Monday, July 26, 2021
Homeदेश-समाजजले व जख्म के 60 निशान, प्राइवेट पार्ट को भी नहीं छोड़ा... 5 साल...

जले व जख्म के 60 निशान, प्राइवेट पार्ट को भी नहीं छोड़ा… 5 साल की बच्ची से रेप और हत्या: सौतेला पिता एलेक्स गिरफ्तार

बच्ची के शरीर पर चोट व जख्म के 60 निशान थे। इनमें जले के निशान के अलावा चाकू गहरा धँसा कर काटने के निशान भी हैं। प्राइवेट पार्ट में भी जख्म थे। - ये सब किसी और ने नहीं बल्कि बच्ची के सौतेले पिता ने किया है।

केरल के सेंटर त्रावणकोर स्थित पतनमतिट्टा (Pathanamthitta) में सोमवार (अप्रैल 5, 2021) को 5 साल की एक बच्ची की मौत हो गई। शुरुआती ऑटोप्सी रिपोर्ट में कुछ भयावह खुलासे हुए हैं। पता चला है कि उसका यौन शोषण हुआ था और उसे प्रताड़ना भी दी गई थी। पुलिस ने बच्ची के 23 वर्षीय सौतेले पिता एलेक्स को गिरफ्तार किया है। बच्ची अपने परिवार के साथ पतनमतिट्टा के कुम्बझा इलाके में रहती थी।

5 साल की बच्ची के चहेरे और शरीर के अन्य हिस्सों में जख्म और जले के कई निशान मिले, यहाँ तक कि उसके प्राइवेट पार्ट्स में भी। इनमें से कुछ जख्म तो कई दिन पुराने हैं। आरोपित ने पुलिस को दिए अपने बयान में बताया है कि वो कई महीनों से अपनी सौतेली बेटी का यौन शोषण कर रहा था और उसे प्रताड़ित कर रहा था। कोट्टायम मेडिकल कॉलेज हॉस्पिटल में बच्ची का पोस्टमॉर्टम किया गया।

बच्ची के शरीर पर चोट व जख्म के 60 निशान थे। इनमें जले के निशान के अलावा चाकू गहरा धँसा कर काटने के निशान भी हैं। परिवार में बच्ची की माँ और दादी भी थी। परिवार मूल रूप से तमिलनाडु का रहने वाला है। वो लोग यहाँ किराए पर रह रहे थे। बच्ची की माँ घरेलू मजदूर है। सोमवार को दोपहर 2:30 बजे जब वो घर लौटी तो उसने अपनी बच्ची को बेहोश पड़ा हुआ देखा। उसका पति नशे में धुत बच्ची के बगल में ही सोया हुआ था।

जब उसने अपने पति से बच्ची के बारे में पूछा तो वो अचानक से हिंसक हो उठा और उसने महिला के साथ भी मारपीट शुरू कर दी। महिला ने पुलिस को दिए अपने बयान में ये सब बताया है। बच्ची को इसके बाद पड़ोसियों की मदद से एक नजदीकी क्लिनिक में ले जाया गया। इसके बाद उसे पतनमतिट्टा जनरल हॉस्पिटल लेकर जाया गया, जहाँ डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। सौतेले पिता की प्रताड़ना से बच्ची की छाती कुचली हुई थी, जिसे डॉक्टरों ने मौत की वजह बताया।

पड़ोसी की एक महिला ने कहा कि उसे बच्ची की दादी ने बताया कि पहले भी बच्ची की पिटाई की गई थी, जिसके बाद उसे 6 महीनों तक अस्पताल में रहना पड़ा था। परिवार को उसके इलाज में काफी रुपए खर्च करने पड़े थे। बच्ची की माँ ने भी कहा कि एलेक्स उसकी बेटी को नियमित रूप से प्रताड़ित करता था। आरोपित ने पुलिस स्टेशन से फरार होने की भी कोशिश की। वो मैरिजुआना से लेकर कई अन्य प्रकार के ड्रग्स का तस्कर भी है।

आरोपित नशे का आदी है। उसे अप्रैल 5, 2021 तक के लिए न्यायिक कस्टडी में भेज दिया गया है। वो तमिलनाडु लौटना चाहता था और इसीलिए महिला के साथ मारपीट करता था, क्योंकि उसकी पत्नी केरल में ही रहना चाहती थी। उसने गिरफ़्तारी के बाद हिंसक होकर पुलिस जीप के शीशे तोड़ डाले। लॉकअप में से भागने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने ग्रामीणों के साथ मिल कर उसे फिर धर-दबोचा।

जब उसे टॉयलेट ले जाया जा रहा था, तभी उसने हथकड़ी के साथ ही भागने की कोशिश की थी। उसके पास से ड्रग्स भी जब्त हुए हैं। पुलिस ने इस मामले में IPC की धारा-302 (हत्या) के साथ-साथ ‘यौन अपराधों से बच्चों का संरक्षण अधिनियम, 2012, (POCSO)’ की धारा 5(6) के तहत FIR दर्ज की है। साथ ही उसके खिलाफ ‘जुवेलिन जस्टिस एक्ट’ की धारा-75 (बच्चे के साथ क्रूरता) के तहत भी मामला दर्ज हुआ है।

  सहयोग करें  

एनडीटीवी हो या 'द वायर', इन्हें कभी पैसों की कमी नहीं होती। देश-विदेश से क्रांति के नाम पर ख़ूब फ़ंडिग मिलती है इन्हें। इनसे लड़ने के लिए हमारे हाथ मज़बूत करें। जितना बन सके, सहयोग करें

ऑपइंडिया स्टाफ़http://www.opindia.in
कार्यालय संवाददाता, ऑपइंडिया

संबंधित ख़बरें

ख़ास ख़बरें

यूपी के बेस्ट सीएम उम्मीदवार हैं योगी आदित्यनाथ, प्रियंका गाँधी सबसे फिसड्डी, 62% ने कहा ब्राह्मण भाजपा के साथ: सर्वे

इस सर्वे में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री बताया गया है, जबकि कॉन्ग्रेस की उत्तर प्रदेश प्रभारी प्रियंका गाँधी सबसे निचले पायदान पर रहीं।

असम को पसंद आया विकास का रास्ता, आंदोलन, आतंकवाद और हथियार को छोड़ आगे बढ़ा राज्य: गृहमंत्री अमित शाह

असम में दूसरी बार भाजपा की सरकार बनने का मतलब है कि असम ने आंदोलन, आतंकवाद और हथियार तीनों को हमेशा के लिए छोड़कर विकास के रास्ते पर जाना तय किया है।

प्रचलित ख़बरें

- विज्ञापन -

 

हमसे जुड़ें

295,307FansLike
111,226FollowersFollow
393,000SubscribersSubscribe