Thursday, April 18, 2024
Homeदेश-समाजकानपुर बना लव जिहाद का गढ़: आसिफ और लकी खान ने नाम बदले, प्यार...

कानपुर बना लव जिहाद का गढ़: आसिफ और लकी खान ने नाम बदले, प्यार के नाम पर हिंदू लड़कियों को फँसाकर इस्लाम कबूल करवाया

"रामादेवी पहुँचने पर हमें हमारी बेटी बदहाल स्थिति में मिली। उसके हाथ में मेंहंदी लगी थी। साथ ही गले में एक ताबीज बँधा हुआ था। बेटी ने उस वक्त अपनी आपबीती बताते हुए कहा कि उस पर जबरन इस्लाम कबूल करने का दबाव बनाया जा रहा है।"

कानपुर में इन दिनों कथित लव जिहाद का मामला तूल पकड़ रहा है। वहीं अब गोविंद नगर से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। रिपोर्ट के अनुसार जाजमऊ निवासी आसिफ शाह ने युवती को अपने प्रेम जाल में फँसाया और ब्रेनवाश कर जबरन उसको इस्लाम धर्म कबूलने पर मजबूर किया। परिजनों को उनकी बेटी चार दिन बाद खराब और मानसिक रूप से अस्थिर हालत में मिली है। पिता ने बताया उसका शारीरिक शोषण भी हुआ है।

वहीं एक और मामला कानपुर के बजरिया थाना क्षेत्र से सामने आया है। जहाँ लकी खान नाम के एक युवक ने अपना हिंदू नाम बता कर नाबालिक लड़की को अपने प्रेम जाल में फँसाया और उसकी अश्लील तस्वीरें ले कर इस्लाम धर्म कबूलने और निक़ाह करने के लिए युवती को ब्लैकमेल करने लगा।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार थाना गोविंदनगर पुलिस ने परिजनों की शिकायत पर आरोपित आसिफ शाह के खिलाफ धारा 366 (शादी के लिए युवती का अपहरण) तहत मुकदमा दर्ज किया। फिलहाल आरोपित फरार है। पुलिस मामले की जाँच पड़ताल और आसिफ की तलाश में जुट गई है।

पीड़िता के परिवार में 2 भाई और 2 बहन है। पिता एक वैन ड्राइवर है। पिता ने अपनी तहरीर में बताया कि डेढ़ महीने पहले लव जिहाद का शिकार हुई उसकी बेटी की दोस्ती आसिफ नाम के युवक से हुई थीं। आसिफ बारादेवी के पास स्थित एक ट्रांसपोर्ट में काम करता था जहाँ युवती कोचिंग पढ़ने जाती थी। धीरे-धीरे आसिफ युवती को अपने झाँसे में ले लिया। पिता ने बताया उन्हें 10 दिन पहले ही उन्हें आसिफ के बारे में पता चला है। जब उनकी बेटी कोचिंग के बाद घर नहीं लौटी और वे उसकी तलाश में जुटे थे। सच्चाई पता चलने के बाद उन्होंने शर्मिंदगी और समाज के डर से पुलिस में उसके खिलाफ एफआईआर दर्ज नहीं कराया था।

पीड़ता के पिता ने आगे बताया कि गुरुवार को उनकी बेटी का अचानक से उनके पास फ़ोन आया और उसने अपनी माँ को रामादेवी में मिलने के लिए कहा। बेटी की आवाज सुनकर ही उन्हें खतरे का आभास हो गया था। उन्होंने उसकी सुरक्षा को मद्देनजर रखते हुए पुलिस से पहले अंतरराष्ट्रीय हिंदू परिषद के प्रांतीय मंत्री रामजी तिवारी व बजरंग दल को इस मामले के बारे सूचित किया। और उनसे मदद माँगी। जिसके बाद सभी लोग मिल कर पीड़ित लड़की के बुलाए गए स्थान पर पहुँचे।

पिता ने कहा, “रामादेवी पहुँचने पर हमें हमारी बेटी बदहाल स्थिति में मिली। उसके हाथ में मेंहँदी लगी थी। साथ ही गले में एक ताबीज बँधा हुआ था। उसकी मानसिक स्थिति भी सही नहीं थी। बेटी ने उस वक्त अपनी आपबीती बताते हुए कहा कि उसपर जबरन इस्लाम धर्म कबूल करने का दबाव बनाया जा रहा है। इतना ही नहीं वे लोग तमाम जादू टोना, झाड़-फूँक का इस्तेमाल कर उसका धर्म परिवर्तित करने की कोशिश कर रहे थे।”

उस पर तमाम तरह से अत्याचार किया गया और एक कमरे में कैद कर दिया गया था। उसने यह भी कहा कि आसिफ के साथ उसका निक़ाह हो गया है। पिता ने अपनी शिकायत में आगे कहा कि बेटी ने उस दौरान उन्हें भी पहचानने से इनकार कर दिया था और सौतेला भी बताया था। पीड़िता बार-बार उल-जलूल बातें कर रही थी। उसका दिमाग उसके नियंत्रण में नहीं थी। उसे ये भी नहीं पता था कि वह क्या कह रही हैं। जिसके बाद पिता ने तुरंत उसके गले से ताबीज तोड़ कर फेंक दिया था। उसकी पास से एक पर्ची भी मिली थी। जिसमें उर्दू में कुछ लिखा हुआ था।

पिता ने बताया बेटी को वहाँ से वापस ले जाने के बाद भी आसिफ लगातार उसे फ़ोन करता था। आसिफ उसे धमकी देता था और वापस लौटने के लिए बोलता था। उसने यह भी कहा था कि कोई उसका कुछ नहीं बिगाड़ सकता। जिसके बाद परिवारवालों ने गोविंदनगर थाना पहुँच कर आरोपित की शिकायत की। एसपी ने इस मामले में युवती से पूछताछ की और मामला दर्ज किया गया। पिता ने आरोपित पर बहला फुसला कर भगाने और शारीरिक शोषण का आरोप लगाया है।

वहीं एसएसपी डॉ. प्रीतिंदर सिंह ने बताया कि मामला संज्ञान में आया है। लड़की के परिजनों की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर मामले की जाँच की जा रही है। युवती को मेडिकल परीक्षण के लिए भेजा जाएगा।

वहीं कानपुर के बजरिया लव जिहाद मामले में न्यूज़ 18 की रिपोर्ट के अनुसार, पीड़ित के परिजनों ने लकी खान के खिलाफ एफआईआर दर्ज करवाया है। जिसके अनुसार युवती एक मंदिर के बाहर फूल की दुकान लगाती थी। परिवार के सर पर पिता का साया नहीं है। परिवार की जिम्मेदारी लड़की के जिम्मे ही थी। इसी दौरान युवती की मुलाकात लकी खान नाम के युवक से हुई। उस समय उसने अपना पूरा नाम न बता कर सिर्फ लकी ही बताया था। वह नाबालिक लड़की को अपने झाँसे में लेने के लिए रोजाना 5-6 बार मंदिर जाने लगा। जिससे लड़की को इस बात का पता नहीं चला कि वह एक संप्रदाय विशेष से है।

माँ ने बताया कि लकी खान ने उसकी बेटी को नशीली दवाएँ पिला का अश्लील तस्वीरें ले ली है। जिसे वह निक़ाह नहीं करने पर सोशल मीडिया पर फैलाने की धमकी दे रहा है। वह चाहता है कि पीड़िता धर्म परिवर्तन करके उसके साथ रहे। मामले की सच्चाई सामने आने के बाद लड़की डरी सहमी है। उसे इस बात पर विश्वास ही नहीं हो रहा कि जिस लड़के से उसने हिंदू समझ के दोस्ती की वह असल में संप्रदाय विशेष से है। वहीं माँ का भी रो-रो कर बुरा हाल हो गया है।

लड़की की माँ के हवाले से न्यूज़ 18 की रिपोर्ट में बताया गया है कि उसने इस मामले में पहले सीसामऊ थाने पर दरोगा को शिकायत की थी। लेकिन उन्होंने उनकी शिकायत लेने से मना कर दिया था। जिसके बाद उन्होंने सीओ ऑफिस में अपनी बात रखी। सीओ ने तुरंत इस मामले को संज्ञान में लेते हुए आरोपित को पकड़ने का निर्देश दिया। जिसके बाद पुलिस ने लकी खान को गिरफ्तार कर लिया है।

गौरतलब है हाल ही में लव जिहाद का शिकार हुई शालिनी यादव से फिजा बनी युवती का मामला सामने आने के बाद कानपुर में हड़कंप मच गया था। जिसके बाद से ही आए दिन लव जिहाद के मामले सामने आ रहे है। शालिनी के भाई ने भी आरोप लगाया था कि इलाके में लव जिहाद का एक गैंग सक्रिय है। अब तक 5 लड़कियों को शिकार बनाया है इस गैंग ने। ये मासूम लड़कियों को बलि का बकरा बना के उन्हें इस्लाम धर्म कबूल करवाते है। और फिर निक़ाह करते है।

कानपुर में लव जिहाद के बढ़ते मामलों को देखते हुए आईजी मोहित अग्रवाल के आदेश पर एसआईटी गठित की है। एसपी साउथ दीपक ने इस मामले का कमान संभालते हुए एक टीम का गठन कर दिया है। एसआईटी द्वारा आरोपितों की एक-दूसरे से जुड़े होने की जाँच की जा रही है। पुलिस इस बात का भी पता लगाएगी की लव जिहाद फैलाने के लिए इस केस में बाहर से फंडिंग तो नहीं कि जा रही है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ममता बनर्जी ने भड़काया, इसलिए मुर्शिदाबाद में हिंदुओं पर हुई पत्थरबाजी: रामनवमी हिंसा की BJP ने की NIA जाँच की माँग, गवर्नर को लिखा...

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में रामनवमी पर हुई हिंसा को लेकर भाजपा नेता सुवेंदु अधिकारी ने चुनाव आयोग और राज्यपाल को पत्र लिखा है।

सुरक्षा परिषद का स्थायी सदस्य बने भारत: एलन मस्क की डिमांड को अमेरिका का समर्थन, कहा- UNSC में सुधार जरूरी

एलन मस्क द्वारा संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद में भारत की स्थायी सदस्यता की दावेदारी का समर्थन करने के बाद अमेरिका ने इसका समर्थन किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
282,677FollowersFollow
417,000SubscribersSubscribe