना है कि सरकार ने जमात के लोगों को इलाज के लिए बुलाया लेकिन उसके बाद भी जमात के लोग सामने नहीं आए। आज पूरे देश में जमात की वजह से संक्रमण फैला है। ऐसे लोगों के खिलाफ सरकार को देशद्रोह का मुकदमा दर्ज करना चाहिए।

‘हम देश के वफादार हैं, हम कोरोना नहीं फैलने देंगे’

धर्म और मजहब को बीच में ना लाने की सलाह देते हुए उन्होंने कहा कि देश बचाने के लिए मजहब की दीवारें नहीं आनी चाहिए। सभी धर्मों के लोगों को एक साथ जुड़कर कोरोना जैसी महामारी से निपटने के लिए प्रयत्न करना चाहिए। इकबाल अंसारी ने कहा कि हम देश के वफादार हैं और हम कोरोना का संक्रमण अपने देश में नहीं होने देंगे।

उन्होंने कहा कि जमाती अगर गलत कर रहे हैं, तो हम उनका समर्थन बिल्कुल भी नहीं करते। आए दिन जमातियों के संक्रमित होने के मामले सामने आ रहे हैं। सरकार के निर्देशों का उल्लंघन कर ये लोग देश विरोधी काम कर रहे हैं।

कोरोना के खिलाफ मोदी-योगी सरकार ने लगा रखी है पूरी ताकत

इकबाल अंसारी ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ सरकार की तारीफ की। इकबाल का कहना है कि कोरोना संक्रमण के खिलाफ सरकार ने पूरी ताकत लगा रखी है और कोरोना संक्रमण देश से जल्दी ही समाप्त होगा।

इकबाल अंसारी का यह बयान आप इस लिंक पर देख सकते हैं –

अंसारी ने तबलीगी के जमातियों को इंसानियत का दुश्मन बताते हुए कहा कि ऐसे जमातियों पर कड़ी कार्रवाई की जानी चाहिए, ये जहाँ भी मिलें, इन्हें सजा दी जानी चाहिए।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

दलित युवक लखबीर सिंह की हत्या के बाद संयुक्त किसान मोर्चा के बचाव में कूदा India Today, ‘सोर्स’ के नाम पर नया ‘भ्रमजाल’

SKM के नेता प्रदर्शन स्थल पर हुए दलित युवक की हत्या से खुद को अलग कर रहे हैं। इस बीच इंडिया टुडे ग्रुप अब उनके बचाव में सामने आया है। .

कुंडली बॉर्डर पर लखबीर की हत्या के मामले में निहंग सरबजीत को हरियाणा पुलिस ने किया गिरफ्तार, लगे ‘जो बोले सो निहाल’ के नारे

निहंग सिख सरबजीत की गिरफ्तारी की वीडियो सामने आई है। इसमें आसपास मौजूद लोग तेज तेज 'जो बोले सो निहाल' के नारे बुलंद कर रहे हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
128,835FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe