Saturday, June 22, 2024
Homeदेश-समाजअयाज से निकाह के लिए अनामिका बनी 'उजमा', माँ बोली - नाम छिपा कर...

अयाज से निकाह के लिए अनामिका बनी ‘उजमा’, माँ बोली – नाम छिपा कर किया ‘लव जिहाद’: पुलिस ने कहा – मर्जी से गई लड़की, 8 साल से थे प्रेम संबंध

जबलपुर पुलिस ने लड़की के माँ के आरोपों का खंडन किया है और उन्हें सब कुछ पहले से पता होने की जानकारी दी है। जबलपुर पुलिस के मुताबिक, लड़की और लड़का लगभग 8 वर्षों से एक दूसरे से प्रेम करते थे।

मध्य प्रदेश के जबलपुर से ‘लव जिहाद’ का एक मामला सामने आया है। यहाँ अनामिका दुबे नाम की लड़की के फातिमा बन कर निकाह के वायरल कार्ड पर हिन्दू संगठनों ने पुलिस से कार्रवाई की माँग की है। लड़की की माँ ने भी कार्ड में छपे दूल्हे अयाज पर नाम बदल कर बात करने और खुद को धोखे में रखने का आरोप लगाया है। वायरल हो रहे कार्ड में निकाह की तारीख 7 जून दर्ज है। हालाँकि पुलिस ने अयाज को क्लीनचिट देते हुए दोनों यह निकाह दोनों परिवारों की मर्जी से होने की जानकारी दी है।

वायरल हो रहे कार्ड के मुताबिक, जबलपुर के अमखेरा इलाके की रहने वाली एक लड़की के मुस्लिम युवक से निकाह का कार्ड सोशल मीडिया पर वायरल हुआ। अनामिका दुबे को ब्रेकेट में दिखा कर इस कार्ड में उनका पहला नाम उजमा फातिमा दिखाया गया। इसी कार्ड में दूल्हे के तौर पर अयाज का नाम है जिसके अब्बा रेलवे में कार्यरत बताए जा रहे हैं। निकाह के इस कार्ड के साथ अनामिका और अयाज का मैरिज सर्टिफिकेट भी वायरल हुआ है। इस सर्टिफिकेट को 3 गवाहों की गवाही के आधार पर जारी किया गया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, इस कार्ड और मैरिज सर्टिफिकेट के वायरल होने पर हिन्दू संगठनों ने विरोध दर्ज करवाना शुरू कर दिया। गुरुवार (1 जून, 2023) को हिन्दू संगठनों का एक प्रतिनिधि मंडल जिले की एडिशनल एसपी से मिला और मामले को साजिश बताते हुए जाँच की माँग की। हिन्दू संगठन के पदाधिकारियों ने पुलिस को ज्ञापन दे कर इसमें लड़की के धर्म परिवर्तन का भी आरोप लगाया। इस बीच संगठन से जुड़े कुछ लोगों ने लड़की के परिवार से भी मुलाकात की।

बताया जा रहा है कि लड़की की माँ ने भी अयाज पर अपनी बेटी के साथ ‘लव जिहाद’ की साजिश करने का आरोप लगाया है। उन्होंने अपनी बेटी को अयाज के घर बताते हुए वापस अपने साथ भेजने की माँग की। अनामिका की माँ का आरोप है कि अयाज ने उनसे लम्बे समय तक नाम बदल कर बातचीत की थी। लड़की की माँ ने प्रशासन पर भी अपनी बेटी के निकाह की जानकारी खुद को न देने का आरोप लगाया।

पुलिस द्वारा लड़की की माँ के आरोपों का खंडन

हालाँकि, जबलपुर पुलिस ने लड़की के माँ के आरोपों का खंडन किया है और उन्हें सब कुछ पहले से पता होने की जानकारी दी है। जबलपुर पुलिस के मुताबिक, लड़की और लड़का लगभग 8 वर्षों से एक दूसरे से प्रेम करते थे। इन दोनों ने नवंबर 2022 में निकाह करने के लिए जिले के कलेक्ट्रेट ऑफिस में आवेदन दिया था। पुलिस का यह भी दावा है कि दोनों परिवारों ने इस दौरान निकाह के लिए सहमति दी। इस दौरान लड़की के घर वालों ने अपनी एक और बेटी की शादी का हवाला दे कर फरवरी 2023 तक बड़ी बेटी अनामिका की विदाई रोकने की शर्त रखी थी।

पुलिस ने आगे बताया कि फरवरी 2023 में अनामिका की छोटी बहन की शादी हो गई। इसके बाद अप्रैल 2023 में आपसी सहमति से अनामिका को उसकी ससुराल भेजा गया था। अयाज के घर भेजने के दौरान लड़की के घर वालों ने अनामिका को गिफ्ट आदि भी दिए थे। सारांश के तौर पर पुलिस ने बताया कि इस मामले में कोई अपराध होना नहीं पाया गया है। अयाज साथ निकाह रहना और उसके घर पर रहने को लड़की की मर्जी बताया गया। लड़की के परिवार वालों ने भी अपनी बेटी की गुमशुदगी की रिपोर्ट कहीं दर्ज नहीं करवाई है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

आज भी ‘रलिव, गलिव, चलिव’ ही कश्मीर का सत्य, आखिर कब थमेगा हिन्दुओं को निशाना बनाने का सिलसिला: जानिए हाल के वर्षों में कब...

जम्मू कश्मीर में इस्लाम के नाम पर लगातार हिन्दू प्रताड़ना जारी है। 2024 में ही जिहाद के नाम पर 13 हिन्दुओं की हत्याएँ की जा चुकी हैं।

CM केजरीवाल ने माँगे थे ₹100 करोड़, हमने ₹45 करोड़ का पता लगाया: ED ने दिल्ली हाई कोर्ट को बताया, कहा- निचली अदालत के...

दिल्ली हाई कोर्ट ने मुख्यमंत्री और AAP मुखिया अरविन्द केजरीवाल की नियमित जमानत पर अंतरिम तौर पर रोक लगा दी है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -