Monday, June 17, 2024
Homeदेश-समाजCAA-NRC विरोध: पीएम मोदी और अमित शाह को जान से मारने की धमकी देने...

CAA-NRC विरोध: पीएम मोदी और अमित शाह को जान से मारने की धमकी देने वाले अनवर, नियाज गिरफ्तार

पुलिस में दर्ज शिकायत के मुताबिक अनवर ने मैसेज के माध्यम से पीएम मोदी और अमित शाह को मारने की धमकी देते हुए कहा था कि सीएए और एनआरसी से मुस्लिम लोग प्रभावित हुए हैं।

सीएए और एनआरसी को लेकर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह को जान से मारने की धमकी दी गई थी। जिसके आरोप में अनवर और नियाज को बीते मंगलवार को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस में दर्ज शिकायत के मुताबिक अनवर ने मैसेज के माध्यम से पीएम मोदी और अमित शाह को मारने की धमकी देते हुए कहा था कि सीएए और एनआरसी से मुस्लिम लोग प्रभावित हुए हैं।

मीडिया रिपोर्ट के मुत़ाबिक एक आरोपित की पहचान अनवर के रूप में हुई है जो कि दक्षिणी कर्नाटक के पेरुवई का रहने वाला है। पुलिस ने बताया कि आरोपित अनवर ने क़तर में काम किया है। जिसने सीएए और एनआरसी के ख़िलाफ लोगों को भड़काने वाले संदेश ऑनलाईन माध्यमों से भेजे थे।

इतना ही नहीं अनवर ने व्हाट्सएप ग्रुपों में जाकर लोगों को सांप्रदायिक दंगों में ढकेलने के लिए ऑडियो मैसेज भी वायरल किए थे। वहीं दूसरे आरोपित की पहचान नियाज़ के रूप में हुई है। जो कि पुरवई क्षेत्र का ही निवासी है।
दस दिन पहले दोनों आरोपितों ने कथित तौर पर इस तरह के भड़काऊ संदेश भेजे थे और यहाँ तक ​​कि इन्होंने वामनजूर स्थित एक आरएसएस कार्यकर्ताओं से भी संपर्क किया था। साथ ही विदेश में काम करने वाले वामनजूर के युवाओं ने व्हाट्सएप पर संदेश भेजकर सीएए और एनआरसी का विरोध करने के लिए कहा था।

इस संबंध में यतीश नाम के व्यक्ति ने विट्टल थाने में एक शिकायत दर्ज कराई थी। शिकायत में बताया गया था कि सीएए और एनआरसी से मुस्लिमों के प्रभावित होने पर अनवर ने तथाकथित मोदी और अमित शाह को जान से मारने की धमकी दी थी। इसी बीच पुलिस को जानकारी मिली थी कि 6 जनवरी को अनवर अपने गृहनगर क्षेत्र में आया हुआ था जिसे पुलिस ने गिरफ़्तार कर लिया। वहीं नियाज के खिलाफ भी इस संबंध में पहले ही में मुकदमा दर्ज किया जा चुका है।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

ऋषिकेश AIIMS में भर्ती अपनी माँ से मिलने पहुँचे CM योगी आदित्यनाथ, रुद्रप्रयाग हादसे के पीड़ितों को भी नहीं भूले

उत्तराखंड के ऋषिकेश से करीब 50 किलोमीटर की दूरी पर स्थित यमकेश्वर प्रखंड का पंचूर गाँव में ही योगी आदित्यनाथ का जन्म हुआ था।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -