Friday, February 26, 2021
Home देश-समाज जादवपुर यूनिवर्सिटी में 'बॉयज लॉकर रूम': जहाँ गूगल ड्राइव से लड़कियों की नग्न तस्वीरें...

जादवपुर यूनिवर्सिटी में ‘बॉयज लॉकर रूम’: जहाँ गूगल ड्राइव से लड़कियों की नग्न तस्वीरें होती रहीं सर्कुलेट

"यूनिवर्सिटी के छात्रों का एक ग्रुप गूगल ड्राइव के जरिए लड़कियों की नग्न और अर्धनग्न तस्वीरों को सर्कुलेट कर रहा है। इस ड्राइव का इस्तेमाल 2016 से ही हो रहा है।" - जिन्होंने यह जानकारी दी, उन्हें बहुत बड़ा झटका तब लगा, जब उन्होंने खुद की तस्वीर भी वहाँ पर देखी।

दिल्ली में विवादित इंस्टाग्राम ग्रुप बॉयज लॉकर रूम (Boys Locker Room/Bois Locker Room) का खुलासा होने के कुछ ही घंटों बाद कोलकाता से भी एक ऐसा ही मामला सामने आया। कोलकाता के जादवपुर विश्वविद्यालय के कुछ पूर्व छात्रों पर इसी तरह की अश्लील और आपत्तिजनक चैट करने का आरोप है।

इसका खुलासा तब हुआ, जब ‘Aiyoobrows’ नामक ट्विटर यूजर ने सोमवार (मई 4, 2020) को इसको लेकर एक के बाद एक कई ट्विट्स किए। इसमें उन्होंने आरोप लगाया कि यूनिवर्सिटी के छात्रों का एक ग्रुप गूगल ड्राइव (Google Drive) के जरिए महिलाओं की नग्न और अर्धनग्न तस्वीरों को सर्कुलेट कर रहा है। उन्होंने बताया कि इस ड्राइव का इस्तेमाल 2016 से ही हो रहा है।

इस मामले में उन्होंने सौर्यदीप बसाक और इमान कल्याण घोष नामक दो लड़कों का नाम बताया। उन्होंने बताया कि ड्राइव सौर्यदीप बासक का है और इमानकल्याण का भी इसमें बराबर का हिस्सेदार है। उन्होंने कहा कि उन्हें यकीन है कि इसमें और भी लोग शामिल हैं, लेकिन उन्हें उन लोगों का नाम नहीं मालूम है। एक अन्य ट्विटर उपयोगकर्ता @SadMandalorion ने ‘Aiyoobrows’ के आरोपों पर कहा कि जब बाद में ‘Aiyoobrows’ इसका खुलासा करना चाहती थी तो उनसे पीड़ितों द्वारा कहा गया कि वो ऐसा न करें, क्योंकि इससे आगे उनके मानसिक स्वास्थ्य पर असर पड़ सकता है।

उन्होंने आगे आरोप लगाया कि ये तस्वीर पीड़ितों के साथ धोखेबाजी करके प्राप्त की गई थी।

उन्होंने कुछ और पुरुषों के नाम भी लिए, जो कथित तौर पर महिलाओं की नग्न तस्वीरें शेयर करने में शामिल थे।

महिलाओं के स्क्रीनशॉट की कई तस्वीरें सोशल मीडिया में सर्कुलेट हो रही हैं, जहाँ पीड़ित इस घटना के बारे में बता रही हैं। 2015 में अपने साथ हुई एक घटना के बारे में बात करते हुए, एक महिला ने आरोप लगाया है कि वह ओडिशा में अंतरराष्ट्रीय MUN (मॉडल संयुक्त राष्ट्र) में भाग ले रही थीं, जहाँ बसाक ने कथित तौर पर उसे खुद की तस्वीर भेजने के लिए कहा था। कथित तौर पर बसाक ने उन्हें अपने लिंग की तस्वीर भेजी। फिर उसने (दबाव के कारण), अपनी इंटिमेट तस्वीर भेज दी। महिला ने सोचा था कि वह इसे बाद में डिलीट कर देगा। लेकिन वह यह जानकर हैरान रह गईं कि उसकी तस्वीर Google ड्राइव में थी और सर्कुलेट हो रही है।

Image credit: iDiva.com

सर्कुलेट हो रहे एक और स्क्रीनशॉट में दावा किया गया है कि किसी ने उनकी इंटिमेट तस्वीरों को शेयर करने के लिए झाँसे में लेने की कोशिश की थी। जब उनके साथ यह घटना हुई थी, उस समय वह 12 वीं में थी, यानी कि नाबालिग थी।

Image credit: iDiva.com

एक अन्य महिला ने जादवपुर यूनिवर्सिटी और उस गूगल ड्राइव के बारे में बात करते हुए अपना अनुभव साझा किया। इसमें वह  ‘First Year F*ck’ नामक किसी चीज के बारे में बात करती है, जिसमें एक शख्स प्रथम वर्ष के छात्राओं के साथ शारीरिक रूप से इंटीमेट होने की कोशिश करेगा। वह आरोप लगाती हैं कि उसे उसके करीबी दोस्तों द्वारा भरपूर संरक्षण प्राप्त था।

Image credit: iDiva.com

एक महिला ने 2016 की एक घटना को याद करते हुए बसाक के साथ हुई बातचीत के बारे में बताया। महिला उस समय जादवपुर विश्वविद्यालय में कॉलेज के प्रथम वर्ष में थी। उसने आरोप लगाया कि उसके और बसाक के शराब पीने के बाद, बसाक ने उसे अपने फोन पर ‘प्ले सेक्स गेम’ खेलने के लिए कहा और उसके साथ इंटीमेट होने की कोशिश की, जिसे उसने विनम्रता से मना कर दिया। वह दावा करती हैं कि बाद में फिर बसाक ने उसे नंगी तस्वीर भेजने के लिए मैनुपुलेट करने की कोशिश की।

Image credit: iDiva.com

एक और स्क्रीनशॉट सामने आया है, जिसमें बसाक एक महिला से यौन संबंध बनाने के लिए कहता है।

टाइम्स ऑफ इंडिया की एक रिपोर्ट के अनुसार, ‘Aiyoobrows’ को 2018 में भारत में #MeToo आंदोलन के दौरान ड्राइव के बारे में पता चला था। उस दौरान कई महिलाओं और पुरुषों ने अपने साथ वर्कप्लेस पर हुए यौन शोषण के बारे में खुलासा किया था। रिपोर्ट के अनुसार बसाक ने अपने साथ रिलेसनशिप में आई महिलाओं की तस्वीर को सेव करने और फिर उसे अपने ग्रुप में शेयर करने के लिए 2016 में इस ड्राइव की शुरुआत की थी। वो कहती हैं कि उन्हें बहुत बड़ा झटका लगा, जब उन्होंने खुद की तस्वीर भी वहाँ पर देखी। कथित तौर पर जब बसाक ने उनसे काफी सालों तक तस्वीर भेजने के लिए उन्हें मैनुपुलेट किया, तब उन्होंने तस्वीर उसे भेजी थी। मगर उनसे बिना पूछे उनकी तस्वीर को गूगल ड्राइव के जरिए सर्कुलेट होता देखकर उन्हें काफी धक्का पहुँचा है।

रिपोर्ट में आगे गूगल ड्राइव के एडमिन बासक के हवाले से कहा गया है कि यह उसके रोमांटिक अफेयर्स की कहानी है और इसका महिलाओं को अपमानित करने से कोई संबंध नहीं है। बसाक कथित तौर पर टाइम्स ऑफ इंडिया से कहता है कि चूँकि वो कॉलेज में काफी पॉपुलर था, तो उसके काई सारे अफेयर्स और रोमांटिक संबंध थे। उसने कहा कि वह उन दोनों महिलाओं को जानता है, जिन्होंने उसके खिलाफ आरोप लगाए हैं और वह उन दोनों के साथ रिलेसनशिप में था और रिलेसनशिप में रहते हुए उन दोनों के साथ धोखा किया था। वो कहता है कि वो एक सहमति वाला रिलेसनशिप में था और उसने कोई अपराध नहीं किया है। इतना ही नहीं, आगे वह दावा भी करता है कि उसने महिलाओं से प्राप्त फोटो को कभी सर्कुलेट नहीं किया।

एक अन्य शख्स, इमान कल्याण घोष, जिस पर गूगल ड्राइव के अस्तित्व के बारे में जानने का आरोप है, ने दावा किया कि उसे इस बात से घृणा है कि उसने बसाक से कभी पूछताछ नहीं की और ऐसे व्यवहार का समर्थन करने वालों का समर्थन किया।

बॉयज लॉकर रूम

बता दें अभी हाल ही में इंस्टाग्राम ग्रुप बॉयज लॉकर रूम (Boys Locker Room/Bois Locker Room) का खुलासा एक लड़की की मदद से हाल में हुआ, जिसने सोशल मीडिया पर इस ग्रुप के कुछ स्क्रीनशॉट्स को शेयर करते हुए लिखा, “दक्षिण दिल्ली के 17-18 साल की उम्र के लड़कों का एक ग्रुप है, जिसका नाम ‘ब्वॉयज लॉकर रूम’ (Boys Locker Room/Bois Locker Room) है, जहाँ कम उम्र की लड़कियों की तस्वीरों के साथ छेड़छाड़ कर आपत्तिजनक बनाया जा रहा था। मेरे स्कूल के दो लड़के इसका हिस्सा हैं।” लड़की ने इस दौरान जिन तस्वीरों को शेयर किया था, उन पर लिखे कमेंट देखकर ये अंदाजा लगाया जा सकता था कि ग्रुप के सदस्य गैंगरेप की योजना बना रहे थे और उस पर चर्चा कर रहे थे।

गर्ल्स लॉकर रूम

‘बॉयज लॉकर रूम’ के बाद अब कथित तौर पर ‘गर्ल्स लॉकर रूम’ चैट लीक हो गए हैं, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा हैं। ‘गर्ल्स लॉकर रूम’ के कथित तौर पर जो चैट सोशल मीडिया पर वायरल हो रहे हैं, उसमें कम उम्र की लड़कियाँ लड़कों के प्राइवेट पार्ट्स को लेकर अश्लील बातें और टिप्पणी करती नजर आ रही हैं। इस ‘गर्ल्स लॉकर रूम’ में कथित तौर पर पुरुषों के बारे में अपमानजनक बातें की जाती हैं। महिलाओं के ग्रुप चैट स्क्रीनशॉट में कथित रूप से सिर्फ पुरुषों की आपत्तिजनक तस्वीरें हैं।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

2019 से अब तक किया बहुत काम, बंगाल में जीतेंगे 200 से ज्यादा सीटें: BJP नेता कैलाश विजयवर्गीय

कैलाश विजयवर्गीय ने कहा अपनी जीत के प्रति आश्वस्त होते हुए कहा कि लोकसभा चुनावों में भी लोगों को विश्वास नहीं था कि भाजपा इतनी ताकतवर है लेकिन अब शंका दूर हो गई है।

5 राज्यों के विधानसभा चुनावों की तारीखों का हुआ ऐलान, बंगाल में 8 चरणों में होगा मतदान: जानें डिटेल्स

देश के पाँच राज्य केरल, तमिलनाडु, असम, पश्चिम बंगाल और पुडुचेरी में कुल मिलाकर इस बार 18 करोड़ मतदाता वोट देंगें।

राजदीप सरदेसाई की ‘चापलूसी’ में लगा इंडिया टुडे, ‘दलाल’ लिखा तो कर दिए जाएँगे ब्लॉक: लोग ले रहे मजे

एक सोशल मीडिया अकॉउटं से जब राजदीप को 'दलाल' लिखा गया तो इंडिया टुडे का आधिकारिक हैंडल बचाव में आया और लोगों को ब्लॉक करने लगा।

10 साल पहले अग्रेसिव लेंडिंग के नाम पर किया गया बैंकिंग सेंक्टर को कमजोर: PM मोदी ने पारदर्शिता को बताया प्राथमिकता

सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास इसका मंत्र फाइनेंशल सेक्टर पर स्पष्ट दिख रहा है। आज गरीब हो, किसान हो, पशुपालक हो, मछुआरे हो, छोटे दुकानदार हो सबके लिए क्रेडिट एक्सेस हो पाया है।

हिन्दुओं के आराध्यों का अपमान बन गया है कमाई का जरिया: तांडव मामले में अपर्णा पुरोहित की अग्रिम जमानत याचिका खारिज

तांडव वेब सीरीज के विवाद के मामले में इलाहाबाद हाईकोर्ट ने अमजॉन प्राइम वीडियो की हेड अपर्णा पुरोहित की अग्रिम जमानत याचिका को खारिज कर दिया है।

मिशनरी स्कूल प्रिंसिपल ने लाइब्रेरियन पर डाला धर्मांतरण का दबाव: लालच देकर सैलरी रोकी फिर गालियाँ देकर नौकरी से निकाला

जब लाइब्रेरियन रूबी सिंह ने स्कूल प्रिंसिपल सिस्टर भाग्या से वेतन की माँग की तो उन्होंने कहा कि धर्म परिवर्तन कर लो, हम तुम्हारा वेतन दे देंगे और उसमें बढ़ोतरी भी कर देंगे।

प्रचलित ख़बरें

आमिर खान की बेटी इरा अपने संघी हिन्दू नौकर के साथ फरार.. अब होगा न्याय: Fact Check से जानिए क्या है हकीकत

सोशल मीडिया पर दावा किया जा रहा है कि आमिर खान की बेटी इरा अपने हिन्दू नौकर के साथ भाग गई हैं। तस्वीर में इरा एक तिलक लगाए हुए युवक के साथ देखी जा सकती हैं।

‘अंकित शर्मा ने किया हिंसक भीड़ का नेतृत्व, ताहिर हुसैन कर रहा था खुद का बचाव’: ‘द लल्लनटॉप’ ने जमकर परोसा प्रोपेगेंडा

हमारे पास अंकित के परिवार के कुछ शब्द हैं, जिन्हें पढ़कर आज लगता है कि उन्हें पहले से पता था कि आखिर में न्याय तो मिलेगा नहीं लेकिन उसके बदले अंकित को दंगाई घोषित जरूर कर दिया जाएगा।

सतीश बनकर हिंदू युवती से शादी कर रहा था 2 बच्चों का बाप टीपू: मंडप पर नहीं बता सका गोत्र, ट्रू कॉलर ने पकड़ाया

ग्रामीणों ने जब सतीश राय बने हुए टीपू सुल्तान से उसके गोत्र के बारे में पूछा तो वह इसका जवाब नहीं दे पाया, चुप रह गया। ट्रू कॉलर ऐप में भी उसका नाम टीपू ही था।

UP पुलिस की गाड़ी में बैठने से साफ मुकर गया हाथरस में दंगे भड़काने की साजिश रचने वाला PFI सदस्य रऊफ शरीफ

PFI मेंबर रऊफ शरीफ ने मेडिकल जाँच कराने के लिए ले जा रही UP STF टीम से उनकी गाड़ी में बैठने से साफ मना कर दिया।

शैतान की आजादी के लिए पड़ोसी के दिल को आलू के साथ पकाया, खिलाने के बाद अंकल-ऑन्टी को भी बेरहमी से मारा

मृत पड़ोसी के दिल को लेकर एंडरसन अपने अंकल के घर गया जहाँ उसने इस दिल को पकाया। फिर अपने अंकल और उनकी पत्नी को इसे सर्व किया।

कला में दक्ष, युद्ध में महान, वीर और वीरांगनाएँ भी: कौन थे सिनौली के वो लोग, वेदों पर आधारित था जिनका साम्राज्य

वो कौन से योद्धा थे तो आज से 5000 वर्ष पूर्व भी उन्नत किस्म के रथों से चलते थे। कला में दक्ष, युद्ध में महान। वीरांगनाएँ पुरुषों से कम नहीं। रीति-रिवाज वैदिक। आइए, रहस्य में गोते लगाएँ।
- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

292,062FansLike
81,858FollowersFollow
392,000SubscribersSubscribe