Tuesday, October 19, 2021
Homeदेश-समाजकर्नाटक: होटल स्टाफ पर थूकने, गाली-गलौज के आरोप में पुलिस ने सलीम को दबोचा,...

कर्नाटक: होटल स्टाफ पर थूकने, गाली-गलौज के आरोप में पुलिस ने सलीम को दबोचा, निकला हत्या आरोपित

सलीम ने एक होटल के पास जाकर उसके स्टाफ से खाना देने के लिए कहा। होटल स्टाफ ने ये कहते हुए इनकार कर दिया की होटल बंद हो चुका है। कर्मचारियों के इतना कहते ही सलीम उस पर भड़क उठा और उसके साथ गाली-गलौज करने लगा। इतना ही नहीं......

कोरोना संकट के बीच जगह-जगह से थूकने और उपद्रव की घटनाएँ सामने आ रही हैं। इसी तरह की एक घटना शुक्रवार (मई 15, 2020) को कर्नाटक से सामने आई। कर्नाटक के हुबली इलाके में एक शख्स को होटल स्टाफ के साथ बदतमीजी करने और थूकने के आरोप में हिरासत में लिया गया।

हालाँकि, जब पुलिस ने आरोपित शख्स सलीम बेल्लारी को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो एक नया ही खुलासा हुआ। दरअसल वह उपद्रवी सलीम हत्या आरोपित निकला।

कसाबपेट पुलिस ने बताया कि सलीम ने शुक्रवार शाम को शराब पी रखी थी। इसी अवस्था में भोजन की तलाश में बाहर निकला था। मगर लॉकडाउन के दिशा निर्देशों के मद्देनजर सभी होटल 7 बजे तक बंद हो गए थे।

इसके बावजूद सलीम ने एक होटल के पास जाकर उसके स्टाफ से खाना देने के लिए कहा। होटल स्टाफ ने ये कहते हुए इनकार कर दिया की होटल बंद हो चुका है। कर्मचारियों के इतना कहते ही सलीम उस पर भड़क उठा और उसके साथ गाली-गलौज करने लगा।

इतनी ही नहीं कथित तौर पर सलीम ने होटल के स्टाफ के ऊपर थूकने की भी कोशिश की। होटल के स्टाफ ने तुरंत इसकी जानकारी पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस ने मौके पर पहुँचकर सलीम को हिरासत में ले लिया

पुलिस को हत्या आरोपित सलीम बेल्लारी की तलाश नवंबर से थी। पुलिस ने बताया कि सलीम नवंबर में कलबुर्गी इलाके में हुए एक हत्याकांड का आरोपित है। जानकारी के मुताबिक उसने बेल पर बाहर आए कलबुर्गी के एक शख्स की हत्या की थी और फरार हो गया था। हत्या के बाद सलीम नेकर नगर में छिपा हुआ था। अब पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया है और आगे की जाँच की जा रही है।

बता दें कि कोरोना वायरस के प्रकोप के बीच थूकने के कई सारे मामले सामने आए हैं। पिछले दिनों तमिलनाडु के तिरुचिरापल्ली के महात्मा गाँधी मेमोरियल हॉस्पिटल के आइसोलेशन वार्ड में एक कोरोना संक्रमित मरीज ने नर्स के ऊपर थूक दिया था। उस पर केस दर्ज कर लिया गया था।

मामले पर पुलिस ने कहा था कि फिलहाल जिस तरह से कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने की कोशिश की जा रही है, ऐसे में इस तरह से किसी के ऊपर थूकना गंभीर अपराध की श्रेणी में आता है।

वहीं राजस्थान का एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें महिलाएँ पॉलिथीन में थूककर उसे लोगों के घरों में फेंकती नजर आ रही थी। सरकार ने सार्वजनिक स्थानों पर थूकने पर प्रतिबंध लगाया हुआ है। मगर बावजूद इसके यहाँँ लोग थूकने से बाज नहीं आ रहे।

 

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

धर्मांतरण कराने आए ईसाई समूह को ग्रामीणों ने बंधक बनाया, छत्तीसगढ़ की गवर्नर का CM को पत्र- जबरन धर्म परिवर्तन पर हो एक्शन

छत्तीसगढ़ के दुर्ग में ग्रामीणों ने ईसाई समुदाय के 45 से ज्यादा लोगों को बंधक बना लिया। यह समूह देर रात धर्मांतरण कराने के इरादे से पहुँचा था।

प्रतिकार का आरंभ: 8 महीने से सूरत में लाउडस्पीकर पर सुबह-शाम बजती है हनुमान चालीसा, सत्संग भी हर शनिवार

स्थानीयों का कहना कि अन्य मजहब के लोग प्रार्थना समय में लाउडस्पीकर का इस्तेमाल करते हैं और किसी भी उठने वाली आपत्ति का मजाक बनाकर उसे नीचा दिखाते हैं।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
129,980FollowersFollow
411,000SubscribersSubscribe