Monday, June 24, 2024
Homeदेश-समाज'हनुमान चालीसा' बजाने पर भीड़ ने दुकान में घुस मुकेश को पीटा, व्यापारियों के...

‘हनुमान चालीसा’ बजाने पर भीड़ ने दुकान में घुस मुकेश को पीटा, व्यापारियों के विरोध के बाद हुई FIR: कर्नाटक पुलिस ने सांप्रदायिक एंगल से किया इनकार

बताया जा रहा है कि रविवार की शाम लगभग 6 बजे मुकेश अपनी दुकान में म्यूजिक सिस्टम पर हनुमान चालीसा सुन रहे थे। इसी दौरान करीब आधा दर्जन युवक उनकी दुकान पर पहुँच गए। उन्होंने अजान का वक्त बताते हुए मुकेश से हुनमान चालीसा बंद करने को कहा।

कर्नाटक के बेंगलुरु में एक हिंदू दुकानदार की पिटाई का मामला सामने आया। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार मुकेश नाम का यह दुकानदार हनुमान चालीसा बजा रहा था। घटना रविवार (17 मार्च 2024) की है। व्यापारियों की एकजुटता के बाद पुलिस ने इस मामले में 6 के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर, 3 को गिरफ्तार किया है। पुलिस ने मामले में सांप्रदायिक एंगल को खारिज किया है।

कथित तौर पर ‘अजान’ के समय अपनी दुकान में ‘हनुमान चालीसा’ बजाने पर मुकेश की पिटाई की गई। इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक घटना बेंगलुरु के नगराथपेट इलाके की है। यहाँ सिद्दन्ना लेआउट के पास मुकेश की मोबाइल शॉप है।

बताया जा रहा है कि रविवार की शाम लगभग 6 बजे मुकेश अपनी दुकान में म्यूजिक सिस्टम पर हनुमान चालीसा सुन रहे थे। इसी दौरान करीब आधा दर्जन युवक उनकी दुकान पर पहुँच गए। उन्होंने अजान का वक्त बताते हुए मुकेश से हुनमान चालीसा बंद करने को कहा। मुकेश ने इससे इनकार किया तो दोनों पक्षों में बहस शुरू हो गई।

कथित तौर पर बहस के बाद इन लोगों ने मुकेश की पिटाई कर दी। यह लड़ाई दुकान से बाहर निकल कर सड़क तक पहुँच गई। झगड़े में मुकेश के कपड़े भी फट गए। इस घटना का वीडियो भी सोशल मीडिया पर तेजी से वायरल हो रहा है। वायरल वीडियो में हनुमान चालीसा बंद करवाने आए युवकों को आक्रामक अंदाज में हाथों के इशारे करते देखा जा सकता है।

मुकेश ने इस घटना की पुलिस में शिकायत दर्ज करवाई है। शिकायत में उन्होंने बताया है कि हमलावर अक्सर उनसे पैसे माँगा करते थे। पैसे देने से मना करने पर उन सभी ने बदला लेने की नीयत से हमला किया। पुलिस के अनुसार 6 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। इनमें से तीन को गिरफ्तार किया गया है। इनकी पहचान सुलेमान, शाहनवाज और रोहित के तौर पर बताई गई है। ऑपइंडिया को पुलिस ने बताया है कि इस घटना में कोई सांप्रदायिक वजह नहीं है। पीड़ित और आरोपित पहले से परिचित हैं।

एशियानेट की रिपोर्ट के अनुसार मुकेश को सिर में एक स्पीकर से मारा गया है, जिससे उन्हें चोटें आईं हैं। कथित तौर पर घटना के बाद पुलिस मुकेश की शिकायत पर FIR दर्ज करने से बच रही थी। लेकिन जब इसके विरोध में व्यापारी एकजुट हो थाने के आगे जमा हो गए तो पुलिस को केस दर्ज करनी पड़ी।

Special coverage by OpIndia on Ram Mandir in Ayodhya

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़
ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

किसानों के आंदोलन से तंग आ गए स्थानीय लोग: शंभू बॉर्डर खुलवाने पहुँची भीड़, अब गीदड़-भभकी दे रहे प्रदर्शनकारी

किसान नेताओं ने अंबाला शहर अनाज मंडी में मीडिया बुलाई, जिसमें साफ शब्दों में कहा कि आंदोलन खराब नहीं होना चाहिए। आंदोलन खराब करने वाला खुद भुगतेगा।

‘PM मोदी ने किया जी अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन का उद्घाटन, गिर गई उसकी दीवार’: News24 ने फेक न्यूज़ परोस कर डिलीट की ट्वीट,...

अयोध्या धाम रेलवे स्टेशन से जुड़े जिस दीवार के दिसंबर 2023 में बने होने का दावा किया जा रहा है, वो दावा पूरी तरह से गलत है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -