Friday, July 30, 2021
Homeदेश-समाजBJP से जुड़े तो वसीम बारी जैसा हश्र होगा : तहरीक-उल-मुजाहिद्दीन ने लगाए धमकी...

BJP से जुड़े तो वसीम बारी जैसा हश्र होगा : तहरीक-उल-मुजाहिद्दीन ने लगाए धमकी भरे पोस्टर

वसीम बारी और उनके भाई तथा पिता की हत्या करने वाले की पहचान आबिद हक्कानी के रूप में हुई है। वह बांदीपोरा पुलिस स्टेशन पर लगे एक सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ था।

आतंकी संगठन तहरीक-उल-मुजाहिदीन ने बीजेपी से जुड़ने वाले लोगों की हत्या करने की धमकी दी है। उत्तरी कश्मीर के बांदीपोरा में 8 जुलाई को भाजपा नेता वसीम बारी और उनके पिता तथा भाई की हत्या के बाद यह धमकी दी गई है।

दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार आतंकी संगठन ने धमकी भरे पोस्टर कई इलाकों में लगाए हैं। इसमें बीजेपी से जुड़े लोगों को पार्टी से नाता तोड़ने की चेतावनी दी गई है। ऐसा नहीं करने पर वसीम बारी जैसा हश्र करने की धमकी दी गई है।

तहरीक-उल-मुजाहिदीन के पर्चे (साभार: दैनिक जागरण)

इससे पहले वसीम बारी और उनके परिवार के सदस्यों की हत्या करने वाले आतंकवादी की सुरक्षा बलों द्वारा पहचान किए जाने की खबर सामने आई ​थी। मीडिया रिपोर्ट में बताया गया था कि आतंकी की पहचान आबिद हक्कानी के रूप में हुई है। वह बुधवार (जुलाई 8, 2020) रात 8:40 बजे बांदीपोरा पुलिस स्टेशन पर लगे एक सीसीटीवी कैमरे में कैद हुआ था।

बताया जाता है कि हक्कानी वाघा बॉर्डर के रास्ते पाकिस्तान गया था। वहाँ से ट्रेनिंग लेने के बाद वह भारत में घुस गया था।

जम्मू-कश्मीर के आईजी विजय कुमार ने कहा था कि भाजपा नेता की सुरक्षा में काेई कमी नहीं की गई थी। बारी काे 10 पीएसओ उपलब्ध कराए गए थे। इनमें से 2 सुरक्षा विंग और 8 जिला पुलिस के जवान थे। यह सुरक्षा में चूक का मामला है। सुरक्षाकर्मी चाैकस रहते ताे आतंकी मार गिराए जाते।

जम्मू-कश्मीर पुलिस ने सभी दस पुलिसकर्मियों को पूछताछ के लिए गिरफ्तार कर लिया गया है क्योंकि जब आतंकवादी बीजेपी नेता पर हमला कर रहे थे तो पुलिसकर्मी उनके आसपास नहीं थे। खबरों के मुताबिक, जब आतंकवादियों ने बीजेपी नेता पर गोलियाँ चलाई तो पुलिसकर्मी घर के अंदर थे।

आईजी विजय कुमार ने जानकारी देते हुए बताया, “उनके पास पर्याप्त सुरक्षा थी। ऑन ड्यूटी सुरक्षाकर्मियों से लापरवाही हुई। ड्यूटी पर मौजूद सभी 10 पुलिसकर्मियों को बर्खास्त कर दिया गया है। सीसीटीवी फुटेज को देखने पर ऐसा लग रहा है कि इस वारदात को पूरी योजना के तहत अंजाम दिया गया है।”

गौरतलब है कि जम्मू-कश्मीर के बांदीपोरा जिले में आतंकियों ने बुधवार (जुलाई 08, 2020) देर शाम भाजपा के जिलाध्यक्ष वसीम बारी की हत्या कर दी थी। आतंकवादियों ने वसीम बारी के अलावा उनके पिता और भाई की भी गोली मारकर हत्या कर दी गई। उमर भाजपा की जिला युवा इकाई का सदस्य थे, जबकि उनके पिता बशीर शेख भाजपा के जिला उपाध्यक्ष रह चुके थे।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

Tokyo Olympics: 3 में से 2 राउंड जीतकर भी हार गईं मैरीकॉम, क्या उनके साथ हुई बेईमानी? भड़के फैंस

मैरीकॉम का कहना है कि उन्हें पता ही नहीं था कि वह हार गई हैं। मैच होने के दो घंटे बाद जब उन्होंने सोशल मीडिया देखा तो पता चला कि वह हार गईं।

मीडिया पर फूटा शिल्पा शेट्टी का गुस्सा, फेसबुक-गूगल समेत 29 पर मानहानि केस: शर्लिन चोपड़ा को अग्रिम जमानत नहीं, माँ ने भी की शिकायत

शिल्पा शेट्टी ने छवि धूमिल करने का आरोप लगाते हुए 29 पत्रकारों और मीडिया संस्थानों के खिलाफ बॉम्बे हाईकोर्ट में मानहानि का केस किया है। सुनवाई शुक्रवार को।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,934FollowersFollow
394,000SubscribersSubscribe