Wednesday, June 19, 2024
Homeदेश-समाजCRPF जवान की पत्नी को कार मैकेनिक मुख्तार ने फाँसा, गला दबा कर दी...

CRPF जवान की पत्नी को कार मैकेनिक मुख्तार ने फाँसा, गला दबा कर दी हत्या: शव नाली में फेंका, कमरे से बियर केन और ग्लास बरामद

पुलिस को गीता की कॉल डिटेल में प्रॉपर्टी डीलर पुष्पेंद्र का भी नंबर मिला। उसकी बात मुख़्तार से कुछ देर पहले हुई थी। पुलिस ने पुष्पेंद्र को भी हिरासत लिया है।

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले में CRPF जवान की पत्नी की गला दबा कर हत्या कर दी गई है। हत्या के बाद महिला का शव नाले में डाल दिया गया। पुलिस ने इस मामले में 3 आरोपितों को गिरफ्तार कर के जेल भेज दिया है। घटना का मुख्य आरोपित मुख़्तार है। घटना के पीछे का कारण अवैध संबंध बताया जा रहा है। मृतका का नाम गीता देवी है। घटना की पुलिस में शिकायत 20 फ़रवरी (रविवार) को की गई थी।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक मृतका के पति का नाम इंद्रपाल है। वह कानपुर के पनकी क्षेत्र में रतनपुर कॉलोनी में परिवार के साथ रहता था। परिवार में उसकी लगभग 34 वर्षीया पत्नी गीता देवी 2 बच्चों सुशांक व सिद्धार्थ के साथ रहती थी। CRPF जवान इंद्रपाल की रविवार (20 फरवरी) को UP के मैनपुरी में चुनावी ड्यूटी लगी थी। इस दौरान उन्होंने अपनी पत्नी के मोबाइल पर कई कॉल किए लेकिन उधर से कोई जवाब नहीं आया। इंद्रपाल ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने मौके पर पहुँच कर जाँच की तो घर पर कोई नहीं मिला। घर के एक कमरे से बीयर के खाली केन, ग्लास के साथ कुछ अन्य सामान बरामद हुए।

अगले दिन 21 फरवरी को ड्यूटी से लौट कर इंद्रपाल ने पुलिस में अपनी बीवी की गायब होने की रिपोर्ट दर्ज करवाई। जाँच के दौरान पुलिस को गीता देवी की अंतिम बात कार रिपेयर करने वाले मुख़्तार से होना पाया गया। पुलिस ने मुख़्तार को हिरासत में लिया तो उसने गीता की हत्या करने की बात कबूल ली। मुख्तार ने पुलिस को जो पूरी बात बताई वो कुछ इस प्रकार से थी, “उसका गीता से शादी से पहले ही संबंध था। वह भी गीता के मायके रूरा जमालपुर का रहने वाला है। जब भी जवान इंद्रपाल ड्यूटी पर जाता था तब अक्सर मुख़्तार उसके घर आता था।”

मुख़्तार ने आगे बताया, “इस बीच गीता की बात एक प्रॉपर्टी डीलर पुष्पेंद्र सिंह से भी होने लगी थी। वह गंगागंज के रहने वाले थे। मुख़्तार को गीता का किसी और से बात करना पसंद नहीं था। इसलिए वो घटना की शाम गीता को कार में बिठा कर ले गया। बाद में उसने गला दबा कर गीता की हत्या कर दी। हत्या के बाद शव को कानपुर देहात के भाऊपुर मैथा के पास स्थित एक नाले में फेंक दिया।” यह शव पुलिस ने शुक्रवार (25 फरवरी) को बरामद कर लिया।

पुलिस को गीता की कॉल डिटेल में प्रॉपर्टी डीलर पुष्पेंद्र का भी नंबर मिला। उसकी बात मुख़्तार से कुछ देर पहले हुई थी। पुलिस ने पुष्पेंद्र को भी हिरासत लिया है। गीता के बेटों ने भी पुलिस से मुख़्तार और पुष्पेंद्र के बराबर घर आने की बात बताई। गीता के बेटों ने बताया कि उनकी माँ को साथ ले जाते समय मुख़्तार की कार में कुल 3 लोग सवार थे।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

14 फसलों पर MSP की बढ़ोतरी, पवन ऊर्जा परियोजना, वाराणसी एयरपोर्ट का विस्तार, पालघर का पोर्ट होगा दुनिया के टॉप 10 में: मोदी कैबिनेट...

पालघर के वधावन पोर्ट की क्षमता अब 298 मिलियन टन यूनिट की जाएगी। इससे भारत-मिडिल ईस्ट कॉरिडोर भी मजबूत होगा। 9 कंटेनर टर्मिनल होंगे।

किताब से बहती नदी, शरीर से उड़ते फूल और खून बना दूध… नालंदा की तबाही का दोष हिन्दुओं को देने वाले वामपंथी इतिहासकारों का...

बख्तियार खिजली को क्लीन-चिट देने के लिए और बौद्धों को सनातन से अलग दिखाने के लिए वामपंथी इतिहासकारों ने नालंदा विश्वविद्यालय को तबाह किए जाने का दोष हिन्दुओं पर ही मढ़ दिया। इसके लिए उन्होंने तिब्बत की एक किताब का सहारा लिया, जो इस घटना के 500 साल बाद लिखी गई थी और जिसमें चमत्कार भरे पड़े थे।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -