Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाजपत्थरबाज़ों के बीच सुरक्षाबलों ने किया 3 आतंकियों को ढेर

पत्थरबाज़ों के बीच सुरक्षाबलों ने किया 3 आतंकियों को ढेर

राज्य के पूर्व पुलिस महानिदेशक शेष पॉल वैद ने कहा, “हिजबुल आतंकी का यह दुखद अंत है। शमसुल के आईपीएस भाई ने उसे मुख्यधारा में लाने की तमाम कोशिशें की थीं।”

जम्मू-कश्मीर के शोपियां में आतंकियों और सुरक्षाबलों के बीच हुई मुठभेड़ में (IPS) अधिकारी के भाई शमसुल समेत तीन आतंकियों को ढेर किया गया, जबकि मुठभेड़ के दौरान एक सैनिक भी घायल हो गया। पुलिस की मानें तो शेरमल गाँंव में चार से छह आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी, जिसके बाद इलाके मे सेना, सीआरपीएफ और जम्मू-कश्मीर पुलिस के जवानों द्वारा तलाशी अभियान शुरू किया गया। जिसमें आतंकियों ने जवानों पर फायरिंग की, जिसके बाद जवाबी फ़ायरिंग में तीनों आतंकियों को ढेर किया गया।

आतंकियों को बचाने फिर जुटे पत्थरबाज़

सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ के दौरान आतंकियों को बचाने के इरादे से एक बार फिर पत्थरबाज सक्रिय नज़र आए। पत्थरबाजों और सुरक्षाबलों के बीच करीब चार घंटे तक झड़प हुई जिसमें सुरक्षाबलों ने भीड़ पर काबू पाने के लिए आँसू गैस के गोले दागे और पैलेट गन का इस्तेमाल किया।

‘IPS भाई के समझाने पर भी नहीं सुधरा शमसुल’

सुरक्षा बलों ने द्रग्गुड गाँव के जिस आतंकी शमसुल को मारा है, उसके बड़े इनामुल हक़ मेंगनू 2012 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं। वो अभी पूर्वोत्तर भारत में तैनात हैं। शमसुल आतंकी गतिविधि में शामिल होने से पहले श्रीनगर के एक कॉलेज से यूनानी मेडिसीन में स्नातक की पढ़ाई कर रहा था। शमसुल के मारे जाने पर टिप्पणी करते हुए राज्य के पूर्व पुलिस महानिदेशक शेष पॉल वैद ने कहा, “हिजबुल आतंकी का यह दुखद अंत है। शमसुल के आईपीएस भाई ने उसे मुख्यधारा में लाने की तमाम कोशिशें की थीं।”

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

कारगिल के 22 साल: 16 की उम्र में सेना में हुए शामिल, 20 की उम्र में देश पर मर मिटे

सुनील जंग ने छलनी सीने के बावजूद युद्धभूमि में अपने हाथ से बंदूक नहीं गिरने दी और लगातार दुश्मनों पर वार करते रहे।

देवी की प्रतिमाओं पर सीमेन, साड़ियाँ उतार जला दी: तमिलनाडु के मंदिर का ताला तोड़ कर कुकृत्य

तमिलनाडु स्थित रानीपेट के एक मंदिर में हिन्दू घृणा का मामला सामने आया है। इससे पहले भी राज्य में मंदिरों पर हमले के कई...

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,222FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe