Monday, December 6, 2021
Homeदेश-समाजजैश के 3 OGW गिरफ्तार: घाटी में धमकी भरे पोस्टर जारी करना और लोगों...

जैश के 3 OGW गिरफ्तार: घाटी में धमकी भरे पोस्टर जारी करना और लोगों को धमकाना था काम

घाटी में अपने मंसूबों को नाकाम होते देख आतंकी संगठन अब अपने ओवरग्राउंड नेटवर्क के जरिए आम लोगों को डरा-धमका कर जबरन बंद करा रहे हैं। ओवरग्राउंड वर्कर अपने तंत्र के जरिए कई जगह युवकों को पथराव के लिए भी उकसा रहे हैं।

दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में स्थानीय लोगों को डराने-धमकाने और जैश-ए-मोहम्मद के धमकी भरे पोस्टर जारी करने के आरोप में तीन लोग गिरफ्तार किए गए हैं। इनकी पहचान शौकत अहमद मीर निवासी कदलबल पांपोर, इनायतुल्ला खान और शब्बीर अहमद रेशी के रूप में हुई है।

पुलिस ने बताया कि तीनों को जम्मू-श्रीनगर राष्ट्रीय राजमार्ग के पास अवंतीपोरा के लधु गाँव से गिरफ्तार किया गया था। तीनों ने स्वीकार किया कि वह पुलवामा, खिरयू, पांपोर, लडू इलाके में जबरन बंद कराने के लिए लोगों को धमकाते हैं।

कश्मीर ज़ोन पुलिस ने इसकी जानकारी देते हुए अपने आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर ट्वीट किया, “लधु में पुलिस ने स्थानीय लोगों को डराने और धमकाने में शामिल तीन लोगों को गिरफ्तार किया है। वे जैश-ए-मोहम्मद के धमकी भरे पोस्टर को सार्वजनिक रूप से जारी करने में शामिल थे।” पुलिस ने उनके पास से आतंकी संगठन के पोस्टर व अन्य आपत्तिजनक सामान बरामद कर मामला दर्ज कर लिया है। मामले की जाँच की जा रही है।

दैनिक जागरण में प्रकाशित खबर का स्क्रीनशॉट

कुछ मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, गिरफ्तार किए गए तीनों जैश-ए-मोहम्मद के ओवर ग्राउंड वर्कर (ओजीडब्ल्यू) हैं। दरअसल, वादी में अपने जिहादी एजेंडे को नाकाम होते देख आतंकी संगठन अब अपने ओवरग्राउंड नेटवर्क के जरिए आम लोगों को डरा-धमकाकर जबरन बंद करा रहे हैं। ओवरग्राउंड वर्कर अपने तंत्र के जरिए कई जगह युवकों को पथराव के लिए भी उकसा रहे हैं।

पुलिस महानिदेशक दिलबाग सिंह ने हाल ही में कहा कि पुलिस आतंकवादियों से नागरिकों को होने वाले खतरे के प्रति सचेत है और उनमें आत्मविश्वास बढ़ाने के प्रभावी उपाय किए गए हैं। आतंकी गतिविधियों को रोकने के लिए पूरी घाटी में अभियान चलाया गया है। उन्होंने कहा था, “हम लोगों के साथ हैं और वे हमारे साथ हैं। हम एक-दूसरे के हैं और खतरे के प्रति बहुत सचेत हैं और हम किसी तरह के खतरे को उनके पास नहीं आने देंगे। जो लोग धमकी दे रहे हैं, उनके खिलाफ कार्रवाई की जाएगी और आतंकवादी निष्प्रभावी हो जाएँगे।”

सिंह ने कहा कि पिछले एक महीने में घाटी में कई आतंकी मारे गए हैं। उनके मददगार रहे दो दर्जन से अधिक स्थानीय लोगों को गिरफ्तार किया गया है।। शनिवार को अधिकारियों ने बताया कि पुलिस ने दक्षिण कश्मीर के पुलवामा जिले में कई स्थानों पर छापे मारे थे। कठुआ से गिरफ्तार 3 आतंकियों से मिले सुराग के आधार पर जैश के ओवर ग्राउंड कार्यकर्ताओं को पकड़ा गया।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

‘मुस्लिम बाबरी विध्वंस को नहीं भूलेंगे, फिर से बनेगी मस्जिद’: केरल के स्कूल में बाँटा गया ‘मैं बाबरी हूँ’ का बैज

केरल के एक 'सेंट जॉर्ज स्कूल' की कुछ तस्वीरें भी सामने आई हैं, जिसमें एक SDPI कार्यकर्ता बच्चों की शर्ट पर बाबरी वाला बैज लगाता हुआ दिख रहा।

‘लड़ाई जीत ली, पर युद्ध जारी रहना चाहिए’: ISI सरगना और खालिस्तानी के साथ राकेश टिकैत का वीडियो कॉल, PM मोदी को कहा गया...

कथित किसान नेता राकेश टिकैत एक अंतरराष्ट्रीय वेबिनार का हिस्सा बने, जिसमें खालिस्तानी से लेकर ISI से जुड़े लोग भी शामिल हुए।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
141,998FollowersFollow
412,000SubscribersSubscribe