Saturday, May 18, 2024
Homeदेश-समाजतालाब में नहा रही थी ST महिला, सरफराज ने साथी के साथ मिलकर किया...

तालाब में नहा रही थी ST महिला, सरफराज ने साथी के साथ मिलकर किया रेप का प्रयास: शोर मचाने पर मुँह में हाथ डाल खींच दी जीभ

"हेमंत सोरेन ने अपने शासन में सिर्फ सरफराज अंसारी जैसे मनचलों की हिम्मत बढ़ाई है। पिछले साढ़े 4 सालों में झारखंड में झामुमो-कॉन्ग्रेस शासन के दौरान महिलाओं विशेषकर आदिवासी युवतियों के खिलाफ अपराध की घटनाओं में काफी वृद्धि आई है।"

झारखंड के जामताड़ा में एक जनजातीय समुदाय (Scheduled Tribes) की महिला के साथ रेप का प्रयास किया गया है। घटना के समय पीड़िता तालाब में नहा रही थी। रेप के प्रयास का आरोप मुस्लिम समुदाय के 2 युवकों पर लगा है। इनमें से एक की पहचान सरफराज अंसारी के तौर पर सामने आई है।

रिपोर्टों के अनुसार महिला ने जब जबर्दस्ती का विरोध करते हुए शोर मचाया तो आरोपितों ने उसकी जीभ खींच ली और उसे बेरहमी से पीटा। केस दर्ज कर पुलिस मामले की जाँच कर रही है। दोनों आरोपितों को हिरासत में ले लिया गया है। रविवार (12 मई 2024) की इस घटना से ST समुदाय में काफी नाराजगी है। भाजपा ने राज्य की झामुमो सरकार पर मनचलों को मनबढ़ करने का आरोप लगाया है।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना जामताड़ा के करमाटांड थाना क्षेत्र की है। रविवार को पीड़िता दोपहर 12 से 1 बजे के बीच तालाब में नहा रही थी। तभी लावाडीह गाँव का सरफराज अंसारी अपने एक साथी के साथ वहाँ पहुँचा। उसने पीड़िता को अकेला पा कर रेप करने की कोशिश की। पीड़िता ने आरोपितों की इस हरकत का विरोध किया और शोर मचाने लगी। इससे नाराज हो कर सरफराज और उसके साथी ने महिला की बेरहमी से पिटाई की। महिला की जमीन पर पटक कर उसके मुँह में हाथ डाल जीभ खींच दी।

पीड़िता के लगातार विरोध के चलते आरोपित धमकी देते हुए मौके से भाग निकले। पीड़िता सरफराज के पड़ोस के गाँव की है। महिला भागते हुए अपने गाँव पहुँची तो लोगों को सारी बात पता चली। जीभ खींचे जाने की वजह से पीड़िता ठीक से बोल नहीं पा रही है। मामले की जानकारी मिलते ही मौके पर पुलिस पहुँची। घटना के बाद दोनो आरोपित फरार हो गए थे लेकिन बाद में वे हिरासत में ले लिए गए।

इस घटना के बाद जनजातीय समुदाय में काफी आक्रोश है। भारतीय जनता पार्टी ने इस घटना को झारखंड की वर्तमान सरकार में लॉ एन्ड ऑर्डर की विफलता बताया है। पूर्व मुख्यमंत्री बाबूलाल मरांडी ने अपने X हैंडल पर लिखा, “हेमंत सोरेन ने अपने शासन में सिर्फ सरफराज अंसारी जैसे मनचलों की हिम्मत बढ़ाई है। पिछले साढ़े 4 सालों में झारखंड में झामुमो-कॉन्ग्रेस शासन के दौरान महिलाओं विशेषकर आदिवासी युवतियों के खिलाफ अपराध की घटनाओं में काफी वृद्धि आई है।”

मरांडी ने आगे लिखा कि आदिवासी युवतियों के साथ लव जिहाद, पेट्रोल डालकर जिंदा जलाने, गाड़ियों से कुचलकर मारने की घटनाएँ हो रही है, लेकिन राज्य सरकार इन मामलों में चुप्पी साधे रहती है। उन्होंने मुख्यमंत्री चम्पई सोरेन से पुलिस के विशेष बल का गठन कर आरोपितों पर कड़ी कार्रवाई की माँग की है। उन्होंने पीड़िता को शारीरिक और मानसिक दहशत में बताया है। बताया जाता है कि शुरुआत में इस मामले में FIR अज्ञात के खिलाफ दर्ज की गई थी। बाद में दोनों आरोपितों को हिरासत में लिया गया है। मामले में जाँच और अन्य कानूनी कार्रवाई की जा रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

जिसे वामपंथन रोमिला थापर ने ‘इस्लामी कला’ से जोड़ा, उस मंदिर को तोड़ इब्राहिम शर्की ने बनवाई थी मस्जिद: जानिए अटाला माता मंदिर लेने...

अटाला मस्जिद का निर्माण अटाला माता के मंदिर पर ही हुआ है। इसकी पुष्टि तमाम विद्वानों की पुस्तकें, मौजूदा सबूत भी करते हैं।

रोफिकुल इस्लाम जैसे दलाल कराते हैं भारत में घुसपैठ, फिर भारतीय रेल में सवार हो फैल जाते हैं बांग्लादेशी-रोहिंग्या: 16 महीने में अकेले त्रिपुरा...

त्रिपुरा के अगरतला रेलवे स्टेशन से फिर बांग्लादेशी घुसपैठिए पकड़े गए। ये ट्रेन में सवार होकर चेन्नई जाने की फिराक में थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -